23 नवम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


“संभल जा ऐ-पाक, वर्ना खौल उठेगा खून हिन्दुस्तानी”

Updated Feb 20, 2013 at 12:00 pm IST |

 

विनोद यादव
खौल उठेगा खून हिंदु्स्तानी


उसकी नापाक हरकतों से हर वक्त-बेवक्त होती परेशानी,
अमन के नाम पर पीठ में घोंपे खंजर, ऐसा तू पड़ोसी पाकिस्तानी।
सरहद पर सिपाहियों के काटे सिर, ऐसा राक्षस तू हैवानी,
संभल जा ऐ-पाक, वर्ना खौल उठेगा खून हिन्दुस्तानी।

ना ले इम्तिहान हमारे सब्र का, ना कर तू मनमानी,
गर उठा ली हमने बंदूक, शर्माएगा होने पर तू पाकिस्तानी।
मत भूल 71 में तू हारा था, कारगिल में तुझको दौड़ा के मारा था।
भीख में दिए थे 65 करोड़, जब हुआ बंटवारा था।
खुद में हो जाएगा तू दफन, अब तो छोड़ दे बेईमानी,
संभल जा ऐ-पाक, वर्ना खौल उठेगा खून हिन्दुस्तानी।

कश्मीर का तुझको लालच, चीन के दम पर भरता तू दम,
तेरी आंखों में जेहाद, नीयत में आतंकवाद पनपता हरदम।
तेरे नापाक मंसूबों पर फेर देंगे एक दिन हम पानी,
संभल जा ऐ-पाक, वर्ना खौल उठेगा खून हिन्दुस्तानी।

संभल जा अभी वक़्त है संभलने का...

बोझ दुनिया का उठाऊंगा अकेले कब तक..

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 6 वोट मिले

पाठकों की राय | 20 Feb 2013

Feb 27, 2013

मैं नपाली नेपाली फिर भी है दिल दोस्तानी , पर्णाम करता हू लेखक को, सलाम जी आप को और आप की प्यार आपने कंट्री के लिए. अप धान्या है,

sumit sharma Texas

Feb 25, 2013

भगा भगा के मारे गे पाकिस्तानी यो को ये हमारा वादा हे

UDAY LAL DEWASI (REBARI) UDAIPUR

Feb 24, 2013

क्या खूब लिखी ए कहानी, ज़रा हमारी भी सुनलो पाकिसतनी वक्त हे सभाल जा वरना यादा दिलाएगा तेरी नानी यही हे हम हिन्दुस्तानी.

hindustani natpur

Feb 22, 2013

जब खौलेगा हिन्दुस्तानीयों का खून ......तब तुम पाक माँगॉगे पानी ,,,,,,,,सुन लो और समझ लो ये हिंदुस्तानियों की ज़ुबानी......वक़्त ह संभल जा ज़रा वरना याद दिला देंगे तुम्हारी नानी......

Ravindra Durg

Feb 22, 2013

कविता मे यह भी जोड़ देना था - संभल जा ए पाकिस्तान , वरना हम हवन , यग्य पूजन आदि करके ,और सदा की तरह पंजा छापा मे वोट देकर मज़ा चखाएँगे

shekh Javed Raigarh

Feb 20, 2013

कविता लिखने वाले बहुत खूब बहुत खूब........जब तक इंडिया में अस्लील राजनीति (जाती और धर्म की) और हिंदू बेटी और मुसलमान दमाद रहेगा......तब तक इंडिया शेर होकर गिदर की जिंदंगी ज़िएगा और पाकिस्तान गिदर होकर शेर की जिंदगी जीते रहेगा.....वेश्या से भी गिरी है इंडियन राजनीति...फिर कभी......

SKIndia New Delhi

Feb 20, 2013

बहुत खूब, तारीफे काबिल.

Anil Agarwal Kolkata

Feb 20, 2013

An excellant poem written by mr vinod tyagi. We appreciate your patriotism. We all ex-servicemen r concurring ur poem. Congrates again.Capt(retd) kl saini, panchkula

Capt KL Saini, Panchkula Panchkula

Feb 20, 2013

बहोत खूबसूरत कविता हर हिन्दुस्तानी को जगाने वाली

shyamli Naidu nagpur

Feb 20, 2013

भगा भगा के मारे गे पाकिस्तानी यो को जाई हिंद राजू कुमार गुप्ता सिवान बिहार

raju new delhi


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.