01 सितम्बर 2014

न्यूजलैटर सब्सक्राइब करें

CLOSE

Sign Up


क्या बोझ बन गए क्रिकेट के ‘भगवान’?

Updated Dec 10, 2012 at 15:58 pm IST |

 

10 दिसम्बर 2012
hindi.in.com
संजीत कुमार

facebook पर hindi.in.com पेज को LIKE किया क्या?

मुंबई।
इंग्‍लैंड के मौजूदा सीरीज में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बल्‍ले पर तो एक तरह से विराम ही लग गया है। लगातार खराब प्रदर्शन के चलते सचिन पर संन्यास का दवाब बढ़ता जा रहा है और उनके प्रदर्शन को लेकर यह सवाल उठने लगे हैं कि क्या क्रिकेट के ‘भगवान’ टीम इंडिया पर बोझ बन गए हैं। गौरतलब है कि इंग्‍लैंड के खिलाफ सीरीज की पिछली पांच पारियों में केवल 110 रन बनाने वाले सचिन ने पिछले दो वर्षों से एक भी शतक नहीं लगाया है और लगातार संघर्ष कर रहे है।

फॉर्म के लिए काफी जद्दोजहद

यह कोई पहला मौका नहीं है जब सचिन प्रदर्शन के खराब दौर से गुजर रहे हैं। ऐसा वाकया उनकी जिंदगी में पहले कई दफा आए हैं। और हर बार वे मजबूत व दमदार प्रदर्शन के बलबूते सामने आए और अपने बल्‍ले से सभी आलोचकों के मुंह बंद कर दिया। पूर्व में उनके दमदार क्रिकेट प्रेमियों ने कई बार किया, लेकिन इस बार अपने फॉर्म को वापस पाने में काफी जद्दोजहद करनी पड़ रही है और इसमें वे बार-बार फेल हो रहे हैं।

पूर्व क्रिकेटरों ने दी सलाह

सचिन लंबे समय से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे हैं और ऐसे में उनके संन्यास को लेकर दबाव और सवाल उठना लाजिमी ही है। इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा टेस्ट सीरीज के पिछले तीन मैचों में भी सचिन का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है। सचिन के इसी आउट ऑफ फार्म होने के चलते सुनील गावस्कर, कपिल देव, सौरभ गांगुली, पूर्व इंग्लिश कप्तान माइकल वॉन तक ने सचिन को संन्यास लेने की सलाह दे डाली। गावस्कर और कपिल ने यहां तक कह दिया सचिन अब अपने भविष्य के बारे में चयनकर्ताओं से बात करें और संन्‍यास को लेकर कोई सम्‍मानजनक रास्‍ता अख्तियार करें।

गांगुली- मैं सचिन होता तो संन्यास ले लेता

अपनी कप्‍तानी में टीम इंडिया का कायापलट करने वाले भारत के पूर्व कप्‍तान सौरभ गांगुली ने सचिन तेंदुलकर की आलोचना करते हुए कहा है कि अगर मैं सचिन तेंदुलकर होता तो अब तक सन्‍यास ले लेता। यह पहला मौका है जब सौरव ने सचिन के सन्‍यास के बारे में खुलकर बोला है, साथ ही उन्‍होने यह भी कहा कि यह सही समय है जब सचिन को अपने भविष्‍य का फैसला करना चाहिए।

वॉन- सचिन का ग्लव्स टांगने का वक्त आ गया

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने सचिन तेंदुलकर को रिकी पोंटिंग की राह पर चलने का सुझाव दिया है। वॉन के मुताबिक तेंदुलकर का ग्लव्स टांगने का वक्त आ गया है। उन्हें भी पॉन्टिंग की राह पर चल देना चाहिए।

मुंबई में हाय-हाय के नारे, भोपाल में पुतला जला

दरअसल, परेशानी यह भी है कि सचिन खुलकर संन्‍यास पर बात नहीं करते हैं और चयनकर्ता भी इस मसले पर चुप्‍पी साधे हुए हैं। इस तरह एक असमंजस की स्थिति बन गई है और क्रिकेटप्रेमी भी अब इसको लेकर आलोचना पर उतर आए हैं। सचिन को करियर में पहली बार अपने ही घरेलू मैदान पर हाय-हाय के नारे सुनने को मिले जब वह इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में दोनों पारियों में 16 रन बनाकर आउट हुए। यहीं नहीं, कोलकाता टेस्ट में टीम इंडिया की इंग्लैंड के हाथों शर्मनाक हार के बाद भोपाल में क्रिकेट प्रेमियों ने कप्तान धोनी और सचिन के पुतले फूंके।

पोंटिंग गए, अब सचिन की बारी

ऑस्टेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग के संन्यास के ऐलान के बाद सचिन पर कयासबाजी तेज हो गई। क्या सचिन भी पोंटिंग की तर्ज पर ऐसा कुछ कदम उठाएंगे। पिछले साल भर से सचिन भी लगातार अपनी फॉर्म से जूझ रहे हैं।

ब्रांड वैल्यू के मोह में सचिन

कहा तो यह भी जा रहा है कि सचिन तेंदुलकर अपने ब्रांड वैल्यू के कारण क्रिकेट को अलविदा नहीं कह पा रहे हैं। सचिन ने अगर टीम इंडिया से अलविदा हो गए, तो मार्केट में उनकी वैल्यू गिर जाएगी और फिर कंपनियां सचिन को पूछेंगे तक नहीं।

सचिन ने दिए थे संन्यास के संकेत

हालांकि दुनिया के महान क्रिकेटर सचिन ने कुछ माह पहले संकेत दिया था कि अब समय आ गया है, जब वे संन्यास के मुद्दे पर गहराई से सोच सकते हैं। लंबे समय से सचिन की उम्र को आधार बनाकर आलोचक उनके संन्यास की बात उठाते रहे हैं, लेकिन सचिन ने हमेशा अपने प्रदर्शन से जवाब देकर उनके मुंह पर ताले लगा दिए। लेकिन अब सचिन खुद भी उम्र के इस पड़ाव पर भविष्य को लेकर फैसला लेना चाहते हैं। हाल में उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा भी था कि वे नवंबर तक सीरीज दर सीरीज अपने खेल की समीक्षा करेंगे और फिर भविष्य की योजना बनाएंगे। उनका यह भी कहना था कि क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला अपने दिल की बात सुनकर ही करेंगे।

23 वर्षों के अपने क्रिकेट करियर में सचिन ने कई कीर्तिमान रचे और ऐसे अनोखे रिकॉर्ड स्‍थापित किए, जिसका निकट भविष्‍य में टूटना असंभव है। पर उम्र के इस पड़ाव पर कुछ थके नजर आ रहे सचिन को अब भविष्‍य के बारे में निश्चित ही सोचना चाहिए। खासकर जब उनके साथी खिलाड़ी क्रिकेट जगत को अलविदा कह रहे हों।

 
 

 

यह खबर आपको कैसी लगी

10 में से 7 वोट मिले

पाठकों की राय | 10 Dec 2012

Dec 16, 2012

जब तक उसको भारतरत्न नही मिलेगा , रिटायर नही होगा.

D.G.PATEL U.S.A.

Dec 15, 2012

.सचिन के बारे मे ऐसी बात करने का हम लोगो को कोई हक न्ही बनता वो एक महान क्रिकएटेर हैऔर अपनी खेल की मर्यादा जानते है अत सन्यास की बात उनके उपर ही छोड़ देना उचित होगा क्रिकेटउनकी जिंदगी है,

AWANISH RAI LUCKNOW

Dec 15, 2012

सचिनओरकॉंग्रेसदोनोअबदेशपरबोज़बनचुकेहै,दोनोनेपहलेदेशकेलिएकामकिया,लेकिनअबदेशकोये खुदख़ुदउतारफेकनापड़ेगा,

rajesh rohtak

Dec 15, 2012

सचिन एक महान खिलाड़ी है,ओटीम के लिए कभी बोझ नही बन सकते .इनका टीम मे होना ही सामने वाले टीम के लिए काफ़ी है.

AJIT KUMAR THAKUR MUZAFFARPUIR

Dec 15, 2012

सचिन कुछ करके जाएँगा वो इतनी जल्दी हार नही मानेगा......... सचिन इस बेस्ट........

Mohan Kolkata

Dec 15, 2012

Yes wo ab ek burden hai indian cricket ke liye.. Retirement jaldi se le lena chahiye..

Pankaj Delhi

Dec 14, 2012

सचिंजी ब्रांड वेल्यू के चक्कर के लालच मे पड़े हे और दिन प्रति दिन अपना सम्मान घटा रहे हे / हर हालत मे उन्हे रिटायर तो होना ही पड़ेगा/ कितना अच्छा हो वो शान से जाए/ अगले कई वर्षो तक उनके कीर्तिमान टूटने वाले नही हे / और शायद इतना पेसा तो कमा ही लिया हे की भविष्य मे आराम से रह सके/

N.K.Tiwari Ujjain (M.p.)

Dec 13, 2012

घंटा प्रसाद

mukti delhi

Dec 11, 2012

हाँ सचिन वाज़ गोद ऑफ क्रिकेट

shyam delhi

Dec 11, 2012

लगता है सचिन . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .. . . . . . . Azm delhi

azm delhi

Dec 11, 2012

हाँ सचिन अब बोझ बन गया है

dimpel piple

Dec 10, 2012

सचिन उन लोगो मैं शामिल हो गया हे, जो गलियाँ खा कर रिटाइर . हे , उसने जो नाम कमाया वो ज़बरदस्ती खेल कर गवाँ रहा हे, 20 फ्लाप परियो के बाद एक शतक लगाना महानता की निशानी नही हे. अगर सचिन मैं थोड़ी भी शर्म बची हे तो उसे रिटाइयर्मेंट ले लेनी चाहिए

rakesh chandigarh


कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का इस्तेमाल न करें। अभद्र शब्दों का इस्तेमाल आपको इस साइट पर राय देने से प्रतिबंधित किए जाने का कारण बन सकता है। सभी टिप्पणियां समुचित जांच के बाद प्रकशित की जाएंगी।
नाम
शहर
इमेल

आज के वीडियो

प्रमुख ख़बरें

Live TV  |  Stock Market India  |  IBNLive News  |  Cricket News  |  In.com  |  Latest Movie Songs  |  Latest Videos  |  Play Online Games  |  Rss Feed  |  हमारे बारे में  |  हमारा पता  |  हमें बताइए  |  विज्ञापन  |  अस्वीकरण  |  गोपनीयता  |  शर्तें  |  साइट जानकारी
© 2011, Web18 Software Services Ltd. All Rights Reserved.