25 नवम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


महाकुंभः डेढ़ करोड़ के गोल्ड बाबा, 4 मर्सिडीज का काफिला

Updated Feb 01, 2013 at 15:26 pm IST |

 

01 फरवरी 2013
वार्ता

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

कुंभनगर (इलाहाबाद)। साधु और संत लोगों को मोह के साथ माया का भी त्याग कर देने का उपदेश देते आ रहे हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद मे गंगा, यमुना और विलुप्त सरस्वती के संगम पर चल रहे महाकुंभ में एक बाबा लगभग डेढ़ करोड़ के हीरे और सोने के जेवरात पहन चर्चा मे बने हुये हैं। गुजरात के गांधीनगर से आये सुधीर कुमार बिट्ट ऊर्फ गोल्ड बाबा जब भी जूना अखाड़ा से बाहर आते हैं उन्हें देखने वालों की भीड़ लग जाती है। बाबा को कम, लेकिन उनके गहने को देखने लोग बरबस ही ठिठक जाते हैं। बाबा के हाथ की आठ उंगलियों में हीरे की अंगूठी होती है तो गले में सोने की कई मोटी चेन। चेन में लगे लॉकेट में शिव पार्वती, दुर्गा, सरस्वती, हनुमान और साईं बाबा की तस्वीर लगी होती है। बाबा के शरीर पर चार किलो का सोना होता है। हीरे की अंगूठियो की कीमत भी लाखो में है। उनका दावा है कि हीरे और सोने की कीमत डेढ़ करोड़ रुपये से ज्यादा है।

सुधीर कुमार बिट्ट जी महाराज को गोल्ड बाबा नाम उनके भक्तों ने दिया है। उनका कहना है कि सोने के गहनों का उनका शौक काफी पुराना है। वह पिछले बीस साल से सोने के ऐसे गहने पहनते चले आ रहे हैं। बाबा रात में सोने से पहले अपने सभी गहनों को उतार कर रख देते हैं तथा सुबह पूजा के बाद ही उसे धारण करते हैं। भगवान के साथ बाबा अपने आभूषणों की भी पूजा करते हैं। बाबा के शरीर पर इतने आभूषण है तो जाहिर तौर पर उनकी सुरक्षा भी कड़ी है। बाबा की सुरक्षा के लिये कई पुलिस वाले तैनात किये गये हैं।

उन्होंने कहा कि वह सभी शाही स्नान में शामिल होंगे तथा आगामी दस मार्च को महाशिवरात्रि के स्नान के बाद ही यहां से लौटेंगे। गोल्ड बाबा ने महंत मच्छेन्द्र गिरि से दीक्षा ली है। उनका कहना है कि मच्छेन्द्र गिरि ही उनके गुरु हैं। सोने और हीरे के आभूषण धारण करने को वह महज अपना शौक बताते हैं। हालांकि बाबा के पास इस बात का कोई जवाब नहीं है कि साधु संतो को माया मोह त्याग देना चाहिये।

गोल्ड बाबा को सिर्फ सोने तथा हीरे का ही शौक नहीं है। उनकी कलाई मे बंधी घड़ी की कीमत भी डेढ़ लाख रुपये है। कपडे भगवा ही सही, लेकिन होते महंगे हैं। इसके अलावा भी गोल्ड बाबा शान शौकत में कोई कमी नहीं रखते। उनके काफिले में चार मर्सिडीज कारें होती है। वह जब भी चलते है तो महंगी कार का ही इस्तेमाल करते हैं। उन्होने कहा कि वह अभी किसी को औपचारिक रूप से अपना भक्त नहीं बनाते।

महाकुंभ: नागा साधु बनना है, तो ये जरूर पढ़ें





 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 4 वोट मिले

पाठकों की राय | 01 Feb 2013

Feb 01, 2013

PHIR YE PAISA KAHAN SE AATAA HAI... BABA KAA KOIIEE BUISNESS
HAI KYA...

crazy meet new dlehi


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.