IBN7IBN7

पढ़ें: क्या है कैंपा कोला सोसायटी का विवाद


Published on Jun 20, 2014 at 11:47 | Updated Jun 20, 2014 at 19:48
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई की कैंपा कोला सोसायटी में बने अवैध फ्लैट्स खाली करने की मियाद खत्म हो चुकी है। कैंपा कोला के 96 अवैध फ्लैट्स में रहने वाले लोगों के पास अब कोई विकल्प नहीं बचा है। पढ़ें-कैसे बिल्डर की धोखाधड़ी और बीएमसी की लापरवाही की वजह से कई परिवारों के बेघर होने की नौबत आई।

-1981 में कैंपाकोला की जमीन पर बिल्डिंग बनाने की इजाजत तीन बिल्डर्स यूसुफ पटेल, बीके गुप्ता और पीएसबी कंस्ट्रक्शन को मिली।

कैंपा कोला कंपाउंड पहुंची BMC टीम बैरंग लौटी


Published on Jun 20, 2014 at 10:46 | Updated Jun 20, 2014 at 14:21
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई के कैंपा कोला कंपाउंड में रहने वाले लोगों को अपना आशियाना खाली करने के लिए दी गई मोहलत खत्म हो गई है। बीएमसी की टीम कंपाउंड पर कार्रवाई के लिए मौके पर पहुंची लेकिन अंदर मौजूद लोग किसी भी सूरत में जगह खाली करने को तैयार नहीं थे।

बीएमसी की टीम बिजली-पानी के कनेक्शन काटने के लिए बिल्डिंग में पहुंची थी लेकिन लोगों के विरोध के चलते उसे वापस लौटना पड़ा। बीएमसी अफसरों ने कहा कि हम कार्रवाई करने आए थे लेकिन लोग हमें अंदर नहीं जाने दे रहे। हम अभी वापस अपने कमिश्नर से बात करके आगे की कार्रवाई करेंगे। पूरी कार्रवाई की वीडियो फुटेज तैयार की गई है।

‘चाहे गोली मारें या लाशें गिराएं, घर नहीं छोड़ेंगे’


Published on Jun 12, 2014 at 08:30 | Updated Jun 12, 2014 at 12:04
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई की कैंपा कोला सोसायटी में बने अवैध फ्लैट्स को खाली करने में अब महज कुछ घंटे बचे हैं। कैंपा कोला के 96 अवैध फ्लैट्स में रहने वाले लोगों को अपने घरों को छोड़कर आज शाम पांच बजे तक जाना होगा। सरकार और सुप्रीम कोर्ट से सारे दरवाजे बंद हो चुके हैं लेकिन लोग अड़े हैं। उनका कहना है कि वो किसी भी हालत में सरकार को अपने घरों की चाभी नहीं देंगे।

सोसायटी के कंपाउंड में ही धरने पर बैठे लोगों ने कहा कि आज चाहे कोर्ट की अवमानना का मामला चले या फिर पुलिस जबरन हमें हटाए, हम किसी भी कीमत पर इस जगह को नहीं छोड़ेंगे।

लोगों ने कहा कि आज सरकार और बीएमसी हमें हटाने के लिए फोर्स लेकर आ रही है। ये फोर्स उस समय बिल्डर को हटाने के लिए क्यों नहीं आई। उस समय सरकार ने कदम उठाया होता तो आज हमें उसकी कीमत नहीं चुकानी पड़ती। लोगों ने कहा कि आज चाहे पुलिस गोली मारे या लाशें गिरा दे लेकिन हम अपना ये घर नहीं छोड़ेंगे।

पढ़ें: कैंपा कोला- कैसे की बिल्डर ने धोखाधड़ी?


Published on Jun 11, 2014 at 18:30
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई के कैंपा कोला सोसायटी में बने अवैध फ्लैट्स को खाली करने में अब महज एक दिन बचा है। कैंपा कोला को 96 अवैध फ्लैट्स में रहने वाले लोगों को अपने घरों को छोड़कर जाना होगा। कैसे बिल्डर की लापरवाही की वजह से कई परिवारों पर बेघर होने की नौबत आई।

एक अदद आशियाना ढूंढने में जिंदगी भर की कमाई लग जाती है, लेकिन अब इन लोगों से वही आशियाना छिन रहा है। अपने घर को बचाने की इनकी तमाम कोशिशें बेकार गईं, किसी ने इनकी नहीं सुनी। अब उम्मीद से भी नाउम्मीद हो चुके हैं ये लोग।

कैंपा कोला: लुट रही जिंदगी भर की कमाई


Published on Jun 10, 2014 at 22:33 | Updated Jun 10, 2014 at 22:53
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई के कैंपा कोला कंपाउंड के लोगों की मुश्किलों का अंत नहीं। इनका आशियाना उजड़ रहा है। इनकी जिंदगी भर की कमाई लुट रही है। बीएमसी ने अवैध फ्लैट में रहने वालों को 12 जून की शाम तक फ्लैट खाली करने का आदेश दिया है। कुल 96 परिवारों को घर खाली करना है। लेकिन इनका सवाल है कि अब जाएं तो कहां जाएं। जिंदगी भर की कमाई कैसे दोबारा लाएं। ये लोग खुद को रिफ्यूजी बता रहे हैं और इसके लिए बीएमसी, बिल्डर और सरकार को दोषी ठहरा रहे हैं।

इन लोगों की उम्मीदें अब खत्म हो चुकी हैं। इनकी जिंदगी भर की कमाई यानि इनका आशियाना उजड़ने वाला है। 75 साल के डॉ. प्रमोद पोटदार और 70 साल की उनकी पत्नी मृणाली को समझ में नहीं आ रहा कि अब क्या करें। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के आगे बेबस हैं। उम्र इतनी है कि खुद सामान भी पैक नहीं कर सकते। उपर से हर वक्त बिस्तर पर रहने वाली 90 साल की मां, जाएं तो कहां जाएं। जिंदगी भर की पूंजी इस फ्लैट पर लगा दी थी, ताकि बुढ़ापा चैन से गुजरेगा। लेकिन अब इस बात की फिक्र है कि कैसे कटेगा बुढ़ापा, कहां जाएंगे इस उम्र में।

कुछ ऐसा ही हाल वंदना विरानी के परिवार का है। वंदना के पति की मृत्यु हो चुकी है। 1991 से यहां रह रही हैं। बंटवारे के बाद पाकिस्तान से इनका परिवार भारत आया था। अब वंदना को लगता है कि इससे तो अच्छे वो रिफ्यूजी ही थे, तब सरकार ने कम से कम मदद तो की थी।

CCTV फुटेज: पब में मैनेजर को मारी गोली


Published on Jun 06, 2014 at 16:29 | Updated Jun 06, 2014 at 16:34
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई के अंधेरी इलाके के पब क्लब एस्केप में हुई फायरिंग की वारदात का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। एक हफ्ते पहले अंधेरी के पब में एक 25 साल की बीटेक छात्रा अपने दोस्तों के साथ आई थी।

रात करीब सवा 12 बजे पब में शराब के नशे में एक विक्रांत कुमार कल्होड नाम के डायमंड मर्चेंट ने इस छात्रा के साथ छे़डखानी शुरू कर दी। तब छात्रा ने पब के मैनेजर से इस छेड़खानी की शिकायत की। मैनेजर के शराब के नशे में धुत डायमंड मर्चेंट को महिला से माफी मांगने के लिए कहा।

चलती बस में महिला कंडक्टर को पीटा, कपड़े फाड़े


Published on Jun 04, 2014 at 18:20 | Updated Jun 04, 2014 at 21:12
0 IBNLive

मुंबई। महिलाओं के खिलाफ अपराध थमने का नाम नहीं ले रहे। बुधवार को मुंबई में एक महिला बस कंडक्टर के साथ सबके सामने चलती बस में अभद्रता और मारपीट की गई। आरोपी युवक ने महिला कंडक्टर के कपड़े तक फाड़ डाले। बाद में कुछ छात्रों ने इसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

बताया जाता है कि राज्य परिवहन की ये बस कल्यान से पनवेल जा रही थी। मुंबई के बाहरी इलाके डोंबीवली में इस बस में 30 साल का एक युवक अभिषेक सिंह गलत दरवाजे से बस में चढ़ा। ड्राइवर ने उसे रोका तो उसने गाली-गलौज शुरू कर दी। इसपर महिला कंडक्टर ने टोकते हुए कहा कि आखिर वो अपने पिता की उम्र के ड्राइवर से बदतमीजी कैसे कर रहा है।

कैंपा कोला:सोसायटी के लोगों की अर्जी खारिज


Published on Jun 03, 2014 at 22:52
0 IBNLive

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को मुंबई की कैम्पा कोला हाउसिंग सोसायटी के निवासियों की याचिका को 'गलत' और 'सुनवाई के अयोग्य' करार देते हुए खारिज कर दिया। याचिकाकर्ताओं ने बृहन्मुंबई नगर निगम पर उन्हें वहां निकाले जाने से रोक लगाने के लिए याचिका दाखिल की थी।

न्यायमूर्ति जे. एस. खेहर और न्यायमूर्ति सी. नागप्पन की पीठ ने याचिका खारिज करते हुए कहा कि याचिकाकर्ताओं ने मामले से संबंधित पूर्व सुनवाइयों और दिए गए आदेशों को छिपाए रखा।

भायंदर रेप केस: आरोपी पंकज बोथरा गिरफ्तार


Published on Jun 02, 2014 at 11:00
0 IBNLive

मुंबई। भायंदर रेप केस मामले एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। 42 साल के पंकज बोथरा की निशानदेही गैंगरेप के मुख्य आरोपी के तौर पर हुई थी। इस मामले में एक और आरोपी की तलाश जारी है। कल मुंबई से सटे भयंदर में 29 साल की एक महिला के साथ बंदूक के जोर पर रेप किया गया था।

बताया जा रहा है कि आरोपियों ने पीड़ित महिला को नौकरी दिलाने के बहाने बुलाया और फिर कार के अंदर बंदूक के दम पर उससे बलात्कार किया। यही नहीं महिला को मारा पीटा भी गया। मामला सामने आने के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए IPC की धारा 376, 377 और आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया था।

मुंबई में नौकरी के बहाने बुलाकर महिला से रेप


Published on Jun 01, 2014 at 21:38 | Updated Jun 01, 2014 at 21:43
0 IBNLive

मुंबई। आमतौर पर महिलाओं के लिए सुरक्षित माने जाने वाले मुंबई में भी अब बलात्कार जैसी घटनाएं बढ़ गई हैं। ताजा खबर मुंबई से सटे भायंदर की है। यहां 29 साल की एक महिला के साथ बंदूक की नोंक पर रेप किया गया

बताया जाता है कि आरोपियों ने पीड़िता को नौकरी दिलाने के बहाने बुलाया और फिर कार के अंदर बंदूक की नोंक पर उससे बलात्कार किया। यही नहीं महिला को मारा पीटा भी गया। मामला सामने आने के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए धारा 376, 377 और आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

भारत की 80 फीसदी आबादी विटामिन डी की कमी से पीड़ित है, जिसके कारण उन्हें मधुमेह, हृदय रोग जैसी बीमारियों का खतरा है। विशेषज्ञों ने आज यह जानकारी दी।
भारत में इस तरह का यह पहला ऑपरेशन है। मुख्य हृदय रोग विशेषज्ञ (शिशु) डॉ. के. नागेश्वर राव के नेतृत्व में आठ चिकित्सकों के दल ने ऑपरेशन किया।
प्राण योग के विशेषज्ञ दीपक झा ने बताया कि योग के जरिए धूम्रपान की लत से छुटकारा पाने में आसानी होती है। योग, धूम्रपान छोड़ने का एक समग्र समाधान है।
ibnliveibnlive