28 जुलाई 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


कामकाजी लड़कियों बोली ‘नो नाइट शिफ्ट प्लीज’

Updated Jan 07, 2013 at 17:52 pm IST |

 

07 जनवरी 2013
आईबीएन-7    

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

नई दिल्ली।एसोचैम के एक सर्वे में ये खुलासा हुआ है कि दिल्ली में एक लड़की से गैंगरेप की वारदात के बाद यहां की कामकाजी महिलाएं दहशत में हैं। उन्हें अपनी नौकरी जोखिम भरी लगने लगी है। वो नाइट शिफ्ट में काम करने से हिचकने लगी हैं। शाम ढलने से पहले महिलाएं घर लौटने की फिक्र में नौकरियां तक छोड़ रही हैं।

सर्वे के मुताबिक सूरज ढलते ही कामकाजी महिलाएं घर जाने के लिए बेचैन होने लगती हैं। ये बेचैनी उस अंजाने खौफ की वजह से है कि अंधेरा हुआ तो दफ्तर से घर के रास्ते में उसके साथ ना जाने क्या अनहोनी हो जाए। एसोचैम का ताजा सर्वे दिल्ली गैंग रेप के बाद यहां की महिलाओं की मानसिकता में आए बदलाव का खुलासा करता है।

एसोचेम के इस सर्वे में दिल्ली-एनसीआर की 2500 कामकाजी महिलाओं को शामिल किया गया। ये महिलाएं आईटी और बीपीओ कंपनियों मे में काम करती हैं। सर्वे के नतीजे चौंकाने वाले हैं। सर्वे के मुताबिक दिल्ली गैंगरेप ने कामकाजी महिलाओं को हिलाकर रख दिया है। यहां की महिलाएं रात की शिफ्ट में काम करने से डरने लगी हैं। खौफ की वजह से उनकी कार्यक्षमता बुरी तरह प्रभावित हो रही है। आलम ये है कि दो हफ्ते के भीतर दिल्ली-एनसीआर की आईटी कंपिनयों में काम करने वाली महिलाओं की कार्यक्षमता में 40 फीसदी तक गिरावट आ गई है।

डर का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सर्वे के दौरान इन कंपनियों की 89 फीसदी महिला कर्मचारियों ने माना कि वो अब समय से पहले घर निकलने लगी हैं। दिल्ली और एनसीआर में करीब 2500 आईटी और बीपोओ कंपनियां हैं और इन कंपनियों में लाखों महिलाएं काम कर रही हैं। ये महिलाएं नाइट शिफ्टों में काम करने की आदी रही हैं,लेकिन अब इन्हें ऐसी नौकरी गंवारा नहीं। नौकरी के चलते ये अपनी जिंदगी से खतरा मोल लेने को तैयार नहीं।

दिल्ली में एक लड़की के साथ जो कुछ भी हुआ उसके बाद इन महिलाओं का यहां की सुरक्षा व्यवस्था से भरोसा पूरी तरह उठ चुका है। वैसे ये हाल सिर्फ दिल्ली का ही नहीं। एसोचैम ने दिल्ली समेत देश के कई दूसरे महानगरों की महिलाओं का भी जायजा लिया और सुरक्षा को लेकर चिंता वहां भी उतनी ही नजर आई।

गूगल ने जलाई दिल्ली की बहादुर के लिए मोमबत्ती

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 2 वोट मिले

पाठकों की राय | 07 Jan 2013


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.