19 सितम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


इंग्लैंड को राजकोट में मौसम, भाग्य बदलने का भरोसा

Updated Jan 09, 2013 at 16:30 pm IST |

 

09 जनवरी 2013
वार्ता

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

नई दिल्ली। दिल्ली की कड़ाके की सर्दी में लगातार दो एकदिवसीय अभ्यास मैच हारने के बाद भ्रमणकारी इंग्लैंड को राजकोट में मौसम के साथ-साथ अपना भाग्य बदलने का भी भरोसा है। राजकोट में भारत और इंग्लैंड के बीच पांच एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैचों की सीरीज का पहला मैच शुक्रवार को खेला जाएगा। भारत दौरे पर एकदिवसीय सीरीज के लिए वापिस लौटने के बाद इंग्लैंड को गत रविवार को पालम मैदान में भारत-ए से और फिर फिरोजजशाह कोटला मैदान में दिल्ली से करारी हार का सामना करना पड़ा था जिससे उसकी एकदिवसीय सीरीज की तैयारियों को गहरा झटका लगा। इंग्लैंड भारत-ए से 53 रन से और दिल्ली के खिलाफ पांच विकेट पर 294 रन का मजबूत स्कोर बनाने के बावजूद छह विकेट से हार गया था।

टेस्ट सीरीज में भारत को 2-1 से हराया

हालांकि इंग्लैंड ने टेस्ट सीरीज से पहले भी अभ्यास मैचों में सामान्य प्रदर्शन किया था, लेकिन अहमदाबाद में पहला टेस्ट हारने के बाद उसने जोरदार वापसी करते हुए मुंबई और कोलकाता में अगले दो टेस्ट जीतकर चार मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी। इंग्लैंड की भारत में 28 वर्षों के लंबे अंतराल के बाद यह पहली टेस्ट सीरीज जीत थी। इंग्लैंड ने भारत में अपनी पिछली दो वनडे सीरीज 0-5 के अंतर से गंवाई थी, लेकिन मौजूदा इंग्लिश टीम पहले से कहीं बेहतर दिखाई दे रही है और राजकोट में बदली परिस्थितियों में वह बेहतर प्रदर्शन कर सकती है।

राजकोट में तापमान दिल्ली के सर्द मौसम के मुकाबले ज्यादा बेहतर रहेगा और राजकोट में 20 डिग्री के तापमान के मौसम में इंग्लैंड के लिए खेलना आसान रहेगा। इंग्लैंड के स्पिनर जेम्स ट्रेडवेल ने कहा, दिल्ली में काफी सर्द हवाएं चल रही थीं और राजकोट के अपेक्षाकृत अच्छे मौसम में हम चीजों को बदल सकते हैं। वैसे हार के लिए कोई बहाना नहीं होता है, लेकिन निश्चित रूप से इन दो पराजयों से सबक लेकर पहले वनडे में अपने प्रदर्शन में सुधार लाएंगे। इंग्लैंड के नये सीमित ओवरों के कोच एश्ले जाइल्स को भी वनडे सीरीज के लिए अपनी रणनीति में परिवर्तन लाना होगा। इंग्लैंड ने वनडे सीरीज के लिए अपने प्रमुख गेंदबाज जेम्स एंडरसन और घायल स्टुअर्ट ब्रॉड को विश्राम दे रखा है। इनकी अनुपस्थिति में टिम ब्रेसनन, स्टुअर्ट मीकर, क्रिस वोक्स और जेड डर्नबाख को वनडे के नये नियमों के तहत ज्यादा अच्छा प्रदर्शन करना होगा।

नये नियमों में पावर प्ले के समय को छोड़कर बाउंड्री के फील्डरों की संख्या पांच से चार रह जाती है जिसका फायदा बल्लेबाजी करने वाली टीम उठा सकती है। ट्रेडवेल ने साथ ही कहा, अभ्यास मैचों को लेकर कोई निष्कर्ष नहीं निकालना चाहिए। इन परिणामों का कोई महत्व नहीं होता, लेकिन फ्रि भी हमें प्रदर्शन में सुधार तो करना ही होगा।

पीटरसनः युवी हैं सबसे खतरनाक बल्लेबाज

इंग्लैंड के खिलाफ टीम घोषित, वीरू आउट, पुजारा इन

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 0 वोट मिले

पाठकों की राय | 09 Jan 2013


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.