IBN7IBN7

नमक से कैंसर का खात्मा!


Published on Aug 13, 2014 at 08:52 | Updated Aug 13, 2014 at 09:23
0 IBNLive

लंदन। कैंसर के इलाज का एक नया हथियार खोज निकाला गया है और वह हथियार है नमक। जी हां, अध्ययनकर्ताओं के मुताबिक कैंसरग्रस्त कोशिकाओं में नमक प्रवाहित करके कोशिका को खत्म किया जा सकता है। अनुसंधानकर्ताओं का मानना है कि उनकी इस नई खोज के जरिए कैंसर के उपचार के लिए नई दवाएं बनाई जा सकती हैं।

अनुसंधानकर्ताओं ने एक ऐसा अणु निर्मित करने में सफलता पाई जो कैंसरग्रस्त कोशिकाओं में सोडियम और क्लोराइड के आयन प्रवाहित करता है, जिससे कैंसरग्रस्त कोशिकाएं स्वत: समाप्त हो जाती हैं। सह अध्ययनकर्ता एवं इंग्लैंड के साउथम्पटन विश्वविद्यालय के प्राध्यापक फिलिप गेल ने कहा है कि इस अध्ययन में दिखाया गया है कि कोशिकाओं की झिल्लियों में मौजूद सोडियम चैनल क्लोराइड संवहिकाओं के साथ प्रतिक्रिया कर कोशिका में नमक का प्रवाह करती है।

कान सताए तो चाय हो जाए!


Published on Aug 08, 2014 at 15:54
0 IBNLive

न्यूयार्क। यदि आपको कान बजने की शिकायत है, यानी बाहर किसी तरह की आवाज नहीं होने पर भी आपको लगता है कि ऐसा है तो चाय और कॉफी पर्याप्त मात्रा में लेना शुरू कर दें। एक अध्ययन में पता चला है कि कैफीन की पर्याप्त मात्रा का सीधा संबंध युवा और प्रौढ़ महिलाओं में कान बजने की समस्या में कमी आने से है। जो महिलाएं कैफीन की पर्याप्त मात्रा लेती हैं, उनमें कान बजने की समस्या काफी हद तक नहीं होती है।

अध्ययनकर्ताओं ने 30 से 44 वर्ष की 65,000 महिलाओं का अध्ययन किया। वर्ष 1991 में उन्हें कान बजने की समस्या नहीं थी। लेकिन 18 साल बाद अध्ययनकर्ताओं ने इनमें से 5,289 महिलाओं में कान बजने की समस्या पाई। ये वे महिलाएं थीं, जो चाय-कॉफी कम मात्रा में या नहीं लेती थीं।

कंप्यूटर पर काम करनेवाले ऐसे रखें अपना ख्याल


Published on Aug 08, 2014 at 08:38
0 IBNLive

लखनऊ। आज के समय में कंप्यूटर के बिना काम की कल्पना नहीं की जा सकती। कभी ऑफिस में भी मुश्किल से दिखने वाला कंप्यूटर अब लोगों के घरों तक पहुंच गया है। कुछ लोगों के काम तो ऐसे हैं, कि उन्हें पूरा दिन कंप्यूटर पर ही बिताना पड़ता है। ऐसे में उन्हें लंबे समय तक कंप्यूटर पर ऊंगलियों और आंखों से काम करना पड़ता है और लगातार की गई यह मेहनत आंखों, गर्दन व शरीर के दूसरे हिस्सों में थकान की वजह बनती है।

महिलाओं के पोर्न का लती होने का खतरा अधिक!


Published on Aug 07, 2014 at 08:39
0 IBNLive

लंदन। इंटरनेट पर पोर्न सामग्री को लेकर दुनिया के अलग-अलग देशों में अलग-अलग कानून बन चुके हैं, लेकिन अब तक इस पर पूरी तरह काबू नहीं पाया जा सका है। इस बीच इंटरनेट पर पोर्न सामग्री के उपयोगकर्ताओं की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है।

इंटरनेट पर इस तरह की सामग्री के उपयोगकर्ताओं के स्वभाव को लेकर हुई एक ताजा अध्ययन में बड़ा ही चेतावनी देने वाला तथ्य सामने आया है। इस अध्ययन के मुताबिक इंटरनेट पर लगातार पोर्न सामग्री देखने वाली महिलाएं वास्तविक जीवन में सेक्स संबंधों से दूर होती चली जाती हैं और उनमें इंटरनेट के जरिए ही अपनी यौनाकांक्षाओं की पूर्ति करने की लत लगने का खतरा काफी अधिक होता है।

प्रेग्नेंसी में शराब, कर देगी बच्चे का दिमाग कमजोर!


Published on Aug 06, 2014 at 09:24 | Updated Aug 06, 2014 at 09:55
0 IBNLive

न्यूयॉर्क। अगर आप गर्भवती हैं, गर्भस्थ शिशु के स्वास्थ्य के लिए आपको कुछ समय के लिए शराब को अलविदा कह देना चाहिए। शोधकर्ताओं का कहना है कि गर्भवती महिलाओं द्वारा शराब का सेवन गर्भस्थ शिशु के मस्तिष्क विकास को प्रभावित करता है।

फीटल एल्कोहल स्पेक्ट्रम डिसॉर्डर (एफएएसडी) के शिकार बच्चों में विशिष्ट संज्ञानात्मक कार्यों के दौरान दिमागी कमजोरी देखी गई। शोध में पाया गया कि गर्भावस्था के दौरान मां द्वारा शराब का सेवन भ्रूण के विकास को प्रभावित करता है और बच्चे के जन्म के बाद भी बचपन और किशोरावस्था में बच्चे के मस्तिष्क का विकास बाधित होता है।

ग्लोबल वार्मिंग से बचाएगी छोटी सी चींटी!


Published on Aug 04, 2014 at 09:32 | Updated Aug 04, 2014 at 10:28
0 IBNLive

वाशिंगटन। चींटी हमें ग्लोबल वार्मिग से बचा सकती है। एक शोध के मुताबिक, चींटियों ने 6.5 करोड़ साल पहले अपनी उत्पत्ति के बाद से बड़ी मात्रा में हवा से कार्बन डाईऑक्साइट को सोखा है। एक चींटी का जीवन एक साल से अधिक का नहीं होता। लेकिन जैसे-जैसे उसकी संख्या बढ़ती है, वैसे वैसे वह वातावरण को ठंडा करने में मदद करती है।

टेंप शहर में स्थित अरिजोना स्टेट विश्वविद्यालय के एक भूगर्भशास्त्री रोनाल्ड डॉर्न ने कहा, कि चींटियां पर्यावरण को बदल रही हैं। डॉर्न ने पाया कि चींटियों की कुछ प्रजाति खनिज में हवा को सोख कर कैल्शियम कार्बोनेट या लाइमस्टोन बनाने में मदद करती है। लाइमस्टोन बनाने की प्रक्रिया में चींटी हवा से कार्बन डाईऑक्साइड की कुछ मात्रा घटा देती है।

1° पारा बढ़ने पर मलेरिया से होती है 65000 मौत!


Published on Aug 03, 2014 at 13:37 | Updated Aug 04, 2014 at 09:56
0 IBNLive

नई दिल्ली। मलेरिया, डेंगू और हैजा जैसी बीमारियां जलवायु परिवर्तन के कारण कैसा कोहराम मचाती हैं इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि धरती का तापमान यदि एक डिग्री सेल्सियस भी बढ़ता है तो मलेरिया 65 हजार लोगों की जान ले लेती है।

संयुक्त राष्ट्र के जलवायु परिवर्तन से संबंधित सम्मेलन की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि मानवीय गतिविधियां प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्षरूप से जलवायु परिवर्तन की वजह होती है और कुछ बीमारियां इस परिवर्तन की दृष्टि से अत्यधिक संवेदनशील हैं। एक अनुमान के अनुसार तापमान बढ़ने से सबसे अधिक मलेरिया फैलाता है और यदि धरती का तापमान एक डिग्री सेल्सियस भी बढ़ता है तो मलेरिया दुनिया में 64 हजार 475 लोगों की जान ले लेता है और इससे विश्व समुदाय को करीब तीन अरब डॉलर का नुकसान होता है।

हमेशा सही नहीं होते हेल्थ और फूड के ये फंडे!


Published on Aug 01, 2014 at 10:33
0 IBNLive

लंदन। स्वास्थ्य संबंधी कई दिशा-निर्देश हैं, जिसका पालन हम सालों से करते आ रहे हैं। विशेषज्ञों ने मिथक बन चुके इन दिशा-निर्देशों का अब खुलासा किया है। वेबसाइट 'फीमेलफर्स्ट डॉट को डॉट यूके' पर ऑनलाइन बॉडी बिल्डिंग सप्लीमेंट प्रदाता नेचर्स बेस्ट न्यूट्रिशन के विशेषज्ञों ने इन मिथकों की सच्चाई से परदा उठाया है।

लंबे जीवन के लिए रोज खाएं फल और सब्जियां


Published on Jul 30, 2014 at 14:58
0 IBNLive

न्यूयॉर्क। अगर आप बीमारी से मुक्त, खुशहाल और लंबी जिंदगी जीना चाहते हैं तो अपने आहार में फलों और सब्जियों की मात्रा बढ़ाकर, हर दिन इनकी कम से कम पांच खुराक लीजिए। एक नए शोध में मुताबिक, फल और सब्जियों के अधिक सेवन से सभी तरह की बीमारियों, खासतौर से दिल की बीमारियों के कारण होने वाली मृत्यु का खतरा कम होता है।

शोधकर्ताओं ने बताया, कि परिणाम दर्शाते हैं कि वर्तमान में फलों और सब्जियों का अधिक सेवन स्वास्थ्य और लंबी आयु को बढ़ावा देता है। शोध के लिए चीन और अमेरिका की टीम ने 8,33,234 प्रतिभागिायों और 56,423 लोगों के निधन से संबंधित 16 अध्ययनों का विश्लेषण किया।

चाय की एक प्याली आपको बनाए खूबसूरत!


Published on Jul 26, 2014 at 16:31
0 IBNLive

लंदन।चाय का सेवन कुछ लोग थकान दूर करने तो कुछ आदतन करते हैं, लेकिन चाय की एक प्याली हमारे जीवन के अलग-अलग आयामों के लिए लाभदायक हो सकती है। वेबसाइट 'फीमेलफर्स्ट डॉट को डॉट यूके' के मुताबिक, हाल ही में किए गए एक वैज्ञानिक शोध में यह बात सामने आई है कि चाय मानसिक, भावनात्मक, सामाजिक और शारीरिक दृष्टिकोण से लाभदायी होती है।

वैज्ञानिकों ने हर किस्म के चाय से जुड़े स्वास्थ्य के सभी फायदे का परीक्षण किया, जिसमें पाया गया कि यह न सिर्फ शारीरिक सौंदर्य बल्कि वजन कम करने और त्वचा में नमी बरकरार रखने के लिए भी लाभदायी होती है। टी एडवायजरी पैनल के विशेषज्ञों ने चाय से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां उपलब्ध कराई हैं। इनमें से कुछ इस प्रकार हैं-





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
ibnliveibnlive