26 जुलाई 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


PM पद पर NDA में घमासान, मोदी या सुषमा?

Updated Jan 29, 2013 at 18:49 pm IST |

 

29 जनवरी 2013
एजेंसियां

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

नई दिल्ली। पहले यशवंत सिन्‍हा फिर राम जेठमलानी और अब शिवसेना के प्रवक्‍ता संजय राउत के बयानों से साफ हो गया है एनडीए में प्रधानमंत्री पद के उम्‍मीदवार के नाम को लेकर महायुद्ध होना तय है। सबसे पहले बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता यशवंत सिन्‍हा ने गुजरात के मुख्‍यमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्‍मीदवार बनाने की पैरवी की और सहयोगी पार्टी जेडीयू को ये कहते हुए झटका दे दिया कि कोई जाए तो जाए मोदी के आने से बीजेपी को लाभ मिलेगा। इसके दूसरे ही दिन राम जेठमलानी ने मोदी को 100 प्रतिशत धर्मनिरपेक्ष करार दे दिया। ये दो बयान आने के बाद पार्टी मुश्किल में घिरी ही थी कि शिव सेना के सांसद और प्रवक्‍ता संजय राउत ने पीएम उम्‍मीदवार के तौर पर सुषमा स्‍वराज का नाम पेश कर दिया। ध्‍यान रहे कि बाला साहेब ठाकरे ने अपने जीते जी सुषमा के नाम पर मुहर लगाई थी। दूसरी ओर मोदी के नाम पर जेडीयू पहले ही तेवर दिखा चुकी हैं। ऐसे में बीजेपी के लिए चुनाव जीतने से बड़ी उपलब्धि ये होगी कि वह शांति से अपना पीएम उम्‍मीदवार तय कर ले।     

रामजेठमलानी की वकालत

बीजेपी नेता और वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थन में उतरते हुए उन्हें धर्मनिरपेक्ष बताया है और कहा है कि नरेंद्र मोदी पीएम पद के लिए सबसे बेहतरीन उम्मीदवार हैं। हालांकि राम जेठमलानी ये कहना भी नहीं भूले कि वो फिलहाल मोदी के संपर्क में नहीं हैं। जेठमलानी ने कहा कि वो पार्टी से सस्पेंडेड हैं। वो नरेंद्र मोदी के संपर्क में नहीं हैं और न ही उन्होंने यशवंत सिन्हा से बात की है। वे ये अपनी तरफ से कह रहे हैं।

पहले भी की थी मोदी की पैरवी


जेठमलानी ने कहा कि उनके मुताबिक नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार हैं। उन्होंने कहा कि वो एक बात साफ कर देना चाहते हैं कि राजनीति में सांप्रदायिक और धर्मनिरपेक्षता, ये दो शब्द गाली बन गए हैं। राम जेठमलानी ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि वो धर्मनिरपेक्षता के बारे में नहीं जानता, लेकिन इस पर बात करता है। जहां तक मोदी की बात है तो वो 100 फीसदी धर्मनिरपेक्ष हैं। मैंने एक महीने पहले ही कहा था कि बीजेपी को अपना प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार तय कर देना चाहिए।

यशवंत सिन्‍हा ने बोले थे मोदी को बनाओ पीएम उम्‍मीदवार

इससे पहले भारतीय जनता पार्टी के नेता यशवंत सिन्हा ने भी गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को 2014 लोकसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर प्रोजेक्ट करने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने पर बीजेपी को जबरदस्त फायदा होगा। यशवंत सिन्हा ने मोदी को सांप्रदायिक बताए जाने पर भी सख्त ऐतराज जताया। एनडीए में शामिल जेडीयू की मोदी के नाम पर आपत्ति को खारिज करते हुए यशवंत सिन्हा ने कहा कि अगर मोदी के नाम पर जेडीयू को आपत्ति है तो वो साथ छोड़ सकते हैं। दरअसल बिहार में बीजेपी और जेडीयू की साझे वाली सरकार चल रही है।

जेडीयू बना रही मोदी को निशाना

जेडीयू बीजेपी का सबसे पुराना सहयोगी दल है। सिन्हा ने कहा कि बीजेपी के साथ इस गठबंधन की शुरुआत मैंने ही की थी। जेडीयू को एक व्यक्ति को निशाना बनाना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि या तो पूरी पार्टी सेक्युलर या सांप्रदायिक है। कोई एक व्यक्ति सेक्युलर या सांप्रदायिक नहीं है। एक जाएगा तो और आएंगे भी। सिन्हा ने कहा कि हम लोग जहां भी जाते हैं वहां पर कार्यकर्ता और लोग कहते हैं कि नरेंद्र मोदी को पीएम प्रोजेक्ट करना चाहिए और मेरी भी यही राय है। फैसला अब पाटी को करना है।

बीजेपी ने निजी राय बताकर पल्‍ला झाड़ा


बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने कहा है कि ये यशवंत सिन्हा की निजी राय है। जब वक्त आएगा इस पर रुख साफ किया जाएगा। पीएम पद का उम्मीदवार समय आने पर बीजेपी ही तय करेगी। उधर, जेडीयू नेता अली अनवर ने कहा है कि हमने ऐसा कुछ अभी सुना नहीं है, लेकिन उन्हें ऐसी बात नहीं कहनी चाहिए। ऐसी गैर जिम्मेदारी वाली बात हम नहीं बोल सकते हैं।

 

सुनें, जेठमलानी बोले ‘सिर्फ नरेंद्र मोदी PM बनने के काबिल हैं’

‘JDU जाती है तो जाए मोदी को बनाओ PM कैंडिडेट’

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 4 वोट मिले

पाठकों की राय | 29 Jan 2013

Jan 30, 2013

जे डी यू . नेता शरद यादव ने . मंदिर की जगह शौचालय बनने की . की थी इस लिए इसे . मार कर न डी ए से भागाओ

NAND KISHOR lateri m.p

Jan 29, 2013

मेरे हिसाब से मोदी को ही बनाना चाहिए | उमर के हिसाब से भी, तजुर्बे के हिसाब से भी, विकास के आधार पर भी,इस का तो वोही विरोध केरेंगे |जो भरष्टाचार ख़तम नही करना चाहते |

kuldip kumar Ludhiana

Jan 29, 2013

देखो जी मोदी और शुषमा को अपने पत्ते नही खोलने चहिए. |अभी ती तेल की धार देखनी होगी |

kuldip kumar Ludhiana


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.