निशात शम्सी
Monday , December 22, 2008

सब खैरियत है...लेकिन हुआ क्या!


13 IBNKhabar

काफ़ी खुश था... अच्छी ख़बर की थी। मालेगांव धमाके मामले में अच्छी रिपोर्ट फाइल की थी सारे चैनल के रिपोर्टर फ़ोन कर प्रोत्साहित कर रहे थे। पूछ रहे थे यार बताया भी नहीं। ख़ासकर हमारे वरिष्ठ सहियोगी जय प्रकाश सिंह ने सबसे पहले कहा हमने लगा दी सबकी...गुड कीप इट अप! मैं मोबाइल देख रहा था पुछा क्या हुआ? सर मोबाइल चार्ज नहीं है, वो डांटने लगे गन्दी आदत है हमेशा चार्ज रखा करो। अगर कुछ हो गया तो घर वालों से कह तो सकते हो... सब खैरियत है..! और मैंने हमारी ओबी पर फ़ोन चार्ज पर लगा दिया। 9.40 बज चुके थे। घर के लिए निकल भी चुका था तब तक ख़बर आ चुकी थी कोलाबा इलाके में कोई बड़ा हादसा हुआ है तमाम पुलिस महकमा उधर की तरफ कूच कर रहा है। तत्काल मैंने अपने पहचान के पुलिस अधिकारी को फ़ोन घुमाया....

IBN7IBN7
IBN7IBN7

निशात शम्सी के बारे में कुछ और

IBN7IBN7

IBN7IBN7

पिछली पोस्ट

    आर्काइव्स

    IBN7IBN7