25 नवम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


नागपुर में लाज बचाने उतरेगा भारत

Updated Dec 12, 2012 at 13:51 pm IST |

 

12 दिसम्बर 2012
वार्ता

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?


नागपुर।
घरेलू जमीन पर लगातार दो टेस्ट हारने के बाद मुसीबतों के भंवर में फंसी टीम इंडिया को अगर इस स्थिति से बाहर निकलना है तो उसे इंग्लैंड के खिलाफ गुरूवार से शुरू हो रहे चौथे और आखिरी टेस्ट मैच में हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी। भारत चार मैचों की सीरीज में 1-2 से पिछड़ा हुआ है और सीरीज ड्रॉ कराने के लिए उसके पास नागपुर टेस्ट जीतने के अलावा कोई चारा नहीं है।

सीरीज शुरू होने से पहले माना जा रहा था कि भारत घरेलू जमीन पर अंग्रेजों का सूपडा साफ करके पिछले साल इंग्लैंड दौरे पर मिली 0-4 की हार के कलंक को धो देगा। टीम इंडिया ने अहमदाबाद में पहला टेस्ट जीतकर जबर्दस्त शुरूआत की लेकिन इसके बाद उसे मुंबई में दस विकेट से और कोलकाता में सात विकेट से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा।

अब अगर भारत नागपुर टेस्ट भी गंवा देता है तो साल 2004 के बाद उसकी घरेलू जमीन पर टेस्ट सीरीज में यह पहली हार होगी। तब उसे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की सीरीज में 2-1 से शिकस्त का सामना करना पड़ा था। इंग्लैंड ने जिस शानदार अंदाज में पिछले दो टेस्ट जीते हैं उससे टीम के हौंसले बुलंद हैं जबकि टीम इंडिया में हाहाकार मचा हुआ है।

घरेलू जमीन पर 1999-2000 के बाद पहली बार लगातार दो टेस्ट गंवाने से सकते में आए भारतीय चयनकर्ताओं ने कड़ा फैसला लेते हुए खराब फार्म से जूझ रहे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जहीर खान, युवराज सिंह और ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को नागपुर टेस्ट से बाहर कर दिया था। उनकी जगह दिल्ली के तेज गेंदबाज परविंदर अवाना, सौराष्ट्र के ऑलराउंडर रवीन्द्र जडेजा और लेग स्पिनर पीयूष चावला टीम में जगह मिली है।

इंग्लैंड को सीरीज जीतने से रोकने के लिए भारतीय टीम को पिछले दो मैचों में मिले हार के दर्द को भुलाकर नए सिरे से शुरूआत करनी होगी। लेकिन यह इतना आसान भी नहीं है, टीम के अधिकांश बल्लेबाज आउट ऑफ फार्म चल रहे हैं और अपना खोया आत्मविश्वास हासिल करने के लिए किसी बड़ी पारी की तलाश में है।

ओपनर गौतम गंभीर और वीरेन्द्र सहवाग ने टुकड़ों में अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन नागपुर में टीम को अपनी इस ओपनिंग जोड़ी से ठोस शुरूआत की उम्मीद रहेगी। गंभीर ने कोलकाता में पहली पारी में 60 और दूसरी पारी में 40 रन बनाए जबकि सहवाग ने 23 और 49 रन की पारियां खेली। सहवाग ने कोलकाता टेस्ट में हार के बाद कहा था कि भारतीय बल्लेबाजों को संयम दिखाने की जरूरत है और यह देखना है कि वह नागपुर में खुद कितना संयम दिखा पाते हैं।

खराब फॉर्म से जूझ रहे मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर भी आजकल आलोचकों के निशाने पर हैं। सचिन जनवरी 2011 के बाद से अब तक कोई टेस्ट शतक नहीं ठोक पाए हैं और उन पर लगातार दबाव बढ़ता जा रहा है। कोलकाता में हालांकि पहली पारी में उन्होंने 76 रन बनाए थे, लेकिन दूसरी पारी में वह सस्ते में निपट गए थे। सचिन का नागपुर में बेहतरीन प्रदर्शन रहा है और टीम इंडिया उम्मीद करेगी कि मास्टर ब्लास्टर एक बड़ी पारी खेलकर उसे संकट से निकाल ले।

मध्यक्रम में टीम के लिए बड़ा स्कोर बनाने की जिम्मेदारी चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली और अजिंक्या रहाणे पर रहेगी। युवराज को बाहर किए जाने के कारण रहाणे को उनी जगह अंतिम एकादश में जगह मिल सकती है। कोलकाता टेस्ट को छोड़ दिया जाए तो पुजारा ने सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन कोहली पर भारी दबाव रहेगा। वह इस सीरीज में अभी तक 17.00 के बेहद खराब औसत से मात्र 85 रन ही बना पाए हैं।

कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी कभी सातवें नंबर पर बेहतरीन टेस्ट बल्लेबाज हुआ करते थे, लेकिन इस सीरीज में उनकी कप्तानी और बल्लेबाजी दोनों सुपर फ्लॉप साबित हुई हैं। उन्होंने इस सीरीज में पांच पारियों में कुल जमा 93 रन बनाए हैं। इस मैच में धोनी के लिए बहुत कुछ दाव पर लगा होगा। उन्हें टेस्ट की कप्तानी से हटाए जाने की मांग उठ रही है और नागपुर में हारने की स्थिति में तो उनकी मुसीबत बहुत बढ़ जाएगी।

स्पिनरों को खेलने में माहिर माने जाने वाले टीम इंडिया के दिग्गज बल्लेबाज इंग्लैंड के ऑफ स्पिनर ग्रीम स्वान और बाएं हाथ के स्पिनर मोंटी पनेसर के सामने पानी मांगते नजर आ रहे हैं। धोनी ने मुंबई और कोलकाता में स्पिन ट्रैक मांगे जो उनके लिए भस्मासुर साबित हुए। माना जा रहा है कि नागपुर की पिच दूसरे दिन से स्पिनरों को मदद करेगी जो फिर टीम इंडिया के लिए मुसीबत का सबब बन सकती है।

भारत के गेंदबाज भी सीरीज में अब तक फ्लॉप ही साबित हुए हैं। न तो टीम इंडिया के तेज गेंदबाज और न ही स्पिनर अंग्रेजों के समक्ष कोई चुनौती पेश कर पाए हैं। टीम के प्रमुख तेज गेंदबाज जहीर को नागपुर टेस्ट के लिए बाहर कर दिया गया है। उनकी जगह बंगाल के अशोक डिंडा या दिल्ली के परविंदर अवाना में से किसी एक को जगह मिल सकती है। ऐसे में ईशांत शर्मा टीम के मुख्य तेज गेंदबाज की भूमिका में रहेंगे।

स्पिन विभाग की जिम्मेदारी एक बार फिर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और बाएं हाथ के स्पिनर प्रज्ञान ओझा निभाएंगे। हालांकि तीसरे स्पिनर के रूप में पीयूष चावला टीम में मौजूद हैं, लेकिन उनको खेलाने की संभावना कम ही है। अगर धोनी तीसरे स्पिनर का विकल्प चुनते हैं तो ऐसे में पीयूष जहीर की जगह ले सकते हैं।

दूसरी तरफ भारत को लगातार दो टेस्टों में पटखनी देने के बाद इंग्लैंड के हौसले सातवें आसमान पर हैं। उसे 1985-86 के बाद पहली बार भारत में टेस्ट सीरीज जीतने की संभावना दिखाई दे रही है और नागपुर टेस्ट ड्रॉ कराने की स्थिति में भी टीम यह उपलब्धि हासिल कर लेगी। इंग्लैंड के हर खिलाड़ी ने अपनी भूमिका को बखूबी निभाया और यही कारण है कि इस मैच में अंतिम एकादश में कोई बदलाव होने की संभावना नहीं है।

इंग्लिश कप्तान एलेस्टेयर कुक ने सीरीज में शानदार प्रदर्शन करते हुए अपनी टीम का हर मोर्चे पर नेतृत्व किया है। उनके अलावा स्टार बल्लेबाज केविन पीटरसन भी भारतीय स्पिनरों के लिए एक बार फिर सिरदर्द साबित हो सकते हैं। कुक और पीटरसन के अलावा ओपनर निक कॉम्पटन और जोनाथन ट्रॉट भी शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। इंग्लिश टीम में समित पटेल और इयान बेल ही ऐसे बल्लेबाज हैं तो अभी तक अपनी छाप नहीं छोड़ पाए हैं।

इंग्लैंड की गेंदबाजों ने भी बेहद शानदार प्रदर्शन किया है। जेम्स एंडरसन और स्टीवन फिर ने कोलकाता में अपनी रिवर्स स्विंग से भारतीय बल्लेबाजो को काफी परेशान किया था जबकि पनेसर और स्वान ने उपमहाद्वीप की पिचों का सही इस्तेमाल करते हुए अपनी टीम को आगे रखा है। एक बार फिर टीम को अपने गेंदबाजों से शानदार प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी।

 
 
 
 
 

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 1 वोट मिले

पाठकों की राय | 12 Dec 2012

Dec 12, 2012

Tyar rahiye ek or haar ke liye....

Pankaj Delhi


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.