22 दिसम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


एडिट पेज: ये पाकिस्तानी दूसरों की लड़कियों से सेक्स करने को बेताब क्यों रहते हैं ?

Updated May 11, 2012 at 11:09 am IST |

 

11 मई 2012

निमिष कुमार,
संपादक
हिंदी इन डॉट कॉम


मुम्बई। पाकिस्तान सरकार सवालों के निशाने पर हैं। पाकिस्तान मूल के लोग सवालों के घेरे में हैं। इतना ही नहीं पाकिस्तानी पुरुषों की नीयत पर अब पूरी दुनिया में सवाल खड़े किए जा रहे हैं। हर कोई ये पूछ रहा है कि आखिरकार गैर-जात, गैर-मुल्क और गैर-धर्म की लड़कियों से सेक्स करने को पाकिस्तानी युवा और अधेड़ इतने बेताब क्यों है।

सवाल ऐसे ही खड़े नहीं हुए। पिछले कई सालों में लगातार होती ऐसी घटनाओं ने पाकिस्तानी पुरुषों की नीयत और सोच पर सवालिया निशान लगा दिए हैं। इसी हफ्ते भारत के विदेश मंत्री एस. एम. कृष्णा ने संसद में बयान दिया कि भारत सरकार और भारत का विदेश मंत्रालय पाकिस्तान सरकार से कह चुका है कि वो अपने देश में अल्पसंख्यकों की सुरक्षा और आज़ादी को बरकरार रखे। खासकर हिंदू लड़कियों को अगवा कर उनसे जबरन शारीरिक संबंध बनाने, उन्हें जबरन मुसलमान बनाने और उनसे जबरन निकाह करने की बातों पर भारत सरकार ने एतराज जताया। विदेश मंत्री एस. एम. कृष्णा दरअसल बीजेपी सांसद मुरली मनोहर जोशी के संसद में पूछे एक सवाल का जवाब दे रहे थे। बीजेपी के मुरली मनोहर जोशी ने पाकिस्तान में हिंदुओं पर हो रहे अत्याचार और हिंदू लड़कियों से जबरन शादी की घटनाओं पर भारत सरकार की प्रतिक्रिया चाही थी।

सारा मामला पाकिस्तान के सिंध प्रांत से शुरू हुआ। बताया जा रहा है कि तीन हिंदू लड़कियों आशा कुमारी, डॉक्टर लता और रिंकल कुमारी की मुसलमान पुरुषों से शादी के बाद सारा बवाल खड़ा हुआ। इन हिंदू लड़कियों के परिवारवालों का आरोप है कि उनकी लड़कियों को अगवा किया गया। उनकी लड़कियों का जबरन धर्मांतरण करवाया गया, माने उनकी लड़कियों को जबरन मुसलमान बनाया गया और फिर मुसलमान युवकों से उनकी शादी करवा दी गई। इतना ही नहीं इस पूरे मामले में उंगलियां सिंध में ही सत्ताधारी पीपुल्स पार्टी के सांसद मियां मिठ्ठू पर उठीं। उन हिंदू लड़कियों के घरवालों का आरोप है कि ये सब सांसद मियां मिठ्ठू की शह पर हो रहा है। और पहले भी ऐसा होता रहा है।

मामला जब जोर पकड़ा तो पाकिस्तानी प्रशासन जागा। बताया जा रहा है कि सारा मामला पाकिस्तानी सु्प्रीम कोर्ट में पहुंचा। सारे मामले की सुनवाई हुई। बाद में पाकिस्तानी प्रशासन के हवाले से बताया गया कि तीनों हिंदू लड़कियों ने खुद जज के सामने अपने मुसलमान पतियों के साथ रहने की इच्छा जताई थी। लेकिन पाकिस्तान में इस मुद्दे पर काम कर रहे समाजसेवी संगठनों के बयानों की मानें तो मामला कुछ और ही था। इस पूरे मामले की सुनवाई बंद कमरे में हुई। सुनवाई के दौरान लड़कियां अपने परिवार से मिलने के लिए रोती रहीं। उन हिंदू लड़कियों के परिवारवालों का आरोप है कि पाकिस्तानी पुलिस ने उन्हें उनकी लड़कियों से मिलने तक नहीं दिया गया।

ये पहला मामला नहीं है जब पाकिस्तान में गैर-मुस्लिम लड़कियों से जबरन शारीरिक संबंध बनाने, बलात्कार करने, सेक्स के लिए गैर-मुस्लिम लड़कियों को अगवा करने या गैर-मुस्लिम लड़कियों से जबरिया शादी करने की बात सामने आई हो। पाकिस्तान में ये आजादी के बाद याने 14 अगस्त, 1947 से ही हो रहा है। पुराने दस्तावेजों की मानें तो देश के बंटवारें के वक्त पाकिस्तानी पुरुषों का सारा ध्यान गैर-मुस्लिम लोगों के घरों पर कब्जा जमाने या उनकी संपत्ति हथियाने से ज्यादा गैर-मुस्लिम लड़कियों से सेक्स करने में रहा। शरणार्थी कैम्पों पर धावे बोले गए और गैर-मुस्लिम लड़कियों को सेक्स के लिए अगवा किया गया। ये कुछ ऐसे तथ्य है जिन्हें कोई नकार नहीं सका। उपन्यासकारों ने इस पर लिखा। मंटो की कई कहानियां उस वक्त के पाकिस्तानी समाज के सेक्स उन्माद का आईना मानी जाती रही हैं।

ऐसा नहीं कि पाकिस्तानी पुरुषों की बदनीयत की शिकार सिर्फ हिंदू लड़कियां होती हैं। हाल ही में ब्रिट्रेन की एक अदालत ने नाबालिग लड़कियों से बलात्कार करने और उन नाबालिग लड़कियों का यौन-शोषण करने के आरोप में नौ एशियाई मूल के लोगों को दोषी पाया। बताया जा रहा है कि दोषियों को चार से 19 साल तक की सजा सुनाई गई। उन नौ दोषियों में से आठ पाकिस्तानी थे और एक अफगानी। आरोप था- 13 साल से 16 साल की गोरी लड़कियों को बरगलाना और फिर उनसे सेक्स करना। जांच में पता चला कि पश्चिमी सभ्यता में फैले टूटते परिवारों, मां-बाप के बीच तलाक जैसी कई बातों का इन पाकिस्तानी पुरुषों ने फायदा उठाया। उन नाबालिग गोरी लड़कियों को शराब, ड्रग्स की आदत डलवाई और फिर उन्हें अपनी सेक्स की भूख मिटाने के लिए उपयोग में लिया गया।

लेकिन ब्रिटेन में अपनी तरह का ये पहला मामला नहीं है। ब्रिटेन के एक राजनेता तो पहले ही खुलेआम ब्रिटेन में रह रहे पाकिस्तानियों की अपनी नाबालिग गोरी लड़कियों को लेकर बदनीयती पर सवाल उठा चुके हैं। उस राजनेता ने तो खुलेआम कहा था कि पाकिस्तानी अधेड़ हमारी 13 से 17 साल की लड़कियों के सेक्स के दीवाने हैं। और योजनाबद्ध तरीके से हमारी नाबालिग गोरी लड़कियों का यौन-शोषण किया जाता है। मामला खूब उछला। पता चला कि लंदन और ब्रिटेन के कई शहरों में ये बात आम है। वहां पाकिस्तानी युवक 13 से 17 साल की गोरी लड़कियों को शराब और ड्रग्स का आदी बनाते हैं और फिर उनके साथ सेक्स करते हैं। इतना ही नहीं ये भी पता चला कि एक-एक पाकिस्तानी पुरुष के संबंध कई नाबालिग लड़कियों के साथ थे। कई पाकिस्तानी पुरुषों की घर में बीबी-बच्चे भी थे। परिवार थे। बावजूद इसके वो नाबालिग गोरी लड़कियों को शिकार बनाते थे।

अब इन मामलों ने हमें सोचने पर मजबूर कर दिया है। क्या पाकिस्तानी पुरुष अब अपनी मर्दानगी को हथियार बनाकर गैर-मुस्लिम कौमों के प्रति अपना गुस्सा निकाल रहे हैं। क्या पाकिस्तान में सरकार और प्रशासन जान-बूझकर अल्पसंख्यकों की लड़कियों को अगवा करने, उनका धर्मान्तरण कराने या उनसे जबरन शादी करने के मामलों को अनदेखा कर रही है। सिंध में हिंदू लड़कियों पर पाकिस्तानी मुसलमानों के यौन अत्याचार हो या ब्रिटेन में गोरी नाबालिग अंग्रेज लड़कियों से योजनाबद्ध सेक्स करने के मामले, सारी बातें पाकिस्तान के पुरुषों की नीयत पर सवाल खड़े करती हैं।

हम समझ सकते हैं कि जिस देश में खाने को अनाज से ज्यादा बंदूक की गोलियां मिले। जहां दीवाली के पटाखों की तरह बम धमाके हों। जहां देश में सुशासन से ज्यादा कश्मीर छीनने का मुद्दा बेहतर वोट दिलवाए, वहां आम पाकिस्तानी आदमी की अपनी जिंदगी को लेकर खीज को समझा जा सकता है। हम समझ सकते हैं कि कमरतोड़ महंगाई, गरीबी, बदहाली, भ्रष्टाचार वहां के आम आदमी के सोच के स्तर को विकसित ही नहीं होने दे रहा। तभी तो तालिबान जैसी पुरातनपंथी सोच के समर्थक ज्यादा हैं और 21वीं सदी को सलाम करने वाले कम। मेरे पाकिस्तानी दोस्त, आखिर कब आप लोग कश्मीर, सेक्स, लादेन, तालिबान से ऊपर उठ पाओगे और देख सकोगे कि दुनिया कहां जा रही है।

एक भारतीय

 

ये खबरें भी पढ़ें

भारत परेशान, हिंदू लड़कियों की हिफाजत करे पाकिस्तान

पाक में हिंदू बच्चियों का अपहरण, हुआ विरोध प्रदर्शन

15 बरस की उम्र बाली, ‘सेक्स’ में लड़कियों ने बाज़ी मारी!

स्पेशल रिपोर्ट: ‘सेक्स...सेक्स...सेक्स’, अब और कितना?

गर्लफ्रेंड ही नहीं, महिला मित्रों से भी सेक्स चाहते हैं पुरुष!

मॉडल को गर्भवती बनाकर कहा, ‘हम आपके हैं कौन’

 

 

एडिट पेज:क्योंकि कुपारम मांझी विधायक-कलेक्टर नहीं एएसआई था!

एडिट पेज: वो, जो कलेक्टर नहीं बन पाए...

एडिट पेज:मान गए क्लेक्टर एलेक्स मेनन..इसे कहते हैं जज्बा!

एडिट पेज:बाबा रामदेव, आप राष्ट्रपति पद के लिए क्यों नहीं खड़े हो जाते?

एडिट पेज:सचिन तेंदुलकर के नाम पहली चिट्ठी

 

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 5 वोट मिले

पाठकों की राय | 11 May 2012

Jun 03, 2013

पाकिस्तानइयो को तो सरेआम गोली मर्देनी चाहई

ashok kota

Nov 18, 2012

पाकीस्तानी लोकंपेशा आपलेच हिंदू बरेचशे फक्त नावाला हिंदू आहे.मात्र हिंदू खूप कमी आहे भारतात खरे हिंदू फकत 20% आहे. पण नावाला 80%पेशा जास्त आहेऽअपले सरकार पण पकस्तान ला विकले गेले आहे. कारण कॉंग्रेस सरकार हिंदू पेशा मुसलमान लोंकानच्या पाठई मागे आहे. कारण त्याना हिंदू मुलीन पेशामतमहत्वाच आहे. कारण सगळ्यांना लक्ष्य्त येत पण हिंदू आल्प संक्याक आसल्या कारणामुळे हिंदू ना आन्याय सहन करावा लागतो.हिंदू नो आता तरी जागे व्हा. हिंदू धर्म धोक्यात आहे.

pundalik ghorapade manamad

Oct 06, 2012

Hindustan kisi ek dharam ka nahi hai,yahan sabhi dharmo ke log rahte hai,desh ke vikash ke liye hamein apas mein nahi ladna chhahiye,apas mein ladne ka hi labh uthaya tha angrejo ne,gaddar kisi bhi kom mein ho sakte hai,ham sab hajrad adam ki aulad hai......."deewar mandir ki ho,maszid ki ho ya ho kisi imarat ki ,mitti to lagi hai bhai is mein mere bharat ki" mazhab nahi sikhata apas mein bair rakhna,....Hindustan ham sab ka hai ye kisi ke bap ki jageer nahi, gulbahar khan

GULBAHAR KHAN MUZAFFARNAGAR

Oct 04, 2012

अरे मेरे भाई आज के सवाल के बारे मैं बात करें ......पाकिस्तान की लड़कियाँ देखो तो पता चले आपको ...ये लोग इतना गोस्त खाते है की लड़किया भैंसो की तरह लगती है तो इनको तो दूसरो की ही अच्छी लगेगी ना...ये बात सर्वे करके देख ले सच है.....इनकी ब्रीड ही मूटि और बदसूरत है..........ये सोचते है के इनके पास तो भैंसे ही है लड़किया तो बाहर देश वालो के पास है इसलिया इनकी नियत दूसरो पेर रहती है.........जाई हिंद

rolly indian dubai

Oct 03, 2012

Agar hamari rajniti gandi nahi hoti to ish pakistan ka namonishan nahi hota.

Vikas semwal Uttarakhand

Aug 15, 2012

धर्मांध जहादियो के कारण पूरी दून्निया नरक बन गई हे,ये इतने गंदे हे की घीन आती हे

lakki garg indore

Aug 11, 2012

असे कमीणा लोग को ज़िदा जलाया जा कोय की यो (सुगर का यॉलाद है )जब उसकी मा बहन से कोई लेना देना है तो फिर क्यो यसा करते कमीणा यलाद साल उनकी मा को कोई न्ही छूटा फिर क्यो असी हर काट कर्ग़े तो हीर सरकार को कुछ जवाब देना होगा जब हिंदू भाई बहन वॉहा जीता जल्दी हो स्के तो thaku sir plese sir mangla parsad kasyap

mangla parsad kasyap mirzapur up

Aug 10, 2012

यह जात का वर्गीकरण वैसे ही नही किया गया है किसी के धर्मनुसर ही उसकी प्रवृति सुनिश्चित हो पाती है इसलिए इनकी मूल प्रवृति को बदलना संभव नही है

r.k chw

Jul 18, 2012

अरे मत बोल इतना सुलेमान .. बेटा ये तो भारत देश है जो तुम को सह रहा है या फिर यहा के लोग है जो तुम पर इतनी दया करते है.. एक बार मोदी को आ जाने दो फिर तू बोलना इतना...

sunil jaggarwal delhi

Jul 10, 2012

सुलेमन क्या तुम बता सकते हो की आज़ादी के समय 15% रहने वाला हिंदू आज पाकिस्तान मे सिर्फ़ 1.5% क्यो रह गया है? क्या बाकी लोगो को ज़मीन निगल गयी या आसमान. इसमे तुम लोगो की नियत सॉफ समझ मे आ रही है. आज पाकिस्तान मे क्या हो रहा है और वहाँ पर मज़हब के नाम पर कितना गंदा खेल खेला जा रहा है. ये सब जानते हैं. सिर्फ़ हिंदू ही नही बल्कि तुम लोगो मे शिया अहमदी लोगो को भी ज़िल्लत की ज़िंदगी ज़िनी पद रही है.

Pankaj Barnwal Patna

Jun 12, 2012

साले सुलेमान तू साउत कोरीया मे रहता है या इंडिया मे सच बता

rajendra kolkata kolkata

May 22, 2012

वीरेंद्र सिंग आपने तो सभी को जाहिल गँवार कह दिया ! लगता है सबसे पढ़े लिखे आप ही हो तो आप ही अपने विचार रखो हम बस पढ़ते रहेंगे!

sulaiman south korea

May 20, 2012

यार सब के सब जाहिल-गँवार हो ऐसी भाषा इस्तेमाल करते हुए शर्म नही आती !सामने वाला ज़्यादा बुरा है इसका मतलब यह नही है की हम बड़े दूध के धुले हैं, हिन्दुस्तान मे भी जात-पाँत के नाम पर कितना अन्याय होता आया है या हो रहा है! बुरे लोग हमेशा संगठित रहे है और अच्छे लोग दूर बैठकर गाली देंगे कभी किसी पीड़ित की मदद नही करेंगे.,दूसरो को उपदेश देने देने से कुच्छ नही होगा! पहले खुद को अच्छा बनाओ, अन्याय खिलाफ संगठित होना होगा जात-पाँत धर्म के नाम पर धंढेबाज़ो का विरोध करना होगा वो हिंदू हो या मुसलमान

virendra singh ramabainagar u.p

May 20, 2012

राज साहब आप भी तो वोही कर रहे हैं!मैं सच कहने चला था मुझे ही आतंकवादी और गद्दार,धर्मांध बना दिया!मैं समझता था की भारत के लोग अब सुधर गये होंगे!लेकिन वो ही ५०० साल पुरानी सोच आज भी कायम है!मैं आपप सभी से पूछना चाहता हूँ की मैने किस को मारा है जो मुझे आतंकवादी कहा!मैने कौन से गद्दारी की देश के साथ जो मैं गद्दार बन गया!मेरे दादा और बाप फ्रीडम फाइटर है उसी की औलाद मैं हून तो मैं गद्दार कैसे हो गया!

sulaiman south korea

May 19, 2012

सुलेमान तुम्हारी भी वही मानसिकता हो जो है जो पाकिस्तानियों और धर्मांध मुस्लिमो की है तुम जब गिनती मे कम होते हो तो मासूमियत दिखाते हो लेकिन जहाँ पर ज़्यादा होते हो दूसरों पर ज़ुल्म करते हो...

raj lucknow

May 17, 2012

शुक्रिया हिन्दुस्तानी!!!!!

sulaiman south korea

May 17, 2012

Suleman tu sale apne ko south koria ka bata raha hai. Kamine jis desh me raharaha hai usi ki burai kar raha hai gaddar sale atankwadi

HINDUSTANI ISLAM

May 17, 2012

मुझे आपसे पूछने के ज़रूरत न्ही है जो ग़लत है वो ग़लता है चाहिए वो किससे भी देश मे हो औरतो के रेस्पेक्ट होने चाहिए छाए वो किससे भी धर्म जाती की हो

neetu new delhi

May 16, 2012

मेरी बहन नीतू जी आप भारत मे रहती है दूसरे देश में क्या होता है आप को क्या मालूम?हम से पूछो अच्छा क्ये बुरा क्या?

sulaiman south korea

May 16, 2012

इंडिया मे पाकिस्तान से जयदा मुसलमना है अगर इंडिया मे भी ऐसा होने लगे तो कैसा हो प्रर ऐसा होना कीससे भी देश मे न्ही होना चाहिए सबको पता है के पाकिस्तान मे हिंदू हे न्ही दूसरे धरमो के लोग भी डरे सहमे रहते है मजबूरी मे उन्हे इस्लाम काबुल क्रना पता है

neetu new delhi

May 15, 2012

पाकिस्तान मे तो बच्चियों को भी नहीं छोड़ते है। उनके लिए तो औरत बस मजे लेने की चीज है सब कमीने है ओसामा बिन लादेन के बारे में बता रहे थे वो भी पांच रखे था और तरबूज खाता था दबाईयां भी मिली खी उसके कमरे से

harinder singh bains ambala

May 14, 2012

इन सालो की कोई मा बहन होती नही है ये पशु के समान है(सुअर),,इतिहास गवाह है,पाकिसतान मे फिर कोठा ही नज़र आएगा ???

Rohit Kumar Dubey Uttar Pradesh Jaunpur

May 14, 2012

संतोष जी जैसे गुजरात में मुसलमानो को लूटा,इज़्ज़त लूटी,मुसलमानो को जलाया!सोचो अगर पाकिस्तान मे ऐसा हो तो कैसा होगा?

sulaiman south korea

May 13, 2012

Hindustan ke musalmano socho agar tumhare saath bhi aisa ho, jaisa ki pakistan me hinduo ke saath hota hai...

SANTOSH AURANGABAD

May 12, 2012

पाकिस्तान और भारत के बाद अब अरब को भी शामिल कर लिया! हमारा तो सब्जेक्ट ही हिस्टरी ही था!ऐसी कोई बात नही की पाकिस्तानी गोरे हैं भारत में भी तो गोरे है! यह आम बात है जहाँ सर्दी ज़्यादा होती है लोग गोरे होते हैं और अरब में गर्मी ज़्यादा होती है प्यारे और वहाँ के लोग गोरे भी नही है!आप को इतिहास तो कुछ भी नही पता?

sulaiman south korea

May 12, 2012

aap logo ko history ko dekna chaia pakisthani arab lutaro ki olad hai jab khun hi gandha hai to hum kya kar sakta hai . aap ko yakin nai ata hai to inki lambai & gorapan deko

ranawat satu bhilwara

May 12, 2012

दीपक जी दिल पे हाथ रख कर कह रहा हू की गुजरात दंगो के बाद जो बेघर हुई लड़कियाँ और जिनके साथ रेप किए गये उन्हे मेरे शहर मे लाया गया था तुम अगर उनकी बर्बादी का आलम देखते तो मेरी तरह तीन दिन तक खाना ना खाते!उन्हे किस बात की सज़ा दी गयी यह बताओ!तुम्हारे देश मे तो इंसाफ़ है ही नही!जाफ़री को आज तक इंसाफ़ नही मिला!जाँच मे मोदी को क्लीन चिट मिल रही हैजबकि मोदी कहता है की बदले की कार्रव्ाही थी!यानी कोई आपके बाप को मर्दे और बदले मे आप उसके बाप को मार दो तो कोई गुनाह नही!

sulaiman south korea

May 12, 2012

सुलेमान भाई , अपने दिल प्र हाथ राक क्र बोल , क्य हिन्दुस्तान मैं इतना बुरा ब्र्ताव करते है, मुसलमानो प्र , भाई , ये सूब जानते है की, हिन्दुस्तान मैं रहने वाला मुसलमान भाई ज्यदा कुश है या पाकिस्तान मैं .

deepak kumar roorkee

May 12, 2012

Very well said..

Inderpal Melbourne

May 11, 2012

इस खबर में सच्चाई नही है.लड़की के मा बाप की मर्ज़ी से शादी नही की तो अगवा की रिपोर्ट लिखवाई गयी थी.मैने इस मामले की छानबीन की है१ लड़कियाँ अब भी अपने पति के साथ रह रही हैं१बी जे पी अब हिंदू लड़कियो का रोना रो रही है जो गुजरात में हुआ उस पर फख्र करती है१हिंदू या और मज़हब की बेटी को अपनी बहन की नज़र से देखना चाहिए१सभी की इज़्ज़त करनी चाहिए१

sulaiman south korea

May 11, 2012

इन पाकिस्तनिओ को तो काट डालना चाहिए और जो मुस्लिम पाकिस्तान का साथ दे रहा है उन्हे पाकिस्तान भगा डेन्ना चाहिए. साले खाते भारत की है गाते पाकिस्तान की है

vishal singh pratapgarh u.p.

May 11, 2012

सुलेमान हिंदुस्तान में अल्पसंख्यकों की लड़कियों को अगवा नहीं किया जाता। जबरन धरम नहीं बदलते। जबरन शादी नहीं करते। जैसे ये पाकिस्तानी कर रहे है। क्यों भाईयों, बोलो सच है ना।

vishwanath goswami meerut

May 11, 2012

हमें पाकिस्तान के मसले में नही बोलना चाहिए वो उनका मसला है१ गुजरात में मुसलमान लड़कियों के साथ रेप हुए,एक औरत के पेट से तलवार के ज़रिए जन्म से पहले बच्चे को को मार दिया तब आप लोग क्यूँ खामोश थे?आप को शोभा नही देता की आप पाकिस्तान के खिलाफ बोलो१

sulaiman south korea

May 11, 2012

इन पाकिस्तानियो को काट के फेक देना चाहिए इनके घर मे  ब तो मा बेट  बहन है

ashish gorakhpur

May 11, 2012

yes, they do it in UK.they do in pakistan. they do it in afganistan.they do it in gulf countries. very bad.

sv rao hyderabad

May 11, 2012

ये साले पाकिस्तानी बिना मारे मानेगे नहीं ..............

Ashwani Raghav ghaziabad

May 10, 2012

Its very bad to hear this. Indian govt shud take proper action to save the modesty of hindu girls.

akansha delhi

May 10, 2012

ये पाकिस्तानी ऐसे ही है। नहीं सुधरेंगे। भारत को हमला कर देना चाहिए। मारो सालो को।

jai ojha gujrat

May 10, 2012

बिलकुल सही कहा सरजी। इन पाकिस्तानीयों को गोली मार देना चाहिए। जय हिंद।

mansingh parmar bhind


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.