IBN7IBN7

आश्रम में हो रहा था बच्चों का यौन शोषण


Published on May 29, 2014 at 22:38 | Updated May 29, 2014 at 22:43
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई से सटे कर्जत जिले के एक आश्रम के स्कूल में छोटे बच्चों के साथ बलात्कार, मारपीट करने मामले में एक और चौकाने वाला खुलासा हुआ है। बच्चों ने पुलिस को बताया कि विदेशी नागरिक भी उनके आश्रम में आते थे, जिनके सामने उन्हें अश्लील कृत्य करने पर मजबूर किया जाता था।

आश्रम की आड़ में मुंबई से सटे कर्जत में बच्चों का होता रहा यौन शोषण। किसी को भनक तक नहीं लगी। लगती भी कैसे आश्रम जंगलों के बीच था, न आस पास कोई गांव, इंसानी नजर से दूर। कौन यहां आता जाता, यहां क्या होता किसी को कानोंकान खबर नहीं। यूं तो आश्रम बनाया गया था गरीब बच्चों की पढ़ाई के नाम पर। लेकिन दरअसल ये था उनके लिए जहन्नुम।

टीसी ने महिला को ट्रेन से दिया धक्का, मौत


Published on May 29, 2014 at 16:27 | Updated May 29, 2014 at 16:33
0 IBNLive

जलगांव। महाराष्ट्र के जलगांव में एक महिला को चलती ट्रेन से धक्का देने के आरोप में एक टीसी को गिरफ्तार किया गया है। ट्रेन से गिरकर इस महिला की मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि महिला जनता एक्सप्रेस ट्रेन में जनरल कोच का टिकट ले कर एसी कोच में जाने की कोशिश कर रही थी। महिला के परिवार वालों का आरोप है कि जब महिला एसी कोच में चढ़ने की कोशिश कर रही थी तभी टीसी ने उसे धक्का दिया। धक्का दिए जाने के चलते महिला ट्रेन से गिर गई और उसकी मौत हो गई।

मुंबई: एयरफोर्स स्टेशन पर फायरिंग, 2 को मौत


Published on May 27, 2014 at 08:21 | Updated May 27, 2014 at 10:36
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई के निर्मल नगर इलाके में एयरफोर्स स्टेशन पर तैनात संतरी ने फायरिंग कर दी। फायरिंग में दो जवानों की मौत हो गई। जबकि 2 लोग घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए निकट के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एयरफोर्स स्टेशन पर तैनात संतरी पर फायरिंग का आरोप है। आरोप है कि ड्यूटी पर तैनात संतरी आर एस यादव ने अपनी राइफल से अपने ही साथी जवानों पर गोलियां चलाईं। इस फायरिंग में 2 जवानों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि 2 बुरी तरह जख्मी हैं। जिस वक्त ये वारदात हुई उस वक्त एयरफोर्स स्टेशन पर 7 जवान तैनात थे। हमले के आरोपी जवान को गिरफ्तार कर लिया गया है। उससे पूछताछ जारी है।

सिंगर अंकित तिवारी को 26 मई तक भेजा जेल


Published on May 12, 2014 at 16:38
0 IBNLive

मुंबई। सुन रहा है ना तू फेम सिंगर अंकित तिवारी को आज 26 मई तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। अंकित की पूर्व प्रेमिका ने उन पर कथित रूप से दुष्कर्म का आरोप लगाया था, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया।

अंकित के वकील नागेश मिश्रा ने बताया कि अभियोजन पक्ष उनको (अंकित) पुलिस हिरासत में रखना चाहते थे, क्योंकि वे तिवारी के मोबाइल फोन और कुछ कपड़ों के बारे में जानकारी चाहते थे। रेलवे मोबाइल अदालत के मजिस्ट्रेट एस सी जाधव ने हालांकि उनको न्यायिक हिरासत में रखने का आदेश दिया।

शक्तिमिल गैंगरेप:3 दोषियों को फांसी की सजा

  • ibnkhabar.com

Published on Apr 04, 2014 at 16:44 | Updated Apr 04, 2014 at 19:41
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई की शक्ति मिल गैंगरेप केस में तीन दोषियों को अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है। जबकि चौथे दोषी को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। पिछले साल महिला पत्रकार के साथ सुनसान शक्ति मिल कंपाउंड में बलात्कार किया गया था। ये दोषी इसी कंपाउंड में ऐसे ही एक और गैंगरेप को अंजाम दे चुके थे। इन्होंने टेलीफोन ऑपरेटर को भी अपना शिकार बनाया था।

गैंगरेप केस में सेशंस कोर्ट पहले ही इन तीनों आरोपियों को नई धारा 376 (E) के तहत दोषी ठहरा चुका था। इस धारा में गुनहगारों को उम्रकैद से लेकर फांसी तक की सजा का प्रावधान है। आज सेशन कोर्ट ने सलीम अंसारी, कासिम और विजय जाधव को मौत की सजा सुनाई, जबकि चौथे दोषी साजिद को उम्रकैद की सजा सुनाई। देश का ये पहला केस है जिसमें आरोपियों को नई धारा 376 (E) के तहत दोषी ठहराया गया है।

मुंबई: बेस्ट कर्मचारियों की हड़ताल खत्म


Published on Apr 02, 2014 at 12:04 | Updated Apr 02, 2014 at 16:58
0 IBNLive

नई दिल्ली। बेस्ट बसों के कर्मचारियों ने हड़ताल खत्म करने का ऐलान किया है। आज बेस्ट यूनियन और मैनेजमेंट की बैठक हुई, जिसमें दोनों पक्षों में सहमति बनने के बाद हड़ताल खत्म करने का ऐलान किया गया। ड्यूटी के घंटे बढ़ाने के मुद्दे पर बेस्ट कर्मचारी कल से हड़ताल पर थे। जिससे लोगों को काफी दिक्कतें हुईं।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने कल ही बेस्ट बस के कर्मचारियों से हड़ताल खत्म करने को कहा था। इसके चलते आज सुबह से मुंबई की सड़कों पर बसें नहीं दौड़ीं। इससे मुंबई के लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सबसे बड़ी परेशानी छात्रों को हुई।

काम पर वापस लौटें बेस्ट कर्मचारी: हाईकोर्ट


Published on Apr 01, 2014 at 10:03 | Updated Apr 01, 2014 at 19:14
0 IBNLive

मुंबई। बॉम्बे हाईकोर्ट ने बेस्ट बस के हड़ताली ड्राइवरों और कर्मचारियों को तुरंत काम पर लौटने का आदेश दिया है। 12 घंटे की शिफ्ट को लेकर आज अचानक बेस्ट के ड्राइवर हड़ताल पर चले गए। हड़ताल के खिलाफ बेस्ट मैनेजमेंट ने अदालत का दरवाजा खटखटाया था।

मुंबई की बेस्ट बस के कर्मचारी आज अचानक बेमियादी हड़ताल पर चले गए हैं। कमर्चारी 12 घंटे की ड्यूटी के विरोध में हड़ताल पर गए हैं। दरअसल बेस्ट प्रशासन ने आज से सभी कर्मचारियों, ड्राइवरों, कंडक्टरों की 12 घंटे की ड्यूटी लगाई थी। पहले इनकी शिफ्ट 8 घंटे की होती थी।

सलमान के खिलाफ कोई गवाह नहीं पहुंचा कोर्ट

  • ibnlive.com

Published on Mar 26, 2014 at 17:05 | Updated Mar 26, 2014 at 17:38
0 IBNLive

मुंबई। हिट एंड रन केस में मुंबई के सेशन कोर्ट ने वुधवार को सलमान खान की सुनवाई को टाल दिया गया है। अब मामले की सुनवाई 8 अप्रैल को होगी। कोर्ट ने हिट एंड रन केस में सबूतों और गवाहों की दुबारा जांच करने को कहा है।

2002 में हुए हिट एंड रन केस में तीन गवाह है, और आज सुनवाई के लिए कोई भी गवाह कोर्ट में नहीं पहुंचा था। ऐसे में कोर्ट ने आज की सुनवाई को 8 अप्रैल तक के लिए टाल दिया है, और कहा है कि अगली सुनवाई पर मामले में घायल हुए गवाहों से फिर पूछताछ की जाएगी।

शक्ति मिल गैंगरेप में 4 दोषियों को उम्रकैद


Published on Mar 21, 2014 at 09:04 | Updated Mar 21, 2014 at 13:24
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई के टेलीफोन ऑपरेटर गैंगरेप मामले में कोर्ट ने सभी चार दोषियों को उम्र कैद की सजा सुनाई है। महिला टेलीफोन ऑपरेटर के साथ शक्ति मिल कंपाउंड में गैंगरेप किया गया था। लेकिन शक्ति मिल में महिला फोटो पत्रकार के साथ गैंगरेप मामले में कोर्ट ने फैसला 24 मार्च तक टाल दिया है।

वहीं जब शक्ति मिल में महिला पत्रकार के साथ गैंगरेप में सजा के ऐलान का समय आया तो कोर्ट ने यह कहकर सुनवाई रोक दी कि शक्ति मिल रेप केस में गैंग रेप की धारा को और जोड़ा जाना है। कोर्ट ने सजा के ऐलान को 24 मार्च तक के लिए टाल दिया है।

मुंबई में एक महिला पत्रकार के साथ छेड़छाड़


Published on Mar 18, 2014 at 12:28 | Updated Mar 18, 2014 at 12:44
0 IBNLive

मुंबई। मुंबई में एक महिला पत्रकार के साथ बदसलूकी का मामला सामने आया है। महिला पत्रकार का आरोप है कि कुछ युवकों ने उसके साथ छेड़छाड़ की आरोप के मुताबिक महिला पत्रकार मुंबई में होली की कवरेज कर रही थी। उसी दौरान कुछ युवकों ने उसके साथ बदसलूकी की साथ ही उसके कैमरामैन और ड्राइवर के साथ मारपीट भी की पुलिस ने इस मामले में 5 संदिग्धों को गिरफ्तार किया है।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

महिलाओं का सामना जब जोखिम भरी परिस्थितियों से होता है, तो वे चिंतित हो जाती हैं और तनावपूर्ण परिस्थितियों में उनका प्रदर्शन बहुत खराब हो जाता है।
गंजों के लिए इससे बड़ी खुशखबरी क्या हो सकती है कि अब उनके भी सिर पर घने बाल होंगे। लेकिन यह खास खुशखबरी बाल उड़ने की बीमारी 'एलोपेसिया एरियाटा' से ग्रस्त लोगों के लिए है।
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने अब इस बात का पता लगा लिया है कि किस कारण से कुछ बच्चे गणित के सवाल चुटकी में हल कर लेते हैं।
ibnliveibnlive