20 अक्टूबर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


दिल्‍ली गैंगरेप में नाबालिग की ‘काली करतूत’ की पूरी कहानी!

Updated Jan 04, 2013 at 15:06 pm IST |

 

04 जनवरी 2013
hindi.in.com

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

दिल्ली गैंगरेप केस में साकेत फास्ट ट्रैक कोर्ट में चार्जशीट पेश कर दी गई है। दिल्ली पुलिस ने पांच आरोपियों के खिलाफ ही चार्जशीट दाखिल की है। चार्जशीट पर कोर्ट 5 जनवरी को संज्ञान लेगा। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में आज 650 में से 33 पेज की चार्जशीट दाखिल की है। चार्जशीट में 16 दिसंबर की वारदात के बारे में विस्तार से लिखा गया है। इसमें उन्होंने बताया है कि किस तरह बस और आरोपियों की पहचान की गई और उन्हें गिरफ्तार किया गया। चार्जशीट में पुलिस ने ये भी बताया है कि खुद को नाबालिग बताने वाला ही दिल्‍ली गैंगरेप का सूत्रधार है। आइए आपको बताते हैं कि कानून की आड़ में सजा से बच निकलने की फिराक में बैठा 17 साल 9 महीने का ये नाबालिग 16 दिसंबर की उस रात को कैसे हैवान बन गया था। ये वो शख्‍स था, जिसने बाकी लोगों को उकसाया और छेड़छाड़ शुरू की और अब ये कानून की कमजोरी का फायदा उठाने की ताक में बैठा है। ध्‍यान रहे कि बलात्कार या कत्ल के मामलों में किसी नाबालिग को अधिकतम 3 साल की सजा हो सकती है और अगर उसकी उम्र 17 साल से अधिक और 18 से कम है तो उसे अधिकतम 2 साल तक बाल सुधार गृह भेजा जा सकता है।

16 दिसंबर की वो रात, टाइम 9. 45 मिनट

ये ही वो मनहूस तारीख थी और ये वो मनहूस पल था जब दामिनी अपने ब्‍वॉयफ्रेंड के साथ दिल्‍ली के मुनीरका से पालम के लिए उस चाटर्ड बस में बैठी थी। दामिनी और उसके दोस्‍त को आवाज लगाकर इसी नाबालिग ने बुलाया और बार-बार कहा आ जाओ हम आपको छोड़ देंगे। इसी हैवान के कहने पर वो दोनों बस में बैठ गए। 

इसी हैवान ने की थी छेड़छाड़ की शुरुआत  

दामिनी और उसका ब्‍वॉयफ्रेंड जब बस में सवार हो गए तो अक्षय नाम के इसी नाबालिग ने सबसे पहले लड़की के साथ छेड़छाड़ की शुरुआत की। अन्‍य पांचों आरोपियों को भी इसी ने उकसाया। साथियों से हिम्‍मत मिलने के बाद उसका का हौसला बढ़ गया और फिर वो बिना किसी डर के छेड़छाड़ करने लगा। जब लड़की के दोस्‍त ने विरोध किया तो मुख्‍य आरोपी राम सिंह और इसी हैवान ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी।

नाबालिग ने बर्बरता की सारी हदें लांघ दीं

एक बार झगड़ा शुरू हो गया तो फिर बात बढ़ती ही गई और इसी हैवान ने दामिनी के साथ दो बार बलात्‍कार किया। इतना ही नहीं उसे मारने पीटने में भी वो भी सबसे आगे था। लड़की को दोस्‍त को भी इसी ने मारा। पुलिस सूत्रों का कहना है कि 23 साल की बहादुर लड़की को चलती बस में सामूहिक बलात्कार और फिर लोहे की जंग लगी रॉड से यौन शोषण और टॉर्चर करने में ये नाबालिग ही सबसे आगे था। इसी ने बर्बरता की सारी हदें लांघीं। सूत्रों का साफ कहना है कि ये वो इंसान है जो भले ही नाबालिग भले ही है, लेकिन उसने काम राक्षसों का किया। लड़की को टॉर्चर करने का सबसे जघन्य अपराध उसके सिर है।

दामिनी को मौत के मुंह तक पहुंचाया

सूत्रों का तो यहां तक दावा है कि इस बहादुर लड़की की मौत का सबसे बड़ा जिम्मेदार ये नाबालिग लड़का ही है। सूत्रों के मुताबिक जांच में पुलिस को पता चला है कि खुद को नाबालिग बताने वाले इस लड़के ने गैंगरेप के दौरान बहादुर लड़की पर बेतरह जुल्म ढाए। सूत्रों का कहना है कि इस लड़के ने ही दो बार बड़ी बेरहमी से लड़की से बलात्कार किया। उसकी वहशियाना हरकतों की वजह से ही छात्रा की आंतें तक बाहर आ गईं थीं। ये बहादुर लड़की जूझ रही थी, बचने के लिए आरोपियों को दांत से काट रही थी, लात मार रही थी, लेकिन शायद उसने भी इस बात की कल्पना नहीं की थी कि लोहे की जंग लगी रॉड के इस्तेमाल से उसके साथ भयानक टॉर्चर होगा। लड़की की आंतों को भारी नुकसान पहुंचने की वजह से ही उसकी हालत इस कदर बिगड़ी कि उसके कई ऑपरेशन करने पड़े। डॉक्टरों को उसकी आंतें ही काटकर बाहर निकालनी पड़ीं।

नाबालिग को पकड़ने में छूट गए थे पुलिस के पसीने

दिल्‍ली गैंगरेप की खबर आते ही दिल्‍ली पुलिस ने बेहद तेजी दिखाते हुए धड़ाधड़ पांचों आरोपियों को पकड़ लिया था, लेकिन छठा आरोपी अक्षय ठाकुर उसके हाथ नहीं लगा। बिहार समेत कई जगहों पर उसकी तलाश में छापे मारे गए। आखिरकार कई दिनों के बाद पुलिस को सफलता हाथ लगी और छठे आरोपी को उसने बिहार के औरंगाबाद से गिरफ्तार किया। पुलिस ने इसे 21 दिसंबर को गिरफ्तार किया था।

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 5 वोट मिले

पाठकों की राय | 04 Jan 2013

Jul 20, 2013

असली इंसाफ़ तो तब होगा जब ये सरे आम फासी हो सरकार तो गूंगी बाहरी है पता नही कब होगा

vijay banglore

Jun 03, 2013

Ko 6ka bna do

Aazad jabalpur

Apr 15, 2013

ये जो अपने आप को नाबालिग होने इस दावा कर के बचना चाह रहा है इस रं.. की औलाद को जिंदा जला देना चाहिए और इसकी भूनी हुई लाश को गली के आवाराकुत्टो को खिला देना चाहिए

rajan delhi

Mar 11, 2013

=ab aise hawano ko fashi ki saja nhi milegi tab tak aise logo ki himat bhadhti rhegi""balki yeh kahu gorvent ko aise krne walo fassi ki saja ka rule kr dena chahiye

reena bhiwani

Feb 07, 2013

All the six must be hanged openly in public

k.khan sultan pur [U.P.]

Feb 07, 2013

दिल्ली गैंग रेप का छठा आरोपी राजमोहम्मद है.

dr nirupama varma ETAH

Feb 07, 2013

इन सब को सारे आम फासी पे लटका देना चाए

chandan aukland newzialand

Feb 07, 2013

अगर फाँसी नही हुई तो ऐसे आरोपियों के होसले बुलंद हो जाएँगे. हमरी सरकार को इन आरोपियों को फाँसी की सज़ा देनी पड़िगई ख़ासतोर पर उस नाबालिक कहने वाले जानवर को.

rashmi new delhi

Feb 06, 2013

मैं उन सभी आरोपी को भूखे शेरो के हवाले करना चाहता हू नही तो उन शैतानो को खोलता तेल मे डाल दिया जाए

Sumit bisht mew Delhi

Feb 05, 2013

मुझे तो ये बताओ केसे पता लगा की सभी कम नाबालिग ने किए बाकी पाँच किया कर रहे थे उनको तो लटकाओ

gajendra jaiswal mandsaur mp

Feb 04, 2013

मारो को वो भी सारे आम

JAY MUMBAI

Feb 03, 2013

Hang the rapists. But this teenage boy should be given as terrific punishment that after this incident any boy can never think of doing rape with a girl

MUSKAN AMRITSAR

Feb 03, 2013

En 06 admiyo ko yon karke ladki se bhi jyada ghayal karke aur ling kat kar fansi deni chahiy.

devender sharma surat

Feb 02, 2013

THIS MAN MUST BE HANG TILL DEATH.

Rahul Kumar KOLKATA

Feb 02, 2013

english

e e

Feb 02, 2013

Mai to bolunga ki agar usko goverment saja nahi degi to us kamine ko mai marunga aise logo ko desh me rahana nahi chahiya

virendra Mumbai

Jan 31, 2013

दोस्तों इसके साथ भी बैसे ही यौन शोषण करो जैसे उसने उस लडंकी के साथ जंग लगी राड से किया. बस फर्क सिर्फ इतना कि इसके कम से कम 8 इंच मोटी राड से इनका यौन शोषण करो तो इसको पता चलेगा कि उसका दर्द क्या होता है. और अब तक तो लगभग ब्यस्क होने बाता हो कुछ ही दिन तो शेष है.

ratan verma allahabad

Jan 31, 2013

नाबालिग़ .आयु से नही बल्कि करमो से माना जाएगा / हद दर्जे की कमीना. कमिनात की सज़ा मौत दी जाए तो ही ऐसे घिनोने अपराध करने वाले की दारींडगी का सही हश्र मालूम होगा नही तो छ्होटे छ्होटे बच्चे ऐसे कारनामे करने के लिए बेकोफ़ हो जाएँगे /क़ानून का दायरा समय पैस्तीति और वाइकीए की . ता से तय होना चाहिए नकी 4-6 महीने की आयु की कमी दरिंदे को फ़ायदा पहुँचाए ये बिल्कुल ठीक नही होगा /..

Durga Prasad Gwalior

Jan 30, 2013

राय देने से क्या क़ानून पेर आशर परता है याफ़ीर लोगो की भावना देखते हो बत्ती मोम लेकेर रोड परघूमने से क्या मिला कोठडारी बच्चो वाला केश अभी सब जिंदा है राय ना देकेर तुम्हे ही मारना आशण है प्लीज़राय ना . .

surendra ku mar bajpai kanpur

Jan 30, 2013

ऐसे राक्षस को तडपा-तडपा कर मार डालना चाहिए. उसे छोड़ना जुर्म को बढ़ावा देना होगा अगर ऐसे लोगो को सज़ा नही मिलता है तो नाबालिग के आड़ मे बलात्कार और हत्या जैसे जुर्म होते रहेंगे

pranay kumar das bilaspur, chhattisgarh

Jan 29, 2013

नाबालिग़ .आयु से नही बल्कि करमो से माना जाएगा / हद दर्जे की कमीना.लौंडा कमिनात की सज़ा मौत दी जाए तो ही ऐसे घिनोने अपराध करने वाले की दारींडगी का सही हश्र मालूम होगा नही तो छ्होटे छ्होटे बच्चे ऐसे कारनामे करने के लिए बेकोफ़ हो जाएँगे /क़ानून का दायरा समय पैस्तीति और वाइकीए की . ता से तय होना चाहिए नकी 4-6 महीने की आयु की कमी दरिंदे को फ़ायदा पहुँचाए ये बिल्कुल ठीक नही होगा /

P C Jain Ujjain

Jan 29, 2013

Is nabalig ko barf pe llita kar repe karana chahiye wo bhi asi ke parivar ke samne phir ise 6 pagal ke sath hath par bandh kar \

surender new delhi

Jan 29, 2013

Nabalik nahi he o nabalik hota yah sab nahi karta aaj use nabalik bolkar chod dena us ladki ki sabse badi haar hogi.Aaj use choda to kal aur koi paida hoga. Uske liye jo bi saja di jaygi o kam hogi.Ab kanun ko bhi badlna hoga.

DEEPAK JADHAV NAVI MUMBAI

Jan 29, 2013

Un 6 logo ko to fasi se kam saja nae hone chahey kya hamare maneny judge sahab ko dikhae nae daita k usne us masoom k sath kya kiya us bechari ke kya galti the....................Aise darendo ko khula choda to ladkiya ghar se bahar b nae nikal paenge.Agar kisi bade admi ke beti k sath hua hota to ab tak fasi ho gae hoti. Agar un logo ko fasi nae hue to janta vishwas kanoon se hamesha k liye uth jaega

kirti saxena jhansi

Jan 28, 2013

Mere anusar un sabhi ko napunsak kar ke chor dena chahiye .Taki jab bhi koi dekhe to kahe ki dekho ye huaa hia insaf rape karne ka. Agar aisha hota hai to rape karne wale ek bar jarur sochenge ke meri bhihalat aishi ho sakti hai . Thats it.

Deepak sah hariyana gurgoan

Jan 27, 2013

मेरा मानना है कि भारतीय क़ानून सभी बलात्कारियों को सज़ा नही दे पाएगा.

Rajesh Naithani Lucknow

Jan 26, 2013

Apne desh mein bhi muslim law lagu kar dena chahiye balatkari ko beech raste par khada kar janta ko patthar se marne dena dena chahiye.Yakeen jano dobara phir koi aisa galat karne ka sochega bhi nahi.

md. ubed khan chhindwara

Jan 25, 2013

Nabalik ne kam to baliko vala kiya to saja bhi baliko vali dena chahiye

rohit more barwani

Jan 25, 2013

उनको फाँसी से ब बड़ी स्जा दी जानी चाईए. त्बी देश का सुधार सभाव ह

komal ambala

Jan 25, 2013

इतनी आशानी से मुक्ति मत देना न्ही तो ये घटना जल्दी ही ख़तम हो जायगी मेरा यही कहना है कि जो घिनोना काम एन लोगो .किया इससे भी बॅड . सज़ा मिलनी .

ranjit delhi

Jan 24, 2013

फासी दी जाय

ashok barmer

Jan 24, 2013

Sabhi aaropi ko saja ka sab se last step jo ho wo milna chahiye.Isme koi raham nahi karna chahiye nahi to sab ka housla or majbut ho jayega.Or jo bhi saja ho wo delhi me hi hona chahiye kyoki ye kand delhi ka hai umesh kumar(new area nawada)(bihar)

Umesh Kumar Nawada

Jan 24, 2013

Sandeep kaur ( jalandhar) in sab ko ek hi sza milni chahiye agar bo nabalik tha to use kujh pta nhi hona chahiye tha na ki pta use to sab se pehle sza deni chahiye fansi ki bo bhi sab k samne ta ki age se koi bhi esi harkat krne se pehle 1000 bar soch le.In 6 logo ko jald se jald fansi ki sza di jaye kisi k sath koi reham na kiya jaye

sandeep kaur jalandhar

Jan 23, 2013

हैवान को नाबालिग कहकर छोड़ना नही चाहियेऽगर क़ानून कुछ नही करसकती है तो उसे जनता के हवाले करो.सबसे अच्चया उपाए यही है की उसे जनता के हवाले करो जनता जिस तरह चाहे सज़ा दे

gautam balvir Pulgaon Dist wardha Maharashtra

Jan 23, 2013

In sabhi ko ek hi sajja milni chahiya or bo hai moat........

cb mishra allahabad

Jan 23, 2013

Aise kamono ko gay bna kr chhode diya kyoki socaity me aise hamari dusri bahno , ma ,beti ko habas ka sikar bna kr unki life impassive kr dete . . Aur jo congress goverment" hai na vo action kyo nhi leti hai .. Kyoki , abhi tak hamari sabki bahin t;damini ko justicts nhi mila hai .. I want to justict

AJAY KUMAR KANPUR

Jan 23, 2013

इस त्रह सूझा देने से कुश नही होगा किओं के काईओं जी ने उसकी पहचान के लए फोटो माँगी थी | मिली के नही कुश पता नही |उसकी पहचान `के बाद ही कुश सोचा जा सकता है यहाँ ना तो क़ानून कुश करेगा और ना ही हम |ऐसा काम तो सुपारी ले/दे कर ही हो सकता है |

kuldip kumar Ludhiana

Jan 23, 2013

.Jis tarah kisi balig ne agar koi gunah kiya ho to use is baat ki saja di jati hai ki wo sabkuch jankar ye gunah kiya hai agar koi kisi balig ko jankar gunah karne ki saja di ja sakti hai to us nablig ko kiyon saja nahi di ja sakti jo apni nabalig hone ki sari simaon ko paar kar diya ho aur jo balig kar sakta hai us se bhi jiyada ghinaunai harkat ki ho to us saitan ko to puri ki puri saja milni chahiye.

aryan khan nepal

Jan 22, 2013

In sabhi ko ek hi sajja milni chahiya or bo hai moat.

kulwant singh delhi

Jan 22, 2013

सभी को सजाए मौत देना चाहिए नाबालिक भी पूरा अपराधी है.

shashikant bhilai

Jan 22, 2013

सबको म्रितु दंड मिलेगा , अगर कोर्ट छोर भी दे तो बाहर 6 का इंतेज़ार जनता कर रहे .

arun jamshedpur

Jan 22, 2013

Inko saja kab milegi ,tab-jab ese kai or ghunaah ho jaenge,,inko saja dekar ek mishaal kayam karni chahiye..

lalit dehli

Jan 22, 2013

in logo ko maut ki saja deni chahiye

shiva rajpoot madhogarh

Jan 21, 2013

Vo saja pane ke liye nabalik hai lekin gunah karne ke liye nahi. Dekh kar hairani hoti hai ki ek nabalik bhi aisi ghinauni harkat kar sakta hai .Ise to vo maut milni chahiye jise dekh kar sabki ruh kaap jaaye sirf fansi se kaam nahi chalega

priya mumbai

Jan 20, 2013

In logo ko india gate k pass fasi par latakar ek missal kayam kare aur aag kise ko aisa himmat nahi hoga is traha ka kam nahi kar sake sahil hussain khan

Sahil Hussain Khan gaya

Jan 19, 2013

उसहैवान को नाबालिग कहकर छोड़ना नही चाहियेऽगर क़ानून कुछ नही करसकती है तो उसे जनता के हवाले करो मोत की सज

praveen mandsor

Jan 19, 2013

इन सभी को जनता के हवाले कर दे या उनके लिंग काट कर आवारा कुतो के बीच मैं छ्चोड़ देना ही उचित है.

Surendra Kumar Nigam Raipur

Jan 19, 2013

इस नाबालिक को पहले उसकी उँगुली .. डालो फिर हाथ फिर पेर

jitendra ghazipur

Jan 19, 2013

इन लोगो को नपुंसक बनाकर हाथ पेर काटकर इनके सर पर बलात्कारी लिख कर जनता के सामने जीने के लिये छोड़ देना चाहिए|

Rajesh Saraf Maheshwar

Jan 18, 2013

Just kill them they havent right to live more!

dk delhi

Jan 18, 2013

उस हैवान को नाबालिग कहकर छोड़ना नही चाहियेऽगर क़ानून कुछ नही कर सकती है तो उसे जनता के हवाले करो. सबसे अच्चया उपाए यही है की उसे जनता के हवाले करो जनता जिस तरह चाहे सज़ा दे सब इंडियन भाइयो और बहानो उस हैवान को नाबालिग कहकर क़ानून छोड़ ना दे

rekha new delhi

Jan 18, 2013

Dust paapi ko maar daalo saja dene se kuch nai hoga.

xyz xyz

Jan 18, 2013

Aisa kam sirf muslim hi kar sakta. Wo ladka muslim hai. Sabko fasi jaldi hona.

subhash nanded

Jan 17, 2013

Sabhi ke upar hot acid me dal dena chaheye jisse koi aur mai ka lal aisa karne se pahle 100 nahi 1000 bar soche.Shyam kumar vermakushinager [u.P.]

SHYAM KUMAR VERMA KUSHINAGER [U.P.]

Jan 17, 2013

. . . .

they must be hanged....

Roshan delhi

Jan 16, 2013

petrol dal kar aag ke hawale kar do aise insan ko.

gagan gurgaon

Jan 16, 2013

आरोपियों को नपुंसक बना कर ,एक हाथ काटकर उम्र भर की सज़ा देनी चाहिए

Harish Ingle Nagpur

Jan 16, 2013

Itni badi hevaniyat karne ke baad bhi agar usko saja na mili to ase log jyada prerit hoge ke asa kharab aprad karke bhi chut jayege, to ase logo ko kadi se kadi saja milni chahiye

sunil ahmedabad

Jan 16, 2013

Shame

fazal sant ravidas nagar bhadohi

Jan 15, 2013

इस नाबालिग को तो अप्पहिज करके चोरहे पर खड़ा कर दे

RAM NARESH GUPTA JAIPUR

Jan 15, 2013

ऐसे इंसानो को तो मौत बी कम पड़ेगी ऐसे इंसानो को तो तडपा तडपा कर मारना चाहिए अबी तक तो इन सबको इतना तड़पाना था की ये खुद मौत माँगते इनको बी उतना ही टॉर्चर क्राना चिए जितना इन्होने लड़की के साथ किया

RAHUL INDORE

Jan 15, 2013

Unhe to aisi saja milni chahiye taki dupara koee aisi galti na kre.............

Pooja Raipur

Jan 15, 2013

दोनो हाथ और दोनो पेर काटकर जिंदा छोड़ देना छाईए ताकि तड़प तड़प कर मरे ताकि हजार बार मरेजबलपुर

tamendra jabalpur

Jan 15, 2013

अगर ये घिनोना काम देश के किसी मंत्री, प्रधान मंत्री, विधायक अथवा किसी आधिकारी की बेटी के साथ हुआ होता तो उसे देश की नययपालिका क्या सज़ा देती?देश के क़ानून मे बदलाव की बात करने वाले सकडो नेता जो आज संसद मे बैठे है उनमे सकैदो बलात्कारी है, बड़े दुख की बात है के देश की नययपालिका आज तक उन्हे कोई सज़ा नही दे पाई .और ये ही बलात्कारी देश की बागडोर संभाले हुए है, ये तो वोही बात हुए के जलेबियो की रखवाली पे कुत्ते बैठे है ? अब देखने वाली बात ये है के गोपाल कॅंडा जैसे लोगो को जैल मे वेरी इंपॉर्टेंट पर्सन ट्रीटमेंट देने वाली सरकार और देश की नययपालिका अन्य बालिग और नाबालिग दोषियो को कब तक सज़ा देती है ?

saurabh faridabad

Jan 15, 2013

नाबालिग जब income-tax return file कर सकता है. Tax saving के हथकण्डे अपना सकता है, तो जुर्म करने पर सज़ा पाने का अधिकारी भी होना चाहिए.Minor को नोकरी पर रखने पर बस मालिक व परिवहन विभाग. के खिलाफ श्रम विभाग को कार्यवाही करनी चाहिए. अफ़सोस इस बात का है की देश मे बालिका वधू के साथ पति द्वारा किया गया sex जायज़ है किंतु नाबालिग को सुधरने की मोहलत देकर छोड़ दिया जाता है. लेकिन उस नाबालिग के अपराध की प्रकति को देखकर फाँसी की सज़ा भी कम है.

VIKAS SAINI Jaipur

Jan 15, 2013

इन सभी ब्लात्कारियों को रेप करवाना चाहिए | उसके पश्चात इनको ज़हरीले सापों के बीच छोड देना चाहिए और फिर चील या कुत्तों को खाने के लिए छोड़ देना चाहिए |

kumar noida

Jan 14, 2013

बालिग नाबालिग कोइबी हो क़ानून सब के लिए एक हो बारह साल का लरका जवान हो जाता है सॅक्स कर सकता है

ramesh chhabria nagpurmaharastra

Jan 14, 2013

कहते है के लोहे को लोहा काटता है |इसी त्रह इसको भी नबाल्ग इस का गाएँग रीप करे | तो उस पर नाबल्ग का क़ानून लागू होगा |जनता उसका बाल भी बांका नही होहे देगी |एक बार किसी किसान की किसी कला कर से दोस्ती हो गई |कहने लगे के भी आप मेरे लिए किया किया कुर्बानी कर सकते हो | तो कलाकार कहना लगा के ज़मीन बच डू आसमान बेच दूं ,तेरे लिए सारा जहाँ बेच दूं तो किसान कहने लगा ले भाई अब मेरे पास किया बचा है और कहने लगा के मझ ( भेंस) बेच डू गये बेच डू ,तेरे लए सारा जहाँ बेच दूं हम सब सब पथक एक कला कार की त्रह ही है हमे किसान की त्रह कुर्बानी करनी चाहिए |

kuldip kumar Ludhiana

Jan 14, 2013

सभी ब्लातकारियों के ऊपर साड़ों से रेप करवाना चाहिए, फिर ज़हरीले सापों के साथ इनको छोड देना चाहिए |

kumar noida

Jan 14, 2013

Kill Him.... Dats it : (

Naveen Delhi

Jan 14, 2013

इन्होने जो दामिनी के साथ किया वही इन सब के साथ होना चहेये ताकि इन्हे भी उसी दर्द का एहसास हो

rakesh delhi

Jan 13, 2013

आरोपियों को नपुंसक बना कर ,एक हाथ काटकर उम्र भर की सज़ा देनी चाहिए

jyoti gurgaon

Jan 13, 2013

Itna krur kaam karne wala nabalig nahi hota jo ladka [usne jo kam kiya ] ese kam karta he or karne ki mjankari rakhta he wah bhala nabalig kaise ho sakta he ,

sanjay dewas

Jan 12, 2013

को फांशी दे दो. जिन्दा रहा तो और गंदगी फेलयग.कमिना की औलद.इस की करतूत पढ़ कर रोंगटे खड़े हो गये्ए प्रभू केसे केसे जिवो का निर्माण किया है आपने.

rsp srt

Jan 12, 2013

इन पिल्लो को सरे आम काट कर फेंक देना चाहिए ..

surender delhi

Jan 12, 2013

उमर का जुर्म से कोई लेना देना नही होता अगर वो इतनी कम उमर मैं इतना ख़तरनाक है तो बाद मैं वो और भी जालिम इंसान बनेगा अगर मैं उसे सज़ा दे सकता तो मैं उसका पता चलता की इज़्ज़त खोना और दर्द सहना क्या होता है ऐसे लोगो के घरो मैं उनकी खुद की मा बहन भी उनसे महफूज नही रह पति होगी यह घर समाज और दुनिया मैं रहने लायक नही है यह समाज की वो गंदगी है जिसे ऐसे तरपा कर मारना होगा की कवि कोई दूसरी ऐसे गंदगी जानम ही ना ले पाए......

abcd nagpur

Jan 12, 2013

इस साले के कारनामे सुनकर मेरे तो रोंगटे खड़े हो गये हे सबसे पहले इस साले को तडपा तडपा के मरो अगर कुच्छ नही होता तो इस साले को तालिबान के हवाले कर दो ये कुत्ता हे राक्षस हे सूव्वेर हे मे इस साले को मारकर फाँसी पर चढ़ने को भी तय्यार हू निकलने दो इसे

sardar khan vijayawada a.p

Jan 11, 2013

अछय को भी डाल दो

rupesh saharsa

Jan 11, 2013

Aise insan ko to mout se bhi kdi sja deni chahiye wo nabalig h to kya hua use kam saja dekar chodna gunaho ko badawa dena h agar use kdi saja nhi di gai to sabhi nabalig manmani karege isliye kanon ko kade kadam uthane chahiye nye kanon bna kar is nabalig ko sja deni chahiye

jimmy jhon Bhopal

Jan 10, 2013

इस को कड़ी सज़ा मिलीं चाहिए

jagdish prasad agra

Jan 09, 2013

जिसका दिमाग़ इतना सातीर हो वो नाबालीग कैसे हो सकता है अगर वो बिना किसी कठोर सज़ा के रिहा हो जाता है तो सबसेबड़ा नाबालिग इस देश का क़ानून होगा

nageshwar pandey ahmedabad

Jan 08, 2013

Fansi ni ise goli mardo ni to humare paas bhej doni delhi k janta k hawale kar do

sunny shaan new delhi

Jan 08, 2013

Ase ensan ko bich chorahe par goli mardena chahiye ushke bhi ghar me behan hoga agr uske shath yahi suluk karta to ushe achha lagata ese fasi honi chahiye

RISHI RAJ CHAUHAN BIHAR

Jan 08, 2013

कानून की कमज़ोरी से यह व्यक्ति जिसने घोर पाप औरघिनोना अपराध किया है ,बचना नहीं चाहिए, मेरी व्याकिगत राय है कि म्र्यत्यु दंड से कम किसी हालत में इस दरिंदे को नहीं मिलना चाहिए.

ESSPEE NEW DELHI

Jan 08, 2013

जान से मार दो या मुझे दो इस को ऐसी मौत दो गा की पूरी दुनिया के लोग के लिए निसनी हो गी

ABDUL MUMBAI

Jan 08, 2013

Agar fasi nahi ho sakti to uske aante bi ushi tarah se nikal do jaise usne nikali

psr delhi

Jan 08, 2013

किसी सामान्य अपराध के लिए भले ही नाबालिग होने की बात क़ानूनी रूप से देखी जा सके , मगर इस का अपराध राक्षशो से भी बढ़कर है तो फिर नाबालिग होने ना होने का कोई अर्थ नही. ये सिर्फ़ इक राक्षस है और इसकी सज़ा सिर्फ़ मौत है| सरकार समय खराब कर जनता के सब्र की परीक्षा ना ले, इन सब को तुरंत मौत की सज़ा दे |

Ranbir singh jodhpur

Jan 08, 2013

जिसे नाबलिक कहा जा रहा है उसे फॉसी की सजा ही देनी चाहीए !उसे जिंदा रहनेका कोई हक नही है !

Pradeep Tirlotkar Mumbai

Jan 08, 2013

नाबालिक को तो सबसे ज़्यादा सज़ा मिलनी चाहिए . वह तो जिंदा जलाने का कम किया है .तो फिर आप लोग उसको नाबालिक क्यो मानते है .उसका कर्म ही राक्षस का था . तो फिर उसको सज़ा देने मे कमी क्यो हो रहा .

DEEPAK KUMAR SINGH ARA INDIA

Jan 07, 2013

नव्वलीग का नाम मोहम्मद अफ़रोज़ है अक्षय ठाकुर नही.. अपनी ग़लती सुधारो..विकिपीडिया चेक करो..

NKP DELHI

Jan 07, 2013

इस नाबालिग को नही छ्चोड़ना चाहिए सबसे पहले तो इसी को सज़ा मिलने चाहिए. इसको नंगा करके सारे शरीर को ज़ख्मी करके फिर उस पर नमक च्चिड़क कर कर कंकड़ों मैं घसीतो ओर कोडे बरसाते रहो कम कम से कम जब तक ये काम करो जब तक मार ना जाए ये भी उसी तरह तड़पना चाहये जिस तारह वो टॅडॅपी थी तभी उसकी आत्माओं को शांति मिलेगी. अगर इसको छ्चोड़ दिया गया तो कोई भी अपने आपको सुरक्षित ना समझे ओर सारे नाबालिग यही समझेंगे की होना कुच्छा नही है जो मान करे वो करो हमारा कोई क्या कर सकता हैचौधरी शशिपाल सिंगराष्ट्रीय राजधानीभारत माता की जय

Shashipal Singh New Delhi

Jan 07, 2013

ऐसे लोगो को किसी बड़े ग्राउंड में नंगा कर के तडपा तडपा कर सभी लोगो के सामने मारना चाहिए. और टीवी पर लाइव दिखना चाहिए

PRADEEP SHARMA NEW DELHI

Jan 07, 2013

नाबालिग कहकर सज़ा कम नहीं होना चाहिए. पहले उसको नंगा करो. फिर उसके लिंग पर तीन कील ठोको. उसके आँखों में गरम लोहे की छड़ डालो. गरम उस्तरे से उसका सिर ग़ज़ा करो. आख़िर में उसको बकरे की तरह हलाल करके जान से मार दो. मरने के बाद उसे चील-कौवे को खाने के लिए किसी सुनसान जगह पर फेंक देना चाहिए. भारत माता के ज़मीन पर सभी 6 दरिंदों को अंतिम संस्कार नसीब नहीं होना चाहिए.

PREETI GAARGAON

Jan 06, 2013

उमर का जुर्म से कोई लेना देना नही होता अगर वो इतनी कम उमर मैं इतना ख़तरनाक है तो बाद मैं वो और भी जालिम इंसान बनेगा अगर मैं उसे सज़ा दे सकता तो मैं उसका पता चलता की इज़्ज़त खोना और दर्द सहना क्या होता है ऐसे लोगो के घरो मैं उनकी खुद की मा बहन भी उनसे महफूज नही रह पति होगी यह घर समाज और दुनिया मैं रहने लायक नही है यह समाज की वो गंदगी है जिसे ऐसे तरपा कर मारना होगा की कवि कोई दूसरी ऐसे गंदगी जानम ही ना ले पाए......

Devender.Singh.Baghel Palwal

Jan 06, 2013

यदि अक्षय ठाकुर को नाबालिग समझ कर छोड़ दिया गया तो उसके जैसा कोई भी नाबालिग हैवान किसी भी अपराध को पशूता के साथ करता एवं कराता रहेगा और क़ानून मुक़दर्शक बना देखता रह जाएगा इसलिए उसका मृत्यु दंड पाना शेष सभी 5 अपराधियो की तरह ही निहायत ज़रूरी है

devbrat varanasi

Jan 06, 2013

उस लड़की के दोस्त ने कहा था की वो लड़की चाहती है की इन्हे कॅपिटल पनिशमेंट नही मिलनी चाहिए इन्हे जला कर मारना तो ये उस बेहन को सबसे बड़ी शारधांजलि होगी अग्र उसकी आखरी इचा पूरी की जाए चाहे ये नाबालिक हो चाहे कोई भी.............जे नारी

pawan chandigarh

Jan 06, 2013

सभी आरोपीओ को फासी की सजा होनी चाहिए,,,,,,,,,,मनोज कुमार गोरखपुर

manoj kumar gorakhpur

Jan 06, 2013

मीडिया वालो को खुद को पता नही है की नाबालिग का नाम क्या है कही कहते है अक्ष्य ठाकुर कही नाम ही नही है परिवर्तित नाम राजू बता रहे है, कही लिखा हुवा है ये शादी सुदा बाल बच्चे वाला है, असलियत क्या है भगवान ही जाने, फिर भी जो भी हो इन्होने जो अपराध किया है वो माफी लायक नही है इन्हे कठोर से कठोर सज़ा मिलनी ही चाहिए,एक तो इनको खाना रोजाना क्यो दिया जा रहा है 3 दिन मे एक बार खाना दो, पढ़ा है की सारे के सारे खाने मे सबसे आगे रहते है, इनकी दरिंदग्गी ने पूरे देश को शर्मसार कर दिया है,इन्हे एसी सज़ा मिलनी चाहिए की आगे से किसी की हिम्मत ना हो एसा काम करने की, जे हिंद

J.S. RATHORE FARIDABAD

Jan 06, 2013

त्या बदमसाला फासी दया

asture om `nanded

Jan 06, 2013

उसने अगर इतना घिनौना जुर्म किया है तो उसे कड़ी से कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए

DEEPAK RAI AZAMGARH

Jan 06, 2013

साधारण चोरी जो करता है उसे मान सकते हैं की नाबालिग है . छोड़ दो लेकिन ये क्या - देश की क़ानून बेहूदा जैसा हर कुच्छ लाँघ गई है.नाबालिग़ होने क़ा कहना तक पोलीस को मालूम है , क्या किसी पोलीस वाले ने उसे जन्म दिया था जो नाबालिग कह कर छोडना चाहते है या किसी राजनीतिक दल ने उसे पैदा किया था जो उसके बारे में छोड़ने की बात करते .की नाबालिग है उसे सज़ा कम से कम हो सकता है. मज़ा लूटने में तो मज़ा आता है क्यूँ की किसी नेता के बहन बेटियों केसाथ बालत्कर नही होता है ये नेता तो खुद किसी के बेटी बहन के साथ बालत्करकरते हैं इनको क्या गम है.बालात्कारि नेते बालात्कारी को कैसे सज़ा देगा .सारे देश के नेता सारे पोलीस सारे क़ानून मिलकर इस कातिल को बाचने के फ़िराग में हैं- ये सब झूठ का ढोंग रच रहे हैं .इतने बेरहमिसे मारे जाने पर भी भारत सरकार के पास कोई क़ानून नही है, मेरे हिसाब से ये तो साधारण सी बात है की इन लोगो को जनता के हाथो सोप दो तो देखो बालतकार करने का हिसाब कैसे चूक जाएगा .औरहर बालातकार करने वालों को भी मालूम हो जाएगा की बालातकार करने से क्या हो साकता है .इसका क़ानून कोई नही बना सकता है इसका सिर्फ़ एक ही उपाय है जनता का हाथ.

Binod Kolkata

Jan 05, 2013

नाबालिग की हरकतें सुन कर तो नही लगता की वो नाबालिग है, यदि है भी तो उसे निश्चीत तौर तौर पर फाँसी होनी चाहिए, क्यों की यदि वो क़ानून की कमी से छूट भी गया तो आगे चल कर और ज़्यादा हैवानियत दिखाएगा.

sanjay sinha Patna

Jan 05, 2013

उसे मौत देना

santosh guwahati

Jan 05, 2013

नाबालिग कहकर सज़ा कम नहीं होना चाहिए. पहले उस सुअर को नंगा करो. फिर उसके लिंग पर तीन कील ठोको. उसके आँखों में गरम लोहे की छड़ डालो. गरम उस्तरे से उसका सिर ग़ज़ा करो. जंग लगे लोहे का राड उसको पीछे से घुसा दो. आख़िर में उसको बकरे की तरह हलाल करके जान से मार दो. मरने के बाद उसे चील-कौवे को खाने के लिए किसी सुनसान जगह पर फेंक देना चाहिए. भारत माता के ज़मीन पर सभी 6 दरिंदों को अंतिम संस्कार नसीब नहीं होना चाहिए.

mk das bhopal

Jan 05, 2013

अगर अक्षय ठाकुर नाबालिग है तो उसके घर जाकर के पता करो. न्यूज़ मे तो ये पढ़ने को मिला है की उसका शादी भी हो चुका है और उसके एक बचे भी है. जो औरंगाबाद मे ही रहते है. फिर वो नाबालिग कैसे हुआ.

Kailash Rai Patna, Bihar

Jan 05, 2013

जो किसी की इज़्ज़त को तार-तार कर सकता है उसे नाबालिग कह कर छूट देना कहाँ का इंसाफ़ है कैसा क़ानून है यह

girija kulshreshth gwalior

Jan 04, 2013

Tit for tat ,i think , he is not below 18, their medically checkup should be must, deffinetly he will above 18, his parents really cultured they will be punist to him like bycut.Never accept in family member.Everybody knows when we become a young.Anywhere in india or world should not be given employment or no roti,kapara aur makan to them . It should be imprisonement in dark room upto alive. It is my opinion for the all rapist of the worid..

L.B.Singh Raipur (CG)

Jan 04, 2013

हम सब के दिल की आग ठंडी नही होगी क्यू की इस वहशी दरिंदों के लिए फांसी बढ़ी सजा नहीं हो सकती है। इन्हें तो ऐसी सजा मिलनी चाहिए कि जीते जी मौत भी मांगेंं तो वो भी न मिल सके। यदि क़ानून नही तो भारतीय जनता के लिए एक चुनोती बन गई की इन वहशी दरिंदों सज़ा दे .

ram raj udaipur

Jan 04, 2013

Aise ldko ko ankautr milna chahiy jise uske maa bhan nhi hai kya kisi ke maa ya bhan chahega use hi utha ke rape karega hi aise ldko ko sidha akaunar karna chahiyaise aaropeeo ko skh se skh phasi di jay tbhi ja ke india kuch sudhar ayega mei bhi ek ladka hu jaise apni maa bhan vese hi dusre ki maa bhan hai

ashok kumar chodhriy mirzapur

Jan 04, 2013

उसकी कही उम्र 17 वर्ष 9 माह 18 वर्ष से 3 माह कम है. मतलब ऑलमोस्ट वयस्क ( क़ानून मे एक्सेप्षन हर पॉइंट पे मिलेगा) इसलिए ये कमीना बस्टर्ड भी बायास्क मानकर घिनोनी सज़ा का हकदार है. ऑर्डर ऑर्डर ऑर्डर

RAVI INDORE

Jan 04, 2013

ये लड़का नाबालिग नही हो सकता. मेरी राय में पुलिस केस को कमजोर करने के लिए मुख्या भूमिका नाबालिग पर दल रही है.

MKDAS BHOPAL

Jan 04, 2013

इस सुअर सरिया डालो फिर फासी दो

ajit singh fbd

Jan 04, 2013

चाहे ओ नाबालिक हो चाहे बालिक उसके साथ पहले रेप करना चाहिए एसके बाद उसके लिंग पेर भी लोहे की रोड से मारना चाहिए फिर उसे मृत्युदंड देना चाहिए, उसे माफी नही फासी देनी चाहिए .

SATYA Prakash Tiwari Deharadun

Jan 04, 2013

उमर का जुर्म से कोई लेना देना नही होता अगर वो इतनी कम उमर मैं इतना ख़तरनाक है तो बाद मैं वो और भी जालिम इंसान बनेगाअगर मैं उसे सज़ा दे सकता तो मैं उसका पता चलता की इज़्ज़त खोना और दर्द सहना क्या होता है ऐसे लोगो के घरो मैं उनकी खुद की मा बहन भी उनसे महफूज नही रह पति होगी यह घर समाज और दुनिया मैं रहने लायक नही है यह समाज की वो गंदगी है जिसे ऐसे तरपा कर मारना होगा की कवि कोई दूसरी ऐसे गंदगी जानम ही ना ले पाए ..............

gAUTAM DELHI

Jan 04, 2013

उसे स्जा ज़रूर मिलनी चाहिए ओर सजाम उसके आत को भी उसके पेट आधा निकलना चाहिए उसे भी इस दर्द का एहसास होना चाहिए की उस लड़की पर क्या बीती होगी इतना घिनोना जुर्म करनेके बाद अब नाबालिक बन रहा हे उसे जरूर सज़ा मिलनी छाःईज़ँआbआळीख बोलकर उसका जुर्म माफ़ नही किया जा सकता....

VANITA KAUSHAL BOISAR(TARAPUR)

Jan 04, 2013

बिहार के तो सभी भैय नाबालिग ही होते है , इसने उस बेचारी लड़की का दो बार बलात्कार किया , इसे तो फाँसी भी दो बार ही होनी चाहिए !

abhay delhi

Jan 04, 2013

इन वहशी दरिंदों के लिए फांसी बढ़ी सजा नहीं हो सकती है। इन्हें तो ऐसी सजा मिलनी चाहिए कि जीते जी मौत भी मांगेंं तो वो भी न मिल सके। दीप जोशी, हल्द्वानी।

deep joshi haldwani

Jan 04, 2013

अगर लड़का नाबालिग है तो क्या हुआ उसे फिर भी सज़ा मिलनी ही चाहिए और सबसे कड़ी सज़ा मिलनी चैहीए जो के एक उदाहरण बन सके के बालिग नाबालिग से कोई फरक नहीं पड़ता अगर उसने घिनोना जुर्मा किया है तो कड़ी सज़ा निश्चित है|अमनदीप सिंघ

Amandeep Singh New Delhi

Jan 04, 2013

How can someone be so cruel.

sachin Mumbai

Jan 04, 2013

नाबालिग है उससे क्या हुआ. अपराध तो घिनौना ही है. और ऐसी अपराध के लिए तो फाँसी ही सबसे बड़ी स्जा है. चाहे वो कही का भी हो उत्तर प्रदेश का हो या राजस्थान का हो या उत्त्तराखंड का हो. अपराध करने वेल की कोई जाती धर्म और स्टेट नही होता. अपराधी तो अपराधी होता है और वो भी ऐसी घिनौनी. नाबालिग है या बालिग सबको फाँसी दे दो. ताकि आयेज से ऐसा करने का कोई सोच भी ना पाए.

Kailash Rai Patna, Bihar

Jan 04, 2013

इसे तो लोग सज़ा देगे. इसे लोगो के बीच छोड़ दो............

gundhar delhi

Jan 04, 2013

उसकी जन्म ता. का सही पता उसके गाओ जहा इसने जन्म लिया कोतवार या नगर पालिका से पता करना चाहिए.....? ये अपनी उम्र छ्होपा रहा है!

S.K.Rai Gadarwara (M.P ) Gadarwara

Jan 04, 2013

आप लोग नाबालिग आरोपी का नाम ग़लत बता र्हें...

Love Indore

Jan 04, 2013

इसे कभी नही छोड़ना चाहिए केयो की ये नाबालिक है लेकिन साथ मे ये बहुँट ही घिनोइना कम किया है.

S. K. Singh Delhi

Jan 04, 2013

ये नाबालिग तो बालीगो का भी बाप हे/ इसे माफ़ नही किया जाना चाहिए/

N.K.Tiwari Ujjain (M.p.)

Jan 04, 2013

नाबालिग का नाम मोहम्मद अफ़रोज़ उर्फ राजू है जो की बिहार का है. आप लोग भी क्यों उसका नाम छुउपा रहे हो ?

Ravi Delhi

Jan 04, 2013

उसहैवान को नाबालिग कहकर छोड़ना नही चाहियेऽगर क़ानून कुछ नही करसकती है तो उसे जनता के हवाले करो.सबसे अच्चया उपाए यही है की उसे जनता के हवाले करो जनता जिस तरह चाहे सज़ा दे सब इंडियन भाइयो और बहानो उस हैवान को नाबालिग कहकर क़ानून छोड़ ना दे

Ishwor Manandhar Boulder, USA


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.