01 नवम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


भारतीय टीम के पास नंबर एक बनने का मौका

Updated Nov 30, 2009 at 18:05 pm IST |

 

30 नवम्बर 2009
वार्ता

मुंबई।
महेन्द्र सिंह धोनी की अगुवाई में भारतीय क्रिकेट टीम अपनी सफलता के रथ को आगे दौड़ाते हुए दो दिसम्बर से यहां के ब्रेबोर्न स्टेडियम में श्रीलंका के खिलाफ शुरू होने वाले तीसरे और अंतिम क्रिकेट मैच में टेस्ट श्रृंखला जीतने का चौका लगाने और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक बनने के इरादे से उतरेगी।

तस्वीरें- भारत का कानपुर टेस्ट पर कब्जा

भारत यदि तीसरा टेस्ट जीत जाता है तो वह पहली बार आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक बन जाएगा। भारत कानपुर में दूसरा टेस्ट एक पारी और 144 रन से जीतकर श्रृंखला में 1-0 से आगे है। भारत इस समय टेस्ट रैंकिंग में दक्षिण अफ्रीका (पहले) और श्रीलंका (दूसरे) के बाद तीसरे स्थान पर है। लेकिन उनके बीच अंकों का फासला इतना कम है कि भारत मुंबई टेस्ट जीतकर नंबर एक का ताज पहन सकता है।

धोनी हालांकि इस तथ्य से पूरी तरह अवगत हैं लेकिन वह अपने खिलाड़ियों को रैंकिंग भूलकर केवल मैच पर ध्यान केन्द्रित करने की सलाह दे रहे हैं। धोनी के पास मुंबई टेस्ट जीतकर या ड्रॉ कराकर लगातार चार टेस्ट श्रृंखला जीतने का चौका लगाने का शानदार मौका है।

पढ़ें- ‘भारतीय टीम ने 9 वर्षो में 39 टेस्ट मैच जीते हैं’

माही के नाम से प्रसिद्ध धोनी ने गत वर्ष ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नागपुर में खेले गए चौथे और आखिरी टेस्ट में पूर्ण रूप से भारतीय टीम की कप्तानी संभाली थी। इससे पहले मोहाली में खेले गए दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अनिल कुंबले के घायल होने के कारण वह कार्यवाहक कप्तान बने थे। उन्होंने गत वर्ष अप्रैल में भी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कानपुर में हुए मैच में घायल कुंबले की अनुपस्थिति में कप्तानी की जिम्मेदारी संभाली थी और भारत को श्रृंखला बराबरी दिलाने वाली जीत दिलाई थी।

धोनी की कप्तानी की सफलता का सिलसिला उसी श्रृंखला से चला आ रहा है। उनकी कप्तानी में भारत ने फिर अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया से चार टेस्टों की श्रृंखला 2-0 से जीती थी। इसके बाद भारत ने इंग्लैंड को दो टेस्टों की श्रृंखला में 1-0 से हराया। इस वर्ष के शुरू में न्यूजीलैंड के दौरे में भारत ने 1-0 से ऐतिहासिक टेस्ट जीत दर्ज की।

पढ़ें- भारत की टेस्ट मैचों में तीसरी बड़ी जीत

श्रीलंका के खिलाफ मौजूदा श्रृंखला में भारत कानपुर टेस्ट में जीत हासिल कर तीन मैचों की इस श्रृंखला में 1-0 से आगे हो चुका है। मुंबई में टेस्ट जीतने या ड्रॉ कराने की स्थिति में भारत लगातार चार टेस्ट श्रृंखला जीतने का चौका लगा देगा।

धोनी अपनी कप्तानी में अबतक अपराजित चल रहे हैं। उन्होंने अपनी कप्तानी में नौ टेस्टों में छह जीते हैं और तीन ड्रॉ रखे हैं। वह भारत के सबसे सफल कप्तानों की सूची में संयुक्त पांचवें पायदान पर हैं। सौरव गांगुली 49 टेस्टों में 21 टेस्ट जीतकर चोटी पर हैं जबकि मोहम्मद अजहरूद्दीन 47 टेस्टों में 14 टेस्ट जीतकर दूसरे स्थान पर हैं। मंसूर अली खां पटौदी और सुनील गावस्कर नौ-नौ जीत के साथ संयुक्त तीसरे स्थान पर हैं। राहुल द्रविड़ 25 टेस्टों में आठ जीत के साथ चौथे स्थान पर हैं। बिशन सिंह बेदी ने 22 टेस्टों में छह जीते हैं और फिलहाल धोनी उनकी बराबरी पर हैं।

पढ़ें- टेस्ट मैचों की 100वीं जीत यादगार रहेगी- धोनी

धोनी की कप्तानी में भारत ने गत वर्ष कानपुर में दक्षिण अफ्रीका को आठ विकेट से हराया था। विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को उन्होंने मोहाली में 320 रन से और फिर नागपुर में 172 रन से शिकस्त दी थी। उन्होंने इंग्लैंड से चेन्नई में पहला टेस्ट छह विकेट से जीता था। न्यूजीलैंड के दौरे में हैमिल्टन में धोनी ने दस विकेट से जीत हासिल की और अब कानपुर में दूसरे टेस्ट में श्रीलंका को एक पारी और 144 रन से हराकर भारत की सौंवी जीत का श्रेय अपने नाम लिखवा लिया।

अब उनके सामने ब्रेबोर्न स्टेडियम में होने वाला टेस्ट है। ब्रेबोर्न खुद 36 वर्ष बाद किसी टेस्ट का आयोजन कर रहा है। इस मैच में ब्रेबोर्न के लिए भी ऐतिहासिक मौका है और धोनी के लिए भी नवम्बर एक बनने का इतिहास रचने का मौका है।

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 3 वोट मिले

पाठकों की राय | 30 Nov 2009


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.