26 जुलाई 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


टीम इंडिया को अब ‘चांद’ चाहिए!

Updated Jan 04, 2013 at 11:32 am IST |

 

04 जनवरी 2013
hindi.in.com
संजीत कुमार

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

मुंबई। पिछले साल टीम इंडिया के शेर विदेशी पिचों पर रन बनाने के लिए तरस रहे थे। तकनीक की खामी को मानने की जगह तेज उछाल भरी पिचों को बहाना बनाया जा रहा था। लेकिन अब जब टीम घरेलू पिचों पर खेल रही है तब भी उसके बल्ले खामोश हैं। वीरेंद्र सहवाग से लेकर सुरेश रैना और विराट कोहली तक सभी लगातार फेल हो रहे हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि अब क्या टीम इंडिया के धुरंधर चांद पर रन बनाएंगे?

पाक का सीरीज पर कब्जा

पाकिस्तान ने तीन वनडे की सीरीज में लगातार दूसरी बार भारत को पटखनी देकर सीरीज पर कब्जा कर लिया है। पाकिस्तान टीम के 250 रन के जवाब में टीम इंडिया शर्मनाक 165 रनों पर सिमट गई। दरअसल, कोलकाता में जीत के लिए 251 रनों का पीछा करने उतरी टीम इंडिया को पाकिस्तान ने 85 रन से हरा दिया। टीम इंडिया महज 165 रनों पर आउट हो गई। 42 रन पर पहला विकेट क्या गिरा। बल्लेबाज़ों ने आने-जाने का सिलसिला चेन्नई वनडे की तरह शुरू कर दिया। 10वें ओवर में पहला विकेट खोनी वाली टीम इंडिया ने 31वें ओवर पहुंचते-पहुंचते महज 61 रन जोड़ पाई और इस दौरान उन्होंने अपने 5 और विकेट को दिए।

दहाई तक नहीं पहुंच सके 6 बल्लेबाज

भारतीय बल्लेबाजों की नाकामी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सबसे अधिक 54 रन बनाए। धोनी ने अपनी नाबाद पारी में 89 गेंदों का सामना करते हुए चार चौके और एक छक्का लगाया। सहवाग ने 31 रन बनाए। सहवाग को ये रन बनाने के लिए अपनी आदत के खिलाफ 43 गेंदों का सामना करना पड़ा। जबकि 6 बल्लेबाज दहाईं तक नहीं पहुंच सके।

सचिन को बना रहे थे निशाना

कहा जा रहा था कि सचिन तेंदुलकर के टीम में रहने से युवा बल्लेबाजों के रास्ते रुके हुए हैं। लेकिन कोई भी युवा रन बनाने में सफल नहीं हो पा रहा। विदेशी पिचों पर वनडे में शतक लगाने वाले विराट कोहली घरेलू पिचों पर 50 का आंकड़ा तक नहीं छू पा रहे। कभी स्पिन तो कभी रफ्तार के आगे वे घुटने टेक देते हैं।

सलामी जोड़ी फ्लॉप

यही हाल गौतम गंभीर और वीरेंद्र सहवाग का है। टीम के सबसे अनुभवी बल्लेबाजों में शुमार ये दोनों लगातार फ्लॉप हो रहे हैं। दिसंबर 2011 में ऐतिहासिक दोहरा शतक लगाने के बाद से वनडे में वीरू का बल्ला शांत है। हंबनतोता में 96 रन के अलावा वे पिछली 12 पारियों में 50 का आंकड़ा पार नहीं कर पाए।

अब घर के भी शेर नहीं रहे इंडियन

टीम की इस हार ने कुछ अहम सवाल खड़े किए हैं। पिछले साल जब टीम इंडिया इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में हारी थी तो कप्तान से लेकर हर सीनियर खिलाड़ी तक ने यही कहा था कि घर पर तो हम भी शेर हैं। लेकिन ये कागजी शेर घर पर भी ढेर हो गए।

श्रीकांतः पूरी टीम इंडिया बदल दो

धोनी का पुराना बहाना, गंभीर-वीरू ने हराया सर!

2nd ODI: लो, घर में धुले धोनी के धुरंधर

 

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 4 वोट मिले

पाठकों की राय | 04 Jan 2013

Jan 04, 2013

चाँद नही मंगल पर भेज दो

shyam mumbai


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.