22 जुलाई 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


Exclusive Interview: कासिफ: ‘सपना की ड्रेस ऐसी थी, जिसमें से सब दिखता था!’

Updated Oct 26, 2012 at 13:47 pm IST |

 

26 अक्टूबर 2012
hindi.in.com

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

बिग बॉस के घर से हाल ही में बेघर हुए आम आदमी के किरदार में आए कासिफ कुरैशी ने हिन्दी इन डॉट कॉम के संपादक निमिष कुमार से लंबी बात की। पूरे इंटरव्यू के दौरान कासिफ बिग बॉस में बनी अपनी इमेज को डिफेंड करते दिखे, लेकिन कासिफ की वही बेबाकी सुनने को मिली जिसको लेकर कासिफ बिग बॉस के घर में रहते हुए लगातार कंट्रोवर्सी में फंसते दिखे थे। हैदराबाद से आए बिग बॉस के इस आम आदमी की हिन्दी इन डॉट कॉम से विस्तृत बात।

हिन्दी इन डॉट कॉम – कॉसिफ बिग बॉस के घर से निकलने के बाद आपका पहला रियेक्शन क्या है?
कासिफ कुरैशी-
बहुत रिलीफ महसूस कर रहा हूं। लग रहा आई एम बैक टू सिविलाइजेशन। आम लोगों के बीच, अपनी दुनिया में वापस आ गया हूं। अब नार्मल बात कर रहा हूं। वहां रहा तो मेरा दो-ढाई किलो वजन कम हो गया। वहां हर बात पर झगड़ा होता था। दूध,अंडों पर झगड़ा, रोटी को लेकर झगड़ा। माना कि वो गेम है लेकिन उसमें भी कुछ स्टैंडर्ड होना चाहिए।

हिन्दी इन डॉट कॉम- बिग बॉस में फिर जाने का मौका मिले तो? यदि आपको वाइल्ड कार्ड एंट्री का ऑप्शन दिया जाए तो?
कासिफ कुरैशी –
नहीं, अब मैं ऐसे तो वापस नहीं जाउंगा। अब यदि फिर बिग बॉस के घर के लिए बुलाया, तो उसी कंडिशन पर जाऊंगा, जब बहुत पैसे दे। बहुत ज्यादा। ऐसे नहीं जाऊंगा। बहुत हुआ। ज्यादा पैसे दो, तभी अब बात होगी।

हिन्दी इन डॉट कॉम-  बिग बॉस के घर में आपका सबसे पसंदीदा कौन रहा?
कासिफ कुरैशी-
सिद्धू पाजी। वो बिलकुल ऑरिजनल है, जीनियस है। वो तो बिग बॉस में योगी है, तपस्वी हैं। आप जानते है वो बिग बॉस के घर में मेडिटेशन करते है, फिलासॉफिकल बातें करते थे। उनमें कोई ईगो नहीं है। वो सबको समान समझते है। खुद को कभी तीसमाखां नहीं समझा। सबसे शानदार है सिध्दू पाजी। सिध्दू पाजी के अलावा दिलनाज बहुत स्वीट है। दिल की बहुत साफ है।

हिन्दी इन डॉट कॉम- और बिग बॉस में सबसे नापसंद? या ऐसा कोई जिससे बिग बॉस के घर से बाहर निकलने के बाद आप मिलना पसंद नहीं करेंगे?
कासिफ कुरैशी-
नापसंद तो मैं नहीं कहूंगा, हां, लेकिन सिद्धू पाजी और दिलनाज़ के अलावा मुझे नहीं लगता, कोई सही रहा मेरे साथ। शान्तनी ने मुझे नॉमिनेट किया, जो मेरे लिए शॉक था। संपत पाल जी को देखो। मुझे सलमान भाई ने बाद में बताया तो मैं शॉक था। भाई, मैने उनके पैरों की मॉलिश की थी। वो मुझसे कह रही थी कि कासिफ तुम्हारे पीछे सभी गुटबाजी कर रहे हैं, और उन्होंने ने ही मुझे नॉमिनेट कर दिया। फिर भी सपना, निकेतन, आशिका और राजीव से अपना नहीं जमा।

हिन्दी इन डॉट कॉम- बिग बॉस के घर में ऐसा कोई जिसके बारे में जो सोचा ना था, वो वैसा नहीं निकला?
कॉसिफ कुरैशी-
असीम त्रिवेदी। जब मैं बिग बॉस के घर में था, तो वो कहता था भाई ऐसा है, भाई वैसा है, लेकिन उसने ही मुझे नॉमिनेट किया।

हिन्दी इन डॉट कॉम – बिग बॉस के घर में मॉडल करिश्मा कोटक को लेकर जो कंट्रोवर्सी हुई, उस पर आपका क्या कहना है?
कॉसिफ कुरैशी –
जब मैं बिग बॉस के घर में गया तो हम सब अजनबी थे। वो अजनबी थी, मैं अजनबी था। बात की तो लगा कि हम लाइक माइंडेड है। पहले सबकुछ सही चला फिर मालूम नहीं क्या हुआ। इन लोगों की कोई बात समझ ही नहीं आती है। बाद में चेंज हो गई। कभी बोली शेम ऑन यू, कभी कहती मेरे सामने वर्कआउट करो। लेकिन ये सब सपना का ही किया-धरा था।

हिन्दी इन डॉट कॉम- तो क्या हम समझे कि कॉसिफ को मॉडल करिश्मा कोटक से प्यार हो गया था?
कॉसिफ कुरैशी-
वो खूबसूरत है, बहुत अच्छी है, आप किसी से बात करते है, साथ समय बिताते है, इसका मतलब ये नहीं कि उससे प्यार हो गया। भई सभी कि फ्रैंड्स होती है, अब लड़की है तो गर्लफ्रैंड होगी ना।

हिन्दी इन डॉट कॉम- तो फिर करिश्मा को ‘बगीचे का फल’ कहने वाली बात?
कासिफ कुरैशी-
उस दिन वो बाहर बैठी हुई थी। फ्रेश लग रही थी। इसीलिए मैने उसे ‘फ्रूट ऑफ गार्डन ऑफ ईडन’ कहा। फल तो योगियों की डाइट रही है। मैने तो उसे इतना बड़ा सम्मान दिया। उसे खुदा के बगीचे का फल कहा। लेकिन ये लोग क्या समझेंगें। ये लोग अपनी जिंदगी में बहुत कन्फूज़ है। सब मिल्स एंड बून्स के नॉवल पढ़कर बढ़े हुए हैं। इसीलिए इन लोगों को जिंदगी भी वैसी ही लगती है। इन्हें समझ ही नहीं आता कि जिंदगी कैसे जी जाती है। सब कांस्टिपेशेंट के मरीज है। सबको कब्ज की शिकायत है। सब दिन-रात शराब, सिगरेट और जाने क्या क्या पीते है, ऐसे में ये सब तो होगा ही।

हिन्दी इन डॉट कॉम- और रोटी को लेकर झगड़ा? आप पर आरोप लगाया गया कि आपने रोटी फेंकी थी?
कासिफ कुरैशी-
उस दिन मैं खाना खाने बैठा। अब भाई, हमें तो अम्मी के हाथों की बड़ी-बड़ी रोटियां खाने की आदत है। वो भी कई। पेटभर कर। वहां वो लोग इतनी छोटी-छोटी रोटियां बनाते थे कि एक दो निवाला में खत्म हो जाए। फिर आशका ने पूछा कासिफ और रोटी चाहिए तो मैने मना कर दिया। लेकिन जब जोर दिया तो दूसरी रोटी ले ली। फिर मैं उठकर किचन के पास गया और उनसे बोला कि मुझे आप सबको इतना काम करते देख तकलीफ होती है। इस पर वो निकेतन बीच में बोल पड़ा। तुझे क्या, तू चुपचाप अपना खाना क्यों नहीं खाता। इस पर मैं रोटी रख दी। मैनें रोटी फेंकी नहीं थी। लेकिन उन लोगों ने जबरदस्ती का बवाल खडा कर दिया कि कासिफ ने रोटी फेंकी।

हिन्दी इन डॉट कॉम- आप पर घर में कुछ काम नहीं करने के आरोप लगे थे? टीवी पर दर्शकों ने आपको किचन का प्लेटफार्म साफ करते देखा जिसमें आप एक हाथ में कपड़ा लिए हुए है और दूसरा हाथ आपका आपकी जींस में है? लग रहा था कि आप काम टाल रहे है?
कासिफ कुरैशी- देखिए मेरे हाथों में झाड़ू देते देते छाले पड़ गए हैं। मैनें पूरा घर साफ किया। बाथरुम साफ किया। पैरों में छाले पड़ गए। उस दिन सारा काम करके बाहर बैठा था। उधर किचन में जरा-सी दाल प्लेटफार्म पर गिर गई। कोई भी साफ कर सकता था, लेकिन मुझे आवाज देकर बुलाया गया। साफ करने के लिए। ये क्या तरीका है। मैं आम आदमी हूं तो कोई दोयम दर्जे का नहीं हूं। वो भी इतना-सा काम कर सकते थे। लेकिन नहीं, जैसे मुझसे ही काम करवाना था। ये तो गलत था।

हिन्दी इन डॉट कॉम- फिर सपना से वो झगड़ा? उंगली दिखाने पर विवाद? सबको धमकाना कि बिग बॉस के घर से सीधे जेल जाउंगा?
कासिफ कुरैशी- वो सब वाहियात लोग है। जानबूझकर मुझे प्रोवोक कर रहे थे। इसीलिए मैनें कहा कि यहां से घर नहीं सीधे जेल जाउंगा। लेकिन उसके बाद से सब सही हो गए थे। और वो सपना तो मत पूछो? कैसे रहती है? कैसे कपड़े पहनती है? सब दिखता है। एक दिन इतने छोटे-छोटे कपड़े पहनकर बैठी थी कि सब दिख रहा था।

हिन्दी इन डॉट कॉम- आप आम आदमी के प्रतिनिधी के रुप बिग बॉस में गए थे। उन सेलेब्रिट्रीज़ के साथ रहकर कैसा लगा?
कासिफ कुरैशी- सिध्दू पाजी के अलावा वहां कोई सेलेब्रिटी नहीं था। सेलेब्रिटी मतलब जिसकी खुशी और गम को जमाना सेलेब्रेट करे। बाकी सब तो बस फेमस थे। लेकिन अपने को तीमारखां समझते थे। ज़रा-सी तमीज नहीं थी। इतने फेमस होकर चाय-कॉफी, रोटी के लिए कुत्तों की तरह लड़ते थे। इससे तो आम आदमी भला, जो चाय भी बांटकर पीता है। फिर मैं आम आदमी हूं तो क्या, वो मेरा मजाक बनाएंगे हमेशा। हमेशा गुटबाजी में लगे रहते थे। और इन सेलेब्रिट्रीज़ की क्या जिंदगी है? सब सुसाइड करते है। देर रात तक हाथों में शराब लिए किस-किस की बांहों में झूमते है और फिर अकेले बंद अंधेरे कमरे में रोते हैं। इन लोगों की पूरी जिंदगी में दोगलापन है।  

हिन्दी इन डॉट कॉम- जब आप बिग बॉस के घर से बाहर हुए, तो कहा गया कि बिग बॉस के होस्ट सलमान खान ने आपकी क्लॉस ली? बहुत डाटां आपको?
कासिफ कुरैशी-
सलमान भाई का मैं फैन हूं। वो मेरे बड़े भाई जैसे है। ऐसे में वो कितना भी डाटें मैं बुरा नहीं मानता। फिर ये तो शो है। मैं इसे शो के तौर पर ही लेता हूं। और फिर वहां कोई मुझे कुछ कहता तो मैं जवाब क्यों ना दूं। तमीज-तहजीब का मतलब उन लोगों से जो उसे समझे। अब वो जमाना नहीं है कि कोई आपके एक गाल पर थप्पड़ मारे तो आप दूसरा गाल आगे कर दो। तमीज और तहजीब का मतलब ये नहीं कि अपना सेल्फ-रिस्पेक्ट खो दो। इसीलिए मैंने शो में जो किया सही किया।

हिन्दी इन डॉट कॉम- आपकी शादी को लेकर सलमान खान के सवाल पर बहुत बातें हुई? आप शादी के सवाल को क्यों टाल गए? सलमान खान के सामने भी और बिग बॉस के घर में भी?
कासिफ कुरैशी –
मैं एक बहुत ही कंसजरवेटिव फैमिली से हूं। हम लोग पुराने हैदराबाद के बाशिंदें हैं। मेरी सात पुश्तों में कोई ग्लैमर या इंटरटेंनमेंट बिजनेस में नहीं है। इसीलिए मैं अपनी फैमिली को इस सब में घसीटना नहीं चाहता। मैं अपनी फैमिली को टॉक ऑफ द टाउन नहीं बनाउंगा। बस इसीलिए मैनें सलमान भाई के उस सवाल का सीधा जवाब नहीं दिया।

हिन्दी इन डॉट कॉम- आखिरी सवाल, कौन बिग बॉस सीजन-6 के टॉप तीन प्रतियोगी हो सकते है और क्यों?
कासिफ कुरैशी- मुझे लगता है कि दिलनाज़, असीम और विर्जेश लास्ट तीन तक जा सकते है। दिलनाज़ बहुत स्वीट है। असीम स्वीट और हॉर्मलेस है। वहीं विर्जेश को कॉमेडियन होने का फायदा मिल सकता है।
 
कासिफ कुरैशी आपने हिन्दी इन डॉट कॉम से बात की, इसके लिए धन्यवाद।

 

बिग बॉस से जुड़ी सारी खबरें यहां पढ़ें 


 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 6 वोट मिले

पाठकों की राय | 26 Oct 2012

Oct 29, 2012

दिस इज पॉलिटिक्स मिस्टर काशिफ

keshav noida

Oct 28, 2012

कुते को इज़्ज़त कभी रास नही आती

garry delhi


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.