01 नवम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


‘भारत बंद’ का बयान-ए-हाल

Updated Sep 20, 2012 at 18:24 pm IST |

 

20 सितम्बर 2012
इंडो-एशियन न्यूज सर्विस

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

पटना। केन्द्र सरकार के आर्थिक नीतियों के कारण बढ़ी महंगाई, डीजल मूल्य वृद्घि और रसोई गैस की राशनिंग के विरोध में गुरूवार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दलों और वामदलों के भारत बंद के दौरान बिहार में बंद समर्थकों ने कई अनोखे के तरीके अपनाकर विरोध दर्ज किया।

बेगूसराय में एक विधायक ने करीब एक किलोमीटर तक लोगों को बैठाकर खुद रिक्शा चलाया तो पटना में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के समर्थकों ने बैलगाड़ी की सवारी की। भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद साइकिल की सवारी कर भाजपा कार्यालय पहुंचे।

बिहार: ‘भारत बंद’ का असर, रोकी गईं ट्रेनें

बिहार के बेगूसराय जिले के नगर विधायक और भाजपा के नेता सुरेन्द्र मेहता ने बंद केा लेकर सड़कों पर उतरे तथा डीजल में मूल्य वृद्घि का विरोध खुद रिक्शा चलाकर किया। विधायक ने स्टेशन चौक से ट्रैफिक चौक तक यात्रियों को बैठाकर रिक्शा चलया।

इस दौरान उन्होंने बंद में समर्थन देने के लिए आम लोगों को बधाई दी। विधायक ने कहा कि अब आमलोगों की स्थिति यही हो गई है। पेट्रोल के मूल्य पहले से ही ज्यादा हैं अब रही सही कसर डीजल के मूल्य में वृद्घि ने पूरी कर दी। वे कहते हैं कि केन्द्र सरकार जो भी बड़ा निर्णय लेती है वह जनविरोधी होती है जिस कारण हमलोगों को सड़क पर उतरना पड़ता है।

माया-मुलायम की मुट्ठी में मनमोहन सरकार की किस्मत

इधर, भाजपा के महिला कार्यकर्ताओं के पटना में बैलगाड़ी की सवारी कर अपना विरोध जताया। इस दौरान बैलगाड़ी पर विभिन्न प्रकार की सब्जी के साथ-साथ रसोई गैस के सिलेंडर भी रखे गए थे।

कार्यकर्ताओं का मानना है कि अब लोगों के लिए गाड़ियों पर चलना असंभव हो गया है, ऐसे में पुन: बैलगाड़ी ही आवागमन का साधन बचा है। गैस सिलेंडर भी अब केवल देखने को मिलेगी। रसोईघर में एक वर्ष में छह महीने गैस सिलेंडर नहीं ही पहुंच पाएगा।

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने केन्द्र सरकार के आर्थिक नीति के विरोध में बोरिंग रोड स्थित अपने आवास से भाजपा प्रदेश कार्यालय तक साइकिल की सवारी की। इस दौरान उनके समर्थक भी बड़ी संख्या में उनके साथ थे।

महंगाई, एफडीआई का विरोध, भाजपा का ‘भारत बंद’

उन्होंने कहा कि विदेशी कंपनियों के देश में आने से यहां के छोटे और गरीब व्यवसायी बेरोजगार हो जाएंगे तो दूसरी तरफ डीजल के मूल्य वृद्घि ने आम लोगों खासकर किसानों की कमर तोड़ दी है। उन्होंने कहा कि डीजल और पेट्रोल में हुई मूल्य वृद्घि ने गांव के लोगों को वाहन घर में सजाकर रख देने के लिए मजबूर कर दिया है जिस कारण साइकिल की सवारी रह गई है।

डीजल, रसोई गैस ने लगाई आग, सड़कों पर उतरे लोग

फूटा महंगाई बम, डीजल हुआ 5 रुपये महंगा

 

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 1 वोट मिले

पाठकों की राय | 20 Sep 2012


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.