IBN7IBN7

मधुमक्खी का जहर भी होता है बेहद फायदेमंद!


Published on Jun 18, 2014 at 11:29
0 IBNLive

लखनऊ। सैंकडों बीमारियों में गुणकारी माना जाने वाला शहद ही नहीं मधुमक्खी के डंक का जहर भी स्वास्थ्य के लिए मुफीद है। मधुमक्खी के डंक से निकला जहर गठिया के लिए काफी लाभप्रद है। एक शोध से पता चला है कि मधुमक्खी के डंक के जहर के साथ एक रासायनिक पदार्थ मिलाकर लगाने से गठिया ठीक हो सकता है। यही नहीं मधुमक्खी के रायल जेली की मदद से एड्स जैसी घातक बीमारियों के साथ ही सेक्सुअल मेडिसिन भी तैयार की जाती है।

सेन्ट्रल बी रिर्सच इन्स्टीट्यूट पुणे के सहायक निदेशक आर के सिंह ने कहा कि मधुमक्खी पालन से किसानों के आर्थिक हालात में जहां खासा परिवर्तन हो सकता है। सिंह ने बताया कि हाल ही में आयोजित एक सेमिनार से रिजल्ट निकलकर सामने आया कि सभी तरीकों के स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े डॉक्टर मानते हैं कि मधुमक्खी का शहद ही नहीं इसकी प्रत्येक चीज मानव उपयोग में आ सकती है। उनका कहना था कि सेमिनार में आए विद्वानों ने माना कि रायल जेली एड्स में बेहद गुणकारी है।

महानगरों में युवा हो रहे हैं बीमारियों के शिकार!


Published on Jun 17, 2014 at 08:38 | Updated Jun 17, 2014 at 10:21
0 IBNLive

मुंबई। मधुमेह और उच्च कोलेस्ट्रॉल जैसी जीवनशैली से जुड़ी बीमारियां भारत के महानगरों के ज्यादा से ज्यादा युवाओं को गिरफ्त में ले रही हैं। विश्व पुरुष स्वास्थ्य सप्ताह के मौके पर जारी सर्वेक्षण में यह जानकारी सामने आई है। 9-15 जून के दौरान 38,966 नमूनों की जांच की गई, जिसमें से 56.81 फीसदी में मधुमेह का स्तर उच्च पाया गया।

41.48 फीसदी से ज्यादा नमूने 20-40 साल के बीच की उम्र के थे, जो मधुमेह से प्रभावित हो रही युवा आबादी की बढ़ती प्रवृत्ति का संकेत है। पुरुषों के अन्य 35,886 नमूनों में पाया गया कि 8.21 फीसदी में कोलेस्ट्रॉल का स्तर उच्च है, जबकि इसी उम्र के 23.01 फीसदी में कोलेस्ट्रॉल स्तर बढ़त पर है।

जान भी ले सकती है विटामिन D की कमी!


Published on Jun 16, 2014 at 09:03 | Updated Jun 16, 2014 at 10:05
0 IBNLive

वाशिंगटन| धूप में रहकर आप अपनी जिंदगी और लंबी कर सकते हैं, क्योंकि जिन लोगों के रक्त में विटामिन डी का स्तर कम होता हैं, उन लोगों में असमय मृत्यु का खतरा अपेक्षाकृत दोगुना होता है। कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, सैन डिएगो के एक प्रोफेसर सेड्रिक गारलैंड ने बताया कि तीन साल पहले अमेरिका की राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी की स्वास्थ्य निकाय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिसिन (आईओएम) ने यह निष्कर्ष निकाला था कि विटामिन डी का बहुत कम स्तर होना खतरनाक है।

गारलैंड ने बताया कि नया अध्ययन उस निष्कर्ष का समर्थन करता है, लेकिन यह उससे एक कदम आगे जाता है। आईओएम के निष्कर्ष में विटमिन डी की कमी का संबंध हड्डियों की बीमारियों से बताया गया था। नए अध्ययन में विटामिन डी की कमी का संबंध न सिर्फ हड्डियों की बीमारियों से बल्कि असमय मृत्यु से भी बताया गया है। अध्ययन में संयुक्त राष्ट्रों सहित 14 देशों के नागरिकों को शामिल किया गया और 5,66,583 प्रतिभागियों के आंकड़े इकट्ठे किए गए।

मोटे लोगों को होती है बार-बार खाने की लत!


Published on Jun 15, 2014 at 15:29
0 IBNLive

लंदन। क्या तुरंत खाना खाने के बावजूद आप खाने को लालायित होने लगते हैं? अगर आपका जवाब हां है तो तुरंत जांच कीजिए कि कहीं आप का वजन ज्यादा तो नहीं है? लक्जमबर्ग के यूनिवर्सिटी ऑफ लक्जमबर्ग में नैदानिक और स्वास्थ्य मनोविज्ञान के प्रोफेसर क्लॉस वोएगेल ने बताया, कि कुछ लोगों को ज्यादा खाने की सहज, मनोवैज्ञानिक आदत हो सकती है।

एक खाद्य संबंधी मनोवैज्ञानिक परीक्षण में महिलाओं में वजन की समस्या औसत से कहीं ज्यादा पाई गई। वोएगेल ने बताया, कि सभी लतें एक जैसी होती हैं, पीड़ित को खाने, जुआं खेलने, धूम्रपान, मादक पदार्थों का सेवन करने से अच्छा महसूस होने की आदत पड़ जाती है।

मांसपेशियों में नई जान फूंकेगा 'लव हॉर्मोन'


Published on Jun 12, 2014 at 09:08
0 IBNLive

न्यूयॉर्क। अपने प्रियजनों को देखने के बाद 'लव हॉर्मोन' केवल आपकी भावनाओं को ही सक्रिय नहीं करता, बल्कि यह पुरानी मांसपेशियों को नए की तरह काम करने में भी सहायता करता है। एक नए शोध के मुताबिक, ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन मातृ पोषण, सामाजिक जुड़ाव, प्रसव और सेक्स ही नहीं, बल्कि मांसपेशियों के स्वास्थ्य, रखरखाव और मरम्मत से भी जुड़ा है।

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, बार्कली के बायोइंजीनियरिंग के एसोसिएट प्रोफेसर और मुख्य अनुसंधानकर्ता इरिना कानबॉय ने कहा, हमारा अनुसंधान एक ऐसे अणु का पता लगाना था, जो बिना कैंसर के खतरे के पुरानी मांसपेशियों और अन्य उत्तकों में स्थायी रूप से नई जान फूंक दे।

........ये मच्छर करेंगे मलेरिया का इलाज!


Published on Jun 10, 2014 at 07:40
0 IBNLive

न्यूयॉर्क| क्या आपने कभी संक्रमित मच्छर के बारे में सुना है? जी हां एक नए अध्ययन के मुताबिक मच्छर भी संक्रमित होते हैं। मजेदार बात तो यह है कि मच्छरों के संक्रमण से मलेरिया का इलाज हो सकता है।

शोधकर्ताओं ने पाया है कि एनोफेलीज मच्छरों की दो जातियां जो इंटरसेक्यूलर बैक्टीरिया युक्त होती हैं, मलेरिया फैलाती हैं। इस संक्रमण को वोल्बाचिया कहते हैं, जो मच्छरों के पैथोजेन संक्रमण को कम करती हैं और मलेरिया फैलाने वाले मच्छरों की संख्या को नियंत्रित करने का सामथ्रय रखती हैं।

कैसे रहें गर्मी में कूल-कूल!


Published on Jun 09, 2014 at 15:38 | Updated Jun 09, 2014 at 16:16
0 IBNLive

नई दिल्ली। पूरे देश में गर्मी अपने शबाब पर है चिलचिलाती धूप और लू के थपेड़ों ने लोगों को जीना मुहाल कर रखा है। गर्मी की वजह से लोग बीमार भी पड़ने लगे हैं। ऐसे में अगर कुछ आसान उपाय अपनाए जाएं तो आप गर्मी से मौसम में भी कूल रह सकते हैं। कैसे रहें गर्मी के इस मौसम में कूल जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें-कैसे रहें गर्मी में कूल

रोज 4 टमाटर खाएं और कैंसर से निजात पाएं


Published on Jun 09, 2014 at 10:00 | Updated Jun 09, 2014 at 12:00
0 IBNLive

न्यूयॉर्क| टमाटर अच्छा नहीं लगता? लेकिन अब आपके पास इसे पसंद करने का कारण है। टमाटर से भरपूर आहार काफी फायदेमंद है और खासकर महिलाओं में किडनी से संबंधित कैंसर के खतरे को कम करता है। एक अध्ययन में यह बताया गया है कि टमाटर या लाइकोपिन से भरपूर सब्जियां या फल किडनी से संबंधित कैंसर के खतरे को कम कर सकती है।

ओहियो के केस वेस्टर्न रिजर्व विश्वविद्यालय की मेडिकल रेजिडेंट वोन जिन हो की लाइव साइंस रिपोर्ट के अनुसार एक अध्ययन में यह सामने आया है कि वैसी महिलाएं जिनकी खुराक में ज्यादा से ज्यादा लाइकोपिन होता है, उनका लाइकोपिन स्तर उनके बराबर है, जो रोज चार टमाटर खाते हैं।

पढ़ें: गर्मी में कैसे करें अपने बालों की देखभाल

  • ibnkhabar.com

Published on Jun 07, 2014 at 07:43 | Updated Jun 09, 2014 at 15:09
0 IBNLive

नई दिल्ली। गर्मी के मौसम में अधिकांश लोग अपनी त्वचा की रक्षा करने के लिए सनस्क्रीन, धूप के चश्मे और टोपियां चुनते हैं, लेकिन हेयरकेयर ब्रांड के आधिकारिक स्टाइलिस्ट मार्कस फ्रांसिस कहते हैं कि गर्मी में अपने बालों की भी देखभाल करनी चाहिए।

गर्मी में आपके बाल कठोर चीजों के संपर्क में आते हैं और उन पर कई दुष्प्रभाव डाल सकते हैं। सूर्य की हानिकारक किरणों, पसीना, नमी और ज्यादा देर तक स्वीमिंग पूल में रहने से आपकी जुल्फों को नुकसान पहुंच सकता है। ट्रेसमे ब्रांड से जुड़े फ्रांसिस ने गर्मी में बालों को स्वस्थ रखने के कुछ सुझाव दिए हैं। यहां उनमें से कुछ ये हैं:

पढ़ें: गर्मियों में कैसे करें पैरों की हिफाजत

  • ibnkhabar.com

Published on Jun 07, 2014 at 07:36
0 IBNLive

नई दिल्ली| सर्दियों में पैरों की हिफाजत करना आसान होता है, लेकिन उन्हें ठीक से धोकर, नारियल तेल लगाकर और कुछ ऐसे ही आसान से अन्य उपायों के जरिए गर्मी में भी आप पैरों को साफ और सुरक्षित रख सकते हैं।

पैर रोजाना धोएं: गर्मी के मौसम में आपको और पैरों को बहुत पसीना आता है। पसीना धूल और मिट्टी को निमंत्रण देता है इसलिए सोने से पहले ठंडे पानी से करीब 15 मिनट तक पैर धुलना सुनिश्चित करें।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का आसान और सबसे बेहतरीन तरीका योग है। इससे शरीर स्वस्थ होता है।
ये तो हम सभी जानते हैं कि दूध से बने उत्पादों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। ये परिणाम 'अप्लाइड फिजियोलॉजी, न्यूट्रीशन एंड मटैबलिजम' जर्नल में प्रकाशित हुआ है।
दुनिया भर में हर साल 10 लाख बच्चे बीमारियों और कारणों की वजह से अपने जीवन का दूसरा दिन तक नहीं देख पाते।
ibnliveibnlive