IBN7IBN7

अहंकारी बॉस होते हैं हीन भावना से ग्रस्त!

Published on Nov 23, 2014 at 14:55
0 IBNKhabar

ओरलैंडो। अहंकारी और अक्खड़ किस्म के बॉस अक्सर हीन भावना का शिकार होते हैं और अपनी नाकामियों और अक्षमताओं को छुपाने के लिए अपने मातहत पर जानबूझकर दबाव बनाते हैं जिससे न सिर्फ कार्यस्थल पर कामकाज का माहौल खराब होता है बल्कि इससे पूरे दफ्तर को भी नुकसान पहुंचता है।

अमेरिका के एकरान और मिशिगन विश्वविद्यालय में मनोविज्ञान विषय में अनुसंधान कर रहे वैज्ञानिकों ने अपने ताजा शोध रिपोर्ट में यह खुलासा किया है। वैज्ञानिकों ने कार्यस्थल में अधिकारियों में अहंकार का स्तर नापने के लिए वर्क प्लेस एरोगैंस स्केल के नाम से एक पैमाना तैयार किया है। इस पैमाने पर अहंकार का स्तर नाप कर उनके व्यक्तित्व के बारे में निष्कर्ष निकाला जाता है।

मां ही बनाती हैं लड़कियों को ज्यादा समझदार

Published on Nov 14, 2014 at 11:01 | Updated Nov 14, 2014 at 11:35
0 IBNKhabar

लंदन| माताएं बातचीत के दौरान बेटे के बजाय बेटी से ज्यादा भावनात्मक रूप से घुली-मिली होती हैं और इस प्रक्रिया में लड़कों की अपेक्षा लड़कियां भावनात्मक रूप से ज्यादा बुद्धिमान होकर निखरती हैं। यह खुलासा एक नए शोध में किया गया है। शोध में कहा गया कि माताएं, पिता की तुलना में अधिक भावनात्मक शब्दों का इस्तेमाल करती हैं, और इस तरह वह अनजाने में अपने बच्चों में लैंगिक रूढ़ियों को मजबूत कर रही होती हैं।

ब्रिटेन की सरे विश्वविद्यालय की हेरिएट तेनेनबॉम ने बताया कि हमारे शोध में सामने आया कि माता-पिता और बच्चे की बातचीत लिंगभेदी होती है। साथ ही शोध में पता चला कि मां अपने लड़कों की तुलना में लड़की से ज्यादा खुलकर बात करती है। इस शोध के लिए शोधकर्ताओं ने स्पेन के 65 अभिभावकों और उनके चार और छह साल के बच्चों को कहानी कहते हुए कार्य करने और अतीत के अनुभवों पर बातचीत करने के लिए कहा था।

पारिवारिक रिश्तों की गर्माहट छीन रहे हैं स्मार्टफोन

Published on Nov 05, 2014 at 07:06
0 IBNKhabar

लंदन। एक रिसर्च में कहा गया है कि आधी रात में स्मार्टफोन का बार-बार इस्तेमाल करने की वजह से रिश्तों की गर्माहट खत्म हो रही है, जिसके नतीजे ब्रेकअप, फरेब और तलाक के रूप में सामने आ रहे हैं। इस निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड युनिवर्सिटी के रिसर्चकर्ताओं ने 24,000 विवाहित जोड़ों पर रिसर्च किया।

रिसर्चकर्ताओं को सोशल नेटवर्किंग साइटों और वैवाहिक जीवन की संतुष्टि के बीच एक सीधा जुड़ाव मिला। रिसर्चकर्ताओं ने उल्लेख किया कि दंपति सोशल मीडिया पर अन्यों की मजेदार जिंदगी के बारे में जितना अधिक पढ़ेंगे, उनके द्वारा अपनी जिंदगी को उतनी ही अधिक निराशा और उपेक्षा की नजर से देखने की आशंका रहेगी।

भाई की लंबी आयु का पर्व है 'भाई दूज'

Published on Oct 25, 2014 at 14:31 | Updated Oct 26, 2014 at 09:22
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। आज भाई की लंबी आयु का पर्व भाई दूज मनाया जा रहा है। भाई दूज का पर्व कार्तिक शुक्ल पक्ष के द्वितीया को मनाया जाता है। बहने इस दिन भाई की लंबी आयु की कामना करती हैं। भाई के हाथ में अक्षत चंदन, रोली, गुलाल, सिक्का रखती हैं।

इस दिन बहने भाई की आरती उतारती हैं, भाई को अपने हाथों से मिठाई खिलाती हैं। इस दिन भाई-बहन का यमुना में डुबकी लगाना शुभ होता है। यमुना में स्नान करने से भाई को सुख की प्राप्ति होती है। साथ ही इस पर्व में गोधन कूटने की भी परंपरा है। बहने सुबह गोबर से घर का खांचा बना कर विधि विधान के साथ पूजा करती हैं और गोधन कूटती हैं और भाई की ऐश्वर्य की कामना करती हैं।

हर उम्र में लड़कों को भाती हैं कम उम्र लड़कियां!

Published on Oct 05, 2014 at 09:57
0 IBNKhabar

लॉस एंजेलस। पुरुष चाहे किसी भी उम्र का क्यों न हो उसके मन में महिलाओं को लेकर जो रोमांटिक कल्पनाएं पनपती हैं, वह अधिकतर 20 से 30 साल के बीच की महिलाओं को लेकर ही पनपती हैं। हाल ही में किए गए सर्वेक्षण में इस तथ्य का खुलासा हुआ। फिनलैंड के अनुसंधानकर्ताओं ने 18 से 49 साल की आयु के कुल 12,656 लोगों के बीच यह सर्वेक्षण किया। इस सर्वेक्षण का उद्देश्य यह जानना था कि लोग सहवास के लिए किस उम्र का साथी पसंद करते हैं।

सर्वेक्षणकर्ताओं ने लोगों से पूछा कि वे पिछले 12 सालों में किस आयुवर्ग के व्यक्ति की ओर वे आकर्षित हुए और वास्तव में किस आयुवर्ग के व्यक्ति के साथ उन्होंने सेक्स किया। समाचार पत्र हफिंग्टनपोस्ट के वेब संस्करण पर प्रसारित रिपोर्ट में कहा गया है कि सर्वेक्षणकर्ताओं का जैसा अनुमान था सर्वेक्षण के परिणाम उसी के अनुरूप पुरुषों और महिलाओं के लिए अलग-अलग आए।

मां-बाप के साथ न रहने वाले बच्चे करते हैं नशा!

Published on Sep 10, 2014 at 09:44 | Updated Sep 10, 2014 at 10:24
0 IBNKhabar

न्यूयॉर्क| एक बच्चे के अच्छा या बुरा इंसान बनने में उसके मां-बाप की भूमिका अहम होती है। मां और पिता, दोनों का साथ और प्यार बच्चे के लिए जरूरी होता है। दोनों का साथ और प्यार उन्हें कई बार न केवल बुरी संगत से बचाता है, बल्कि शराब और चरस जैसे नशीले पदार्थो से भी दूर रखता है। एक नए शोध में भी इसकी पुष्टि करते हुए कहा गया है कि मां-बाप के साथ रहने वाले किशोरों की तुलना में एकल मां-बाप के संग रहने वाले किशोरों में शराब और चरस जैसे नशीले पदार्थों के इस्तेमाल की आशंका ज्यादा होती है।

निष्कर्ष दिखाता है कि सिर्फ मां के साथ रहने वाले बच्चों में शराब पीने की आशंका 54 प्रतिशत अधिक होती है, अगर वे सिर्फ पिता के साथ रहते हैं, तो उनके धूम्रपान करने का खतरा 58 प्रतिशत अधिक होता है। अमेरिकी की टेक्सास यूनिवर्सिटी के सहायक प्रोफेसर ईयूजबियस स्मॉल ने कहा कि हमारे शोध को ऐसी पारिवारिक संरचना और उसकी नीतियों के संदर्भ में देखा जाना चाहिए, जिससे बच्चों के लिए सुरक्षात्मक माहौल बनाने और उनमें अच्छाई के गुण बनाने में मदद मिल सके।

पढ़ें: कुछ लोग ज्यादा झूठ क्यों बोलते हैं?

Published on Sep 04, 2014 at 09:02
0 IBNKhabar

न्यूयॉर्क| क्या कारण है कि कुछ लोगों की जुबान पर केवल झूठ ही होता है, जबकि कुछ लोग सच के लिए कोई भी त्याग करने के लिए तैयार रहते हैं? हालिया अध्ययन के मुताबिक, इसका संबंध मस्तिष्क के एक हिस्से से है। निष्कर्ष के मुताबिक, संज्ञानात्मक नियंत्रण के लिए उत्तरदायी मस्तिष्क का एक प्रमुख भाग डॉर्सो लेटरल प्री फ्रंटल कॉर्टेक्स (पृष्ठ-पाश्र्वीय पुरोमुखीय कॉर्टेक्स) ईमानदार व्यवहार में मुख्य भूमिका निभा सकता है।

अमेरिका में वर्जीनिया टेक कारिलियन रिसर्च इंस्टीट्यूट में पोस्ट डॉक्टरल सहयोगी और अध्ययन की मुख्य लेखक लूशा झू ने कहा कि औसतन लोग झूठ से नफरत करते हैं। अध्ययन के मुताबिक, डॉर्सो लेटरल प्री फ्रंटल कॉर्टेक्स में आघात वाले लोग दूसरों की तरह झूठ से नफरत करने वाले नहीं होते। ऐसे लोगों द्वारा व्यवहारिक विकल्प के चुनाव की संभावना होती है। उन्हें इस बात की चिंता नहीं होती कि इससे उनकी छवि पर क्या प्रभाव पड़ेगा। यह अध्ययन पत्रिका 'नेचर न्यूरोसाइंस' में प्रकाशित हुआ है।

ज्यादा मेहमान बुलाए, शादी को सफल बनाएं

Published on Aug 28, 2014 at 10:20 | Updated Aug 28, 2014 at 12:24
0 IBNKhabar

न्यूयॉर्क| आप अपने वैवाहिक जीवन को सफल बनाना चाहते हैं, तो अपनी शादी में अधिक से अधिक मेहमानों को आमंत्रित करें। अमेरिका में हुए एक शोध में यह बात सामने आई है कि जिन लोगों की शादी में अधिक मेहमान जुटे, उनका वैवाहिक जीवन बेहद सफल रहा।

नेशनल मैरिज प्रोजेक्ट रपट के सह लेखक मनोवैज्ञानी गेलेना के रोड्स और स्कॉट एम स्टेनले ने कहा कि शादी के पहले जिन लोगों के सेक्सुअल पार्टनर की संख्या कम होती है, उनका पत्नी से ज्यादा मधुरता होती है। इस शोध के लिए लेखक ने अमेरिका रिलेशनशिप डेवलपमेंट स्टडी के आंकड़ों का विश्लेषण किया।

सेक्सटिंग में झूठ बोलने में अव्वल हैं महिलाएं!

Published on Aug 12, 2014 at 12:21 | Updated Aug 12, 2014 at 12:43
0 IBNKhabar

न्यूयॉर्क। सेक्सटिंग को लेकर शोध में एक चौंकाने वाला खुलासा सामने आया है। शोध के मुताबिक, सेक्सटिंग के दौरान महिलाएं झूठ बोलने में अव्वल हैं। सेक्सटिंग (सेक्सी और हॉट तस्वीरें या टेक्स्ट भेजना) के दौरान 24 फीसदी पुरुषों की तुलना में 45 फीसदी महिलाएं झूठ बोलती हैं।

अमेरिका में इंडियाना यूनिवर्सिटी के एसोसिएट प्रोफेसर माइकल ड्रोइन ने कहा है कि सेक्सटिंग के दौरान अधिकांश लोग झूठ बोलते हैं, ऐसा कर वे अपने पार्टनर को आनंदित करना चाहते हैं। सेक्सटिंग के दौरान झूठ बोलने के पीछे के कारणों में पार्टनर को खुश करने या उसकी फैंटेसी को पूरा करने की चाहत भी शामिल है। कुछ लोगों का कहना है कि वे अपने पार्टनर को तनाव से दूर रखने के लिए झूठ बोलते हैं।

अगर पत्नी है ज्यादा कमाऊ, तो नहीं होगा तलाक!

Published on Jul 25, 2014 at 15:58
0 IBNKhabar

न्यूयार्क। अगर आपकी पत्नी आपसे अधिक शिक्षित है और अधिक कमाती है तो आप अपनी शादीशुदा जिंदगी के खुशहाल रहने को लेकर आश्वस्त रह सकते हैं। एक नए अध्ययन के मुताबिक, पुराने चलन से अलग इस तरह का दांपत्य अब रिश्तों को अधिक जिंदादिल बना रहा है और ऐसे दंपतियों के बीच रिश्ते खत्म होने या तलाक के खतरे को कम कर रहा है।

अमेरिका के विस्कॉन्सिन राज्य स्थित युनिवर्सिटी ऑफ विस्कॉन्सिन-मेडिसिन में मनोविज्ञान की एसोसिएट प्रोफेसर क्रिस्टीन आर.श्वाट्र्ज के मुताबिक, इस अध्ययन से दांपत्य जीवन के नए रुझान का पता चलता है। अब कमाऊ पति और गृहणी पत्नी की विचारधारा बदल रही है। अब विवाह को लेकर एक समानतावादी सोच सामने आ रही है, जिसमें औरतों के वजूद को पुरुषों से खतरा कम है।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

INews

बिलावल ने आज दोपहर तकरीबन 12 बजे ट्वीट किया कि पेशावर में तालिबान द्वारा हमारे बच्चों पर किया गया हमला मुझे निःशब्द कर गया है। मैं हैरान और शोक में हूं।
पाकिस्तानियों ने ट्विटर पर हैशटैग पाक विद इंडिया नो टू लखवी बेल के साथ ट्वीट किए और लखवी की बेल का विरोध किया। ये हैशटैग टॉप ट्रेंड में शामिल हो गया।
इंटरनेट पर सोशल नेटवर्किंग साइटों का अत्यधिक इस्तेमाल न सिर्फ लती बना देता है बल्कि कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं भी पैदा कर सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

इतिहास

भारतीय एवं विश्व इतिहास में 10 दिसंबर का अपना ही एक खास महत्व है। इस दिन कई ऐसी घटनाएं घटी जो इतिहास के पन्नों में हमेशा के लिए दर्ज होकर रह गईं हैं।
भारतीय एवं विश्व इतिहास में 06 नवंबर का अपना ही एक खास महत्व है। इस दिन कई ऐसी घटनाएं घटी जो इतिहास के पन्नों में हमेशा के लिए दर्ज होकर रह गईं हैं।
भारतीय एवं विश्व इतिहास में 5 नवंबर का अपना ही एक खास महत्व है। इस दिन कई ऐसी घटनाएं घटी जो इतिहास के पन्नों में हमेशा के लिए दर्ज होकर रह गईं हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वाइन फ्लू ने एक बार फिर देश में दस्तक दी है और हैदराबाद सहित तेलंगाना में इस बीमारी के चलते 8 लोगों की मौत भी हो चुकी है।
सुबह टहलने में सक्षम नहीं हैं तो चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि अगर आप रोजाना योग करें तो यह हृदय संबंधित बीमारियों के जोखिम को कम करने में सहायक होगा।
मोटापा एक ऐसी बीमारी है जो अपने साथ बीमारियों का पूरा पैकेज लेकर आती है। आज की व्यस्त जीवनशैली, तनाव और खानपान को लेकर लापरवाही मोटापे को न्योता देते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

गैजेट्स

एप्पल ने जिस समय आईफोन-6 लांच किया, उस समय एप्पल भारतीय बाजार में पिछड़ रही थी लेकिन आईफोन-6 ने एप्पल को भारतीय बाजार में पुनर्स्थापित किया।
साल 2014 को हम लोग गुडबाय कहने की ओर हैं। इस साल तमाम लोगों ने एक से बढ़कर एक मोबाइल फोन लिए होंगे, या लेने की सोच रहे हैं।
कंपनी ने बताया कि इसे प्ले स्मार्टफोन गेम प्रेमियों को ध्यान में रखकर उतारा गया है और इसका स्क्रीन भी अपेक्षाकृत बड़ा है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

फैशन

इंडोनेशिया में आयोजित व‌र्ल्ड मुस्लिमा अवॉर्ड 2014 में रनर का खिताब हासिल करने वाली नाजरीन पर पूरे शहर को नाज है।
एक अध्ययन में सामने आया है कि साधारण तौर पर एक महिला हर सप्ताह 6.40 घंटे अपने रूप को संवारने के लिए खर्च करती है।
वेलेंटाइन डे यानी प्यार करने वालों का दिन। इस दिन पर आर्थिक सुस्ती और बढ़ती महंगाई का कोई असर नहीं पड़ने वाला है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

ऑटो

यदि आप भी कार खरीदने का प्लान बना रहे हैं और पांच लाख के कम कीमत की कार तलाश रहे हैं तो यहां देखिए ऐसी कारें जो इस साल हॉट फेवरेट रहीं।
लास वेगास में आयोजित अंतरराष्ट्रीय इल्केट्रॉनिक्स उपभोक्ता उत्पाद प्रदर्शनी में टोयोटा ने हाइड्रोजन से चलने वाली भविष्य की कार पेश की।
खूबसूरत वादियां, समंदर और हरे भरे जंगल पार करते हवाई जहाज और फ्लाइट की खिड़कियों से बाहर झांकते लोग आने वाले समय में ये पुराने जमाने की बात होने वाली है।
ibnliveibnlive