IBN7IBN7

वजन घटाने के लिए बेस्ट है गर्मी का ये मौसम

  • ibnkhabar.com

Published on Jun 07, 2014 at 07:11 | Updated Jun 09, 2014 at 15:06
0 IBNLive

नई दिल्ली। यदि आप अपने शरीर को सही अनुपात में लाना चाहते हैं और वजन घटाना चाहते हैं तो गर्मियों के दिन इसके लिए एकदम उपयुक्त हैं। इस मौसम में छरहरा होने के लिए आपको डाइटिंग करने की जरूरत नहीं है।

दिल्ली स्थित मैक्स हेल्थकेयर की प्रमुख डाइटीशियन ऋतिका समादार बताती हैं कि इस मौसम में लोगों की खान-पान की आदतें स्वत: ही बदल जाती हैं। सर्दियों की तुलना में गर्मियों में वजन कम करना अधिक आसान है क्योंकि इस मौसम में अधिक व्यायाम किया जा सकता है। इस मौसम में शरीर की कार्य प्रणाली धीमी हो जाने की वजह से आप ज्यादा नहीं खाते हैं। साथ ही आप तरल पदार्थ ज्यादा लेते हैं जो शरीर से अशुद्ध पदार्थों को दूर करते हैं। वजन कम करने का सबसे आधारभूत तरीका यह है कि आप बार-बार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में भोजन लें। अपने भोजन को सुबह के नाश्ते, दोपहर के भोजन, शाम के नाश्ते व रात्रिभोज में बांटें।

गर्मियों में ऐसा होना चाहिए आपका डाइट चार्ट!

  • ibnkhabar.com

Published on Jun 07, 2014 at 07:00 | Updated Jun 09, 2014 at 15:09
0 IBNLive

नई दिल्ली। पूरे उत्तर भारत में सूरज का सितम जारी है। चढ़ता पारा हर हद पार करने पर आमादा है तो भीषण गर्मी में हवाएं धधक रही हैं। ऐसे में सबसे बड़ी चिंता है हेल्थ को लेकर क्योंकि बीमारियां आपको शिकार बनाने के लिए तैयार बैठी हैं। लेकिन खान-पान में कुछ ध्यान रखा जाए तो ये गर्मी ज्यादा नहीं सताएगी।

तलवालकर जिम की डायटीशियन कामना मारवाह के मुताबिक गर्मियों में खाना कम हो जाता है और पानी की जरूरत ज्यादा पड़ती है। तो ऐसे में खाना कम करके पेय और तरल पदार्थ का सेवन ज्यादा मात्रा में करना चाहिए। अगर इसका उल्टा कर दिया जाए तो कोई भी व्यक्ति डिहाइड्रेशन और अपच का शिकार हो सकता है। इससे बचने के लिए हेल्दी खाना खाएं। कंट्रोल्ड डाइट से आप गर्मियों में खुद को फिट रख सकते हैं। अगर आप बाहर कहीं छुट्टियां मनाने जा रहे हैं तो एक दिन आप हेवी और अच्छे खाने को दे सकते हैं लेकिन बाकी का हफ्ता अपने खाने को बैलेंस करके खाएं।

बैठे-बैठे घंटों काम, दे जाएगा बीमारियां तमाम!


Published on Jun 06, 2014 at 12:36 | Updated Jun 06, 2014 at 13:19
0 IBNLive

वॉशिंगटन। ऑफिस में लगातार कई घंटे बैठकर काम करने वाले और घंटों टेलीविजन से चिपके लोगों को गंभीर बीमारियों की चपेट में आने की आशंका सामान्य स्थितियों में रहने वालों की तुलना में 61 प्रतिशत बढ़ जाती है।

वॉशिंगटन पोस्ट और हफपोस्ट में प्रकाशित ताजातरीन शोध के अनुसार लगातार छह घंटे और उससे ज्यादा टाइम तक बैठक काम करने वाले लोगों को कैंसर, मधुमेह, दिल का दौरा, मांसपेशियों और हड्डियों से संबंधित गंभीर बीमारियों की चपेट में आने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ कारोलिया के प्रॉफेसर स्टेवन ब्लेयर ने इस विषय पर अपने 40 साल तक रिसर्च किया है।

दोपहर में ऑपरेशन करवाने से हो सकती है मौत!


Published on Jun 04, 2014 at 09:33 | Updated Jun 04, 2014 at 10:37
0 IBNLive

लंदन| ऑपरेशन के बाद मरीजों की होने वाली मौत के बारे में किए गए एक अध्ययन में कहा गया है कि सप्ताहांत, दोपहर बाद या फरवरी में होने वाले ऑपरेशन के बाद मौत का खतरा सबसे ज्यादा रहता है। 218,758 रोगियों के आंकड़े के विश्लेषण के बाद शोधकर्ताओं ने पाया कि दोपहर में होने वाले ऑपरेशन में अन्य हिस्सों के मुकाबले रोगियों की जान को खतरा 21 प्रतिशत बढ़ जाता है।

सप्ताहांत में होने वाले ऑपरेशन में हफ्ते के अन्य दिनों के मुकाबले मौत का खतरा 22 प्रतिशत अधिक होता है। ऑपरेशन के लिहाज से फरवरी सबसे अधिक खतरनाक पाया गया है। अन्य महीनों के मुकाबले इस महीने में होने वाले ऑपरेशन में 16 प्रतिशत खतरा बढ़ जाता है। इस परिणाम को कई तथ्य प्रभावित करते हैं। जर्मनी के चेरिटे यूनिवर्सिटी बर्लिन के फेलिक्स कोर्क ने कहा कि उदाहरण के लिए दिन के अन्य हिस्सों ओर सप्ताह के दिनों में होने वाली देखरेख का मापदंड कारण हो सकता है।

सावधान! कमरे में तेज रोशनी बढ़ाती है मोटापा


Published on Jun 02, 2014 at 09:30 | Updated Jun 02, 2014 at 14:46
0 IBNLive

लंदन| क्या आपको आपकी बढ़ती वजन की कोई वजह नजर नहीं आ रही तो आपको इस बात का ध्यान रखने की जरूरत है कि आपके शयनकक्ष में तेज रोशनी तो नहीं रहती। एक नए अध्ययन से बात सामने आई है कि सोते वक्त कमरे में बहुत अधिक रोशनी महिलाओं में वजन बढ़ाने की वजह होती है।

लंदन स्थित इंस्टीट्युट आफ कैंसर रिसर्च के प्राध्यापक एंटनी स्वेर्डलॉ ने कहा कि हमें हमारे अध्ययन में रोशनी और मोटापे के बीच के संबंध बेहद पहेलीनुमा नजर आए। इस अध्ययन में 40 साल की 113,000 से अधिक महिलाओं को शामिल किया गया। स्वीरडलॉ ने बताया कि उपापचय की प्रक्रिया शरीर में चक्रिय लय से प्रभावित होती है जो कि सोने, जगने और रोशनी से संबंधित है।

रोज खाएं अंगूर आंखों से बीमारी रहेगी दूर


Published on May 31, 2014 at 12:50
0 IBNLive

कैलिफोर्निया| क्या आप जानते हैं कि अंगूर का सेवन अन्य स्वास्थ्य लाभ देने के अलावा आंखों की सेहत सुधारने में भी काम आ सकता है? यह बात शोध में कही गई है। कहा गया है कि रोजाना अंगूर का सेवन आंख के पर्दे को खराब होने से बचाने और आंखों को स्वस्थ बनाए रखने में भूमिका निभाता है।

फ्लोरिडा स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ मियामी के अग्रणी लेखक एबीगेल हैकम ने कहा कि चूहे पर किए प्रयोग में अंगूर से समृद्ध आहार ने दृष्टिपटल को काम करने में पर्याप्त सुरक्षा दी, जो बहुत रोमांचक है। शोध के नतीजों में दर्शाया गया कि अंगूर-युक्त आहार लेने वाले चूहे की आंख का पर्दा उल्लेखनीय ढंग से सुरक्षित रहा।

महिलाओं को ज्यादा होती डायबिटीज की बीमारी


Published on May 28, 2014 at 11:44 | Updated May 28, 2014 at 13:09
0 IBNLive

मुंबई।मुंबई में अंतर्राष्ट्रीय महिला स्वास्थ्य दिवस के मौके पर कराए गए सर्वेक्षण में भारतीय महिलाओं में हाइपोथायराइडिज्म और मधुमेह बीमारी अधिक पाई गई है।

मैट्रोपोलिस स्वास्थ्य समूह द्वारा कराए गए सर्वेक्षण में कुल 32 हजार 641 महिलाओं के खून के नमूने लिए गए जिसमें 19.84 प्रतिशत महिलाओं में टीएसएच हार्मोन का स्तर अधिक होने के कारण उनमें हाइपोथायराइडिज्म बीमारी होने की संभावना है। इसी तरह 31 हजार 735 महिलाओं के रक्त नमूनों में से कुल 73.58 प्रतिशत महिलाओं में डायबीटिज के लक्षण पाए गए हैं।

क्यों होता है कैंसर, अब हुआ खुलासा


Published on May 27, 2014 at 11:04 | Updated May 27, 2014 at 11:54
0 IBNLive

न्यूयॉर्क। अनुसंधानकर्ताओं ने कैंसर से संबंधित एक बेहद महत्वपूर्ण खोज की है। इस नई खोज के अनुसार, कैंसर की कोशिकाएं आस-पास की कोशिकाओं और दूसरे अंगों तक व्यवस्थित तरीके से संकेतों के सहारे प्रसारित होती हैं। दरअसल, कैंसर के इलाज में सबसे बड़ी चुनौती कैंसर कोशिकाओं को तेजी से अन्य कोशिकाओं एवं आस-पास के अंगों तक फैलने से रोकना है।

शोध पत्रिका 'नेचर ऑफ सेल बायोलॉजी' में प्रकाशित शोध के अनुसार, कैंसर के प्राइमरी ट्यूमर से शरीर के विभिन्न भागों तक फैलने के लिए कैंसर कोशिकाएं सबसे पहले आस-पास के संयोजी उत्तकों पर हमला कर उसे नष्ट करती हैं।

पढ़े: कैसे रहें गर्मी के मौसम में बीमारियों से दूर


Published on May 26, 2014 at 09:13
0 IBNLive

लखनऊ। भीषण गर्मी में संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा बढ़ता जा रहा है। प्रदेश भर में सफाई व्यवस्था को लेकर बुरे हालात हैं और हर जगह से शिकायतें आ रही हैं। कूड़े, गंदगी, पानी आदि का सही निस्तारण नहीं होने से लोगों की मुश्किलें और बढ़ती जा रही हैं। लू के साथ गर्मी ने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। इसके साथ ही संक्रामक रोगों के फैलने का खतरा भी बढ़ गया है। जिला अस्पतालों में उल्टी, हैजा, गेस्ट्रो आदि के मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है।

स्वास्थ्य महकमे को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में व्यवस्थाएं दुरुस्त रखने के निर्देश दिए गए हैं। कई जगह अस्पतालों के संक्रामक सेल को सक्रिय कर दिया गया है। साथ ही दवा का स्टोरेज भी बढ़ा दिया गया है। वहीं, संक्रमण की सूचनाएं भी लगातार ली जा रही है।

जमकर खाएं खाना दूर होगा आपका मोटापा!


Published on May 19, 2014 at 13:36 | Updated May 19, 2014 at 13:42
0 IBNLive

लंदन। लोगों का बढ़ता हुआ वजन धीरे-धीरे एक वैश्विक समस्या बनता जा रहा है और इसे हल करने के लिए वैज्ञानिक लगातार रिसर्च कर रहे हैं। हाल ही में हुए एक नए रिसर्च में वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि सुबह भरपेट नाश्ता और दोपहर का भरपेट भोजन वजन कम करने में सहायक साबित होता है।

कुछ दिन पहले तक कहा जाता था कि दिन में थोड़ा-थोड़ा खाने से वजन कम होता है और खून में शुगर की मात्रा भी नियंत्रित होती है, लेकिन अब वैज्ञानिकों ने इससे ठीक उलट दावा किया है। डायबिटोलॉजी जनरल में प्रकाशित इस शोध में डच शोधकर्ताओं ने कहा है कि कई बार टुकड़ों में खाने से लीवर में कोलेस्ट्राल संग्रह की क्षमता बढ़ जाती है और इससे कमर में चर्बी जमा होने लगती है, जबकि दिन में दो बार भरपेट भोजन करने पर ऐसा नहीं होता।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

अनार में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बढ़ती उम्र में त्वचा को पोषण देता है, झुर्रियों से बचाता है और सेहत की दृष्टि से भी लाभदायक होता है।
जो व्यक्ति सप्ताह में दस से ज्यादा टमाटर खाता है उसे प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 18 प्रतिशत कम रहता है। यह जानकारी एक अनुसंधान में सामने आई है।
दिल की सेहत के लिए की जाने वाली कसरतें हमारे दिमाग के लिए भी लाभकारी हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि स्वास्थ्यवर्धक जीवनशैली धमनियों को लचीला बनाए रखने में मदद करती हैं।
ibnliveibnlive