20 अक्टूबर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


2nd ODI: लो, घर में धुले धोनी के धुरंधर

Updated Jan 03, 2013 at 19:04 pm IST |

 

03 जनवरी 2013
वार्ता

मैच का पूरा स्कोरकार्ड देखें

कोलकाता।शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के निहायत गैर जिम्मेदाराना और शर्मनाक प्रदर्शन से भारत को चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ यहां ईडन गार्डेन में दूसरे एकदिवसीय मैच में 85 रन की करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा। पाकिस्तान ने इस जीत के साथ ही तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अपराजेय बढ़त बना ली और पांच साल बाद भारत दौरे को अपने लिए यादगार बना लिया।

जडेजा की मेहनत पर बल्लेबाजों ने पानी फेरा

भारतीय गेंदबाजों रवीन्द्र जडेजा और ईशांत शर्मा ने तीन-तीन विकेट लेकर पाकिस्तान को ओपनर नासिर जमशेद (106) के लगातार दूसरे शतक के बावजूद 48.3 ओवर में 250 रन पर निपटा दिया था, लेकिन भारतीय बल्लेबाज एक बार फिर पाकिस्तानी तेज और स्पिन आक्रमण के सामने घुटने टेक गए।

ईडन पर पाक का अजेय रिकॉर्ड बरकरार

भारतीय टीम 48 ओवर में 165 रन पर सिमट गयी और पाकिस्तान ने इस तरह ईडन गार्डेन में भारत के खिलाफ अपना अपराजेय रिकॉर्ड बरकरार रखते हुए चौथा मैच भी जीत लिया।

धोनी का एकतरफा संघर्ष

कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने एकतरफा संघर्ष करते हुए 89 गेंदों में चार चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 54 रन बनाए, लेकिन चोटी के बल्लेबाजों के गैर जिम्मेदाराना प्रदर्शन ने टीम इंडिया को देश के सामने फिर शर्मसार कर दिया। ओपनर गौतम गंभीर 11, वीरेन्द्र सहवाग 31, विराट कोहली 6, युवराज सिंह 9 और सुरेश रैना 18 रन बनाकर आउट हुए।

इस शर्मनाक प्रदर्शन ने एक बार फिर शीर्ष भारतीय क्रम की स्तरीय गेंदबाजी के सामने कलई खोल कर दी है। तेज गेंदबाजों जुनैद खान और उमर गुल ने भारत के शीर्ष क्रम को ध्वस्त किया जबकि ऑफ स्पिनर सईद अजमल ने निचले क्रम को निपटा दिया।

अच्छी शुरुआत के बाद टीम बिखरी

भारत को हालांकि सहवाग और गंभीर ने पहले विकेट के लिए 9.5 ओवर में 42 रन जोड़कर अच्छी शुरुआत दी, लेकिन दोनों बल्लेबाज इस दौरान बराबर संघर्ष करते रहे। गंभीर आखिर 11 रन बनाने के बाद जुनैद की गेंद को स्टंप्स पर खेल गए। विराट कोहली फिर फ्लॉप रहे और जुनैद की गेंद को लेग साइड में खेलने की कोशिश में विकेटकीपर कामरान अकमल को कैच थमा बैठे।

गुल ने सहवाग को पगबाधा किया। क्रीज पर टिके रहने के लिए संघर्ष कर रहे सहवाग ने 43 गेंदों की पारी में तीन चौकों की मदद से 31 रन बनाए। युवराज ने गुल की उठती गेंद पर विकेटकीपर को कैच थमाया। रैना ऑफ स्पिनर मोहम्मद हफीज की गेंद पर स्टंप हो गए। भारत के पांच बल्लेबाज 95 रन तक पवेलियन लौट चुके थे।

रविचंद्रन अश्विन तीन रन बनाकर शोएब मलिक की गेंद पर स्टंप हो गए। अजमल ने एक ही ओवर में जडेजा (13) को जुनैद के हाथों कैच कराया और फिर भुवनेश्वर कुमार और अशोक डिंडा को शून्य पर पगबाधा कर दिया। भारत का स्कोर छह विकेट पर 131 रन से अचानक ही नौ विकेट पर 132 रन हो गया।

धोनी ने दिखाया टिकने का जज्बा

धोनी ने विकेट पर टिके रहकर शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों को यह दिखाया कि टिकने का जज्बा क्या होता है। उन्होंने पाकिस्तान की जीत के इंतजार को लंबा किया। जुनैद ने आखिर ईशांत (2) को बोल्ड कर भारतीय पारी 48 ओवर में 165 रन पर समेट दी। इस जीत के साथ ही पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने एक-दूसरे को गले लगा लिया।

पाकिस्तान की तरफ से अजमल ने 20 रन पर तीन विकेट, जुनैद ने 39 रन पर तीन विकेट, गुल ने 24 रन पर दो विकेट, हफीज ने 29 रन पर एक विकेट और मलिक ने तीन रन पर एक विकेट लिया।

इससे पहले जडेजा (41 रन पर तीन विकेट) और ईशांत (34 रन पर तीन विकेट) की सधी हुई गेंदबाजी से भारत ने पाकिस्तान पर अंकुश लगाते हुए उसे 250 के स्कोर पर थाम लिया था, लेकिन बल्लेबाजों ने गेंदबाजों की मेहनत पर पानी फेर दिया।

जडेजा की स्पिन ने पलट दिया कोलकाता मैच

पाकिस्तानी टीम नासिर जमशेद (106) के सीरीज के लगातार दूसरे शतक और मोहम्मद हफीज (76) के साथ उनकी 141 रन की बड़ी ओपनिंग साझेदारी की मदद से बड़े स्कोर की तरफ अग्रसर नजर आ रही थी, लेकिन बाएं हाथ के स्पिनर जडेजा ने इन दोनों बल्लेबाजों सहित तीन विकेट लेकर पाकिस्तानी टीम पर अंकुश लगाया और ईशांत ने स्लाग ओवरों में बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए पाकिस्तान को 48.3 ओवरों में 250 रन पर समेट दिया। पाकिस्तान का यही स्कोर भारत के लिए अंततः बड़ा साबित हुआ।

ईशांत ने 49वें ओवर में तीन गेंदों में उमर गुल और मोहम्मद इरफान को बोल्ड कर दिया। ईशांत ने 34 रन पर तीन विकेट लिए। एक समय पाकिस्तानी टीम 300 से ज्यादा स्कोर की तरफ बढ़ती दिखाई दे रही थी, लेकिन मध्य ओवरों में भारतीय गेंदबाजों ने शानदार वापसी करते हुए पाकिस्तान को बड़ा स्कोर नहीं बनाने दिया।

पाकिस्तान ने एक समय 24वें ओवर तक बिना कोई विकेट खोए 141 रन बना लिए थे, लेकिन इसके बाद उसने 109 रन के अंतराल में अपने सभी दस विकेट गंवा दिए। भुवनेश्वर कुमार, रविचंद्रन अश्विन और सुरेश रैना को एक-एक विकेट मिला।

भारत ने टॉस जीता, पहले गेंदबाजी का फैसला

भारतीय कप्तान धोनी ने ईडन गार्डेन में टास जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया। पाकिस्तान की फॉर्म में चल रही ओपनिंग जोड़ी ने एक बार फिर भारतीय गेंदबाजों की कड़ी परीक्षा ली। फॉर्म में चल रहे जमशेद ने अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी का सिलसिला जारी रखते हुए सीरीज का दूसरा और अपना तीसरा शतक बनाया।

जडेजा ने तोड़ी साझेदारी

जमशेद के तीनों शतक भारत के खिलाफ बने। जमशेद ने गत वर्ष मार्च में भारत के खिलाफ ढाका में 112 रन और चेन्नई में पहले वनडे में नाबाद 101 रन बनाए थे। जडेजा ने 24वें ओवर में हफीज को बोल्ड कर खतरनाक होती इस साझेदारी को तोड़ा। हफीज ने 74 गेंदों में दस चौकों की मदद से 76 रन बनाए। हफीज का यह विकेट 141 के स्कोर पर गिरा।

इसके चार रन बाद अजहर अली (2) वीरेन्द्र सहवाग के थ्रो पर रन आउट हो गए। यूनुस खान दस रन बनाकर सुरेश रैना की गेंद पर पगबाधा हुए। कप्तान मिस्बाह-उल-हक (2) को अश्विन ने पगबाधा कर दिया। पाकिस्तान की पारी लगातार विकेट गिरने से दबाव में आ चुकी थी जिसके बाद उसके बल्लेबाज रन गति को तेज नहीं कर पाए।

जमशेद अपना शतक पूरा करने के बाद रन गति तेज करने के चक्कर में जडेजा की गेंद पर धोनी से स्टंप हो गए। जमशेद ने 124 गेंदों में 12 चौकों और दो छक्कों की मदद से 106 रन बनाए। कामरान अकमल (शून्य) का जडेजा ने शिकार किया। पूर्व कप्तान शोएब मलिक 24 रन बनाकर 47वें ओवर में ईशांत का पहला शिकार बने।

सईद अजमल (6) भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर सहवाग को कैच थमा बैठे जबकि 49वें ओवर में ईशांत ने तीन गेंदों में गुल (17) और इरफान (शून्य) को बोल्ड कर पाकिस्तान की पारी समेट दी। भारत ने दूसरे हाफ में जबर्दस्त वापसी की। जडेजा के 41 रन पर तीन विकेट और ईशांत के 34 रन पर तीन विकेट के अलावा भुवनेश्वर ने 61 रन पर एक विकेट, अश्विन ने 49 रन पर एक विकेट और रैना ने 13 रन पर एक विकेट लिया।

टीम-

भारतः वीरेन्द्र सहवाग, गौतम गंभीर, विराट कोहली, युवराज सिंह, सुरेश रैना, रवीन्द्र जडेजा, महेन्द्र सिंह धोनी (कप्तान), आर. अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, ईशांत शर्मा, अशोक डिंडा।

पाकिस्तानः नासिर जमशेद, मोहम्मद हफीज, अजहर अली, यूनिस खान, मिस्बाह-उल-हक (कप्तान), शोएब मलिक, कामरान अकमल (विकेटकीपर), जुनैद खान, उमर गुल, सईद अजमल, मोहम्मद इरफान।

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 5 वोट मिले

पाठकों की राय | 03 Jan 2013

Jan 04, 2013

Koi nahi hota hai, haar aur jeet to hoti rahti hai koshish karte raho kamyabi jarur milegi.

deepak delhi

Jan 04, 2013

कुछ तो सीखो धोनी से वो अकेले कहा तक टीम को संभालेगा| सबके साथ की ज़रूरत ग़लती इंसान के अकेले की नही होती जब सब साथ होंगे तो उसे भी हौसला मिलेगा, प्लीज़ उसका सपोर्ट करो इंडिया प्लीज़|

Rituraj Singh Noida

Jan 04, 2013

सचिन तो आउट हुआ ही है अब सहवाग, गंभीर आंड धोनी में से सबको या कोई दो को टीम से आउट किए बिना कोई चारा नही है..

Sanjay Sinha Jabalpur

Jan 03, 2013

हमारे क्रिकेटर बंधु बहुत ही बहादुरी के साथ हारे हैं इस लिए इनका सम्मान करना चाहिए, फटे हुए जूते की मालाओं से ,वेल्डन इंडियन क्रिकेटर ऐसे ही खेलते रहो,एक दी रेकार्ड ज़रूर बनाओगे.

Ram Maurya Mumbai


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.