02 सितम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


ठाकरे ने पूछा, मोदी ने उड़ाया बिहारियों का मजाक तो सब चुप क्‍यों ?

Updated Oct 21, 2012 at 10:27 am IST |

 

21 अक्‍टूबर 2012
आईबीएन 7

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

मुंबई।
शिव सेना प्रमुख बाल ठाकरे ने गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के कथित रूप से बिहारियों का मखौल उड़ाने वाले बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि आखिर बिहारी नेता और भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने इस मुद्दे पर चुप्पी क्यों साध रखी है। मोदी ने कथित रूप से अपने चुनाव प्रचार अभियान में कहा था कि वह गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार में किसी भी बिहारी को बर्दाश्त नहीं करेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि मोदी ने यह बयान बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को करारा जवाब देने के लिए दिया है। नीतीश कुमार ने कुछ वर्ष पहले बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान मोदी को बिहार में प्रवेश करने देने के इनकार कर दिया था। इस इनकार के पीछे नीतीश कुमार ने कानून व्यवस्था की स्थिति कायम रखने का हवाला दिया था।

ठाकरे ने अपनी पार्टी ने मुखपत्र सामना में कहा कि नीतीश कुमार ने कानून व्यवस्था की स्थिति बरकरार रखने के लिए नहीं बल्कि बिहारी मुसलमानों के बीच जनता दल यूनाइटेड (जदयू) की साख बनाए रखने और उनका वोट पाने के लिए मोदी को बिहार में आने नहीं दिया था। जदयू बिहार में भाजपा की सहयोगी पार्टी है। उन्होंने कहा कि मोदी ने बदला लेने के मकसद से ऐसा बयान दिया लेकिन इस बयान में उन्होंने नीतीश कुमार के अलावा भाजपा के अन्य सभी वरिष्ठ बिहारी नेताओं के गुजरात प्रवेश पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है। बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, राजीव प्रताप रुडी, रवि शंकर प्रसाद, शाहनवाज हुसैन और अन्य सभी नेता बिहार के ही हैं।

मोदी के इस बयान से नीतीश कुमार ही नहीं बल्कि बिहार के हर निवासी का अपमान हुआ है। लेकिन मोदी के इस बयान पर कोई विरोध नहीं हुआ। पटना हो या नई दिल्ली कहीं काले झंडे नहीं दिखाए गए। परंतु अगर यही बात महाराष्ट्र में होती तो सभी बिहारी नेता और मजदूर आत्मसम्मान की गुहार लगाते। यहां तक कि छुटभैये नेता और लालू प्रसाद यादव ने राष्ट्रीय स्तर पर यह मामला उठाया होता। उन्होंने कहा कि जब यही बात गुजरात में हुई तो सभी बिहारी नेता चुप रहे ऐसा लगता है कि जैसे गुजरात में बस मोदी ही हैं। बिहारियों को करारा जवाब देते हुए इस बार छठ पूजा नर्मदा नदी के तट पर ही करनी चहिए।

 

मोदी का पलटवार, बिहार BJP नेताओं की गुजरात में ‘नो एंट्री’ 

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 4 वोट मिले

पाठकों की राय | 21 Oct 2012

Oct 28, 2012

Bala saheb thakre ji mai to u.P ka hu. Lekin aap jate jate plz sar aisa kae jaiye ki shiv sena mai sirf hindou vad srahe apne desh ke liye rahe aap ki soch bahut hi aachi rahi hai lekin aap se nivedan hai ki ye sab bhed bhav ko khatam kar ke ek nyi chach naya roup gathan kare aap jaisa ek aacha aour imandar neta aour swabhimani hindou vadi hona ye bharat mata ka aasirvad hai hum sabko sabhi hindou vadiyo ko desh vasyo ko aap ki jarurat hai aap jaldi se swasth ho jaye aour hum sab ke bicch me aap ki bahut hi jarurat hai kyon ki mumbai ki rakchha aap ke hath mai hai aapapne nirnay aour suchh buchh se kripya koi apne jaisa hi neta samne kare.Jay hind jay maharatra

Ankit S.N Tripathi Navi Mumbai

Oct 22, 2012

मैं पूरी तरह से एश बात से सहमत हू, भाई एश तरह की राजनीति से उपर उठ कर देश की प्रगती के बारे मैं सोचो वरना देश ख़तम हो जायगा , जे भारत

akhouri abhisek New Delhi

Oct 22, 2012

क्यों की मोदी शेर है , गर्जना करता है ,और तू शेरी का

D.G.PATEL U.S.A.


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.