IBN7IBN7

छात्रों की खोज, सुरक्षित नहीं है गूगल प्ले स्टोर


Published on Jun 20, 2014 at 12:47 | Updated Jun 20, 2014 at 13:44
0 IBNLive

न्यूयॉर्क। एक नए साधन का प्रयोग कर कोलंबिया इंजीनियरिंग के शोधकर्ताओं ने एंड्रॉयड ऐप स्टोर गूगल प्ले में सुरक्षा से जुड़ी एक बेहद गंभीर खामी की खोज की है। उन्होंने पाया कि ऐप डेवलपर अपनी सीक्रेट कुंजी को किसी यूजरनेम और पासवर्ड की तरह ऐप्स कोड के रूप में स्टोर करते हैं।

ऐसे में फेसबुक और आमेजन जैसी सेवाप्रदाताओं से दुर्भावना पूर्वक डाटा चोरी कर कोई भी इसका गलत इस्तेमाल कर सकता है। यह कमजोरी उपयोगकर्ता को प्रभावित कर सकता है, भले ही वह एंड्रॉयड ऐप्स का इस्तेमाल कभी-कभी ही क्यों न करता हो। न्यूयॉर्क के कोलंबिया इंजीनियरिंग के कंप्यूटर साइंस के प्रोफेसर जैसन नी ने कहा कि कोई इस पर ध्यान नहीं देता। गूगल प्ले में क्या है। कोई भी व्यक्ति 1475 रुपये में एक अकाउंट लेता है और मनमाफिक चीजें अपलोड करता है। वहां समग्र स्तर पर क्या है, बहुत ही कम लोगों को ज्ञात है।

अब मिलेगा सिर्फ 1,500 में मोज़िला का स्मार्टफोन

  • ibnlive.com

Published on Jun 13, 2014 at 13:24 | Updated Jun 13, 2014 at 13:40
0 IBNLive

नई दिल्ली। फायरफॉक्स बेव-ब्राउजर निर्माता कंपनी मोज़िला जल्द आपके लिए सबसे सस्ता स्मार्टफोन लेकर आ रहा है जिसकी कीमत सिर्फ 1,500 रुपये है। इसके लिए मोज़िला ने हैंडसैट निर्माता कंपनी स्पाइस और इंटैक्स के साथ साजेदारी की है।

मोज़िला चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर ली गॉन्ग के अनुसार मोज़िला का यह फोन, ‘स्मार्टफोन’ की दुनिया में यह फोन धूम मचा देगा। मोज़िला की यह योजना लोगों के हाथों में वेब की शक्ति डालने के लिए समर्पित है। फ़ायरफ़ॉक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का यह स्मार्टफोन गूगल के एंड्रॉयड और माइक्रोसॉफ्ट के विंडोज प्लेटफॉर्म का उपयोग कर फोन के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगे।

फेसबुक: युवा यूजर्स घटे, पर सबसे लोकप्रिय


Published on Jun 11, 2014 at 17:42
0 IBNLive

नई दिल्ली। देश में प्रमुख सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक का इस्तेमाल करने वालों युवाओ की संख्या में खासी गिरावट दर्ज की गई है, हालांकि यह अब भी सबसे लोकप्रिय सोशल प्लेटफॉर्म बना हुआ है।

टाटा कंसल्टेन्सी सर्विसेज की ओर से 12 से 18 साल के स्कूली छात्रों के बीच कराए गए एक सर्वे के मुताबिक साल 2012 में फेसबुक अकाउंट रखने वाले ऐसे लोगों की तादाद 86 प्रतिशत थी जो अब घट कर 76 प्रतिशत रह गई है। हालांकि फेसबुक अब भी सबसे लोकप्रिय सोशल मीडिया है। ट्विटर गूगल प्लस समेत अन्य इससे काफी पीछे हैं। इस सर्वे के लिए चार प्रमुख मेट्रो शहरों दिल्ली, मुंबई कोलकाता और चेन्नई समेत 14 मुख्य शहरों का इस्तेमाल किया गया था। अन्य शहर थे अहमदाबाद, हैदराबाद, कोयम्बटूर, इंदौर, कोच्चि, लखनऊ, नागपुर और पुणे।

सऊदी में आय का 30 प्रतिशत फोन पर होता खर्च


Published on Jun 11, 2014 at 11:16 | Updated Jun 11, 2014 at 12:53
0 IBNLive

रियाद| सऊदी अरब के लोग अपनी आय का 30 प्रतिशत हिस्सा फोन और इंटरनेट बिलों के भुगतान पर खर्च करते हैं। यह बात उपभोक्ता संरक्षण संघ (सीपीए) ने कही। 'अरब न्यूज' ने सीपीए के प्रमुख नासिर अल-तुवेम के हवाले से बताया कि औसत खपत 30 प्रतिशत है, लेकिन कुछ लोग अपनी आय का 50 से 70 प्रतिशत हिस्सा अपनी संचार सेवाओं पर खर्च करते हैं।

अल तुवेम ने कहा कि सीपीए, खपत की दर और सेवाओं की गुणवत्ता पर नजर रखने के लिए हर तीन महीने में दूरसंचार कंपनियों द्वारा उपलब्ध कराई गई सेवाओं के संबंध में नवीनतम निष्कर्ष प्रकाशित करेगा। आंकड़े दर्शाते हैं कि प्रतिकूल आर्थिक और स्वास्थ्य परिणामों के बावजूद उपभोक्ता फोन कॉल और इंटरनेट सेवाओं पर काफी समय बिताते हैं।

भावुक होकर बड़ी स्क्रीन के स्मार्टफोन लेते हैं लोग


Published on Jun 06, 2014 at 11:23
0 IBNLive

वॉशिंगटन| क्या आप जानते हैं कि लोग बड़ी स्क्रीन वाले स्मार्टफोन रखना क्यों पसंद करते हैं? क्योंकि यह उनकी भावनात्मक जरूरतों को पूरा करता है। भारतीय मूल के एक वैज्ञानिक के नेतृत्व में किए गए शोध में खुलासा हुआ है कि बड़ी स्क्रीन वाले फोन से लोग खुद को भावनात्मक रूप से अपेक्षाकृत अधिक संतुष्ट पाते हैं, क्योंकि वे स्मार्टफोन का उपयोग मनोरंजन के लिए करते हैं साथ ही बातचीत और एक दूसरे से संपर्क के लिए करते हैं।

पेंसिल्वेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी में संचार के प्रॉफेसर और मीडिया प्रभाव शोध प्रयोगशाला के सह निदेशक एस. श्याम सुंदर ने कहा की हमारी खोज यह दर्शाती है कि बड़ी स्क्रीन वाले स्मार्टफोन खरीदने के मामले में भावनात्मक कारण लोगों के निर्णयों को प्रभावित कर सकते हैं।

भीड़ में भी आपको अलग ढूंढ निकालेगा यह एप्प!


Published on Jun 03, 2014 at 07:34 | Updated Jun 03, 2014 at 12:55
0 IBNLive

लंदन| फिल्मों में कई बार आपने देखा होगा कि पुलिस के डर से भागता हुआ अपराधी चकमा देने के लिए लोगों की भीड़ में शामिल हो जाता है और पुलिस की गिरफ्त से बच निकलता है, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। एक सॉफ्टवेयर उसे ढूंढ़ निकालेगा। शोधकर्ताओं ने एक ऐसा सॉफ्टवेयर विकसित किया है, जो भीड़ में भी हर व्यक्ति को अलग से पहचान सकता है।

आईडीट्रैकर नाम का यह सॉफ्टवेयर पशुओं का पीछा करने में सक्षम पाया गया है। अलग-अलग पशुओं की विशेष पहचान जैसे कि आकार, बनावट और पैरों के निशान के माध्यम से यह सॉफ्टवेयर उनकी पहचान करने में सफल साबित हुआ है। स्पेनिश नेशनल रिसर्च काउंसिल (सीएसआईसी) के अल्फोंसो पेरेज एस्क्यूडेरो ने कहा कि बहुत जल्द यह प्रयोग में लाया जाएगा। लंबे समय से चल रहे प्रयास के बाद हमारे द्वारा विकसित की गई यह विधि भीड़ में लोगों की पहचान करने के काम में आएगी।

कलाई में बंधी घड़ी करेगी स्मार्टफोन का काम!


Published on May 24, 2014 at 12:41 | Updated May 24, 2014 at 14:54
0 IBNLive

न्यूयॉर्क| कैसा हो अगर आपकी कलाई में बंधी घड़ी से आप किसी को कॉल कर सकें या कॉल रिसीव कर सकें और बात करने के लिए आपको अपनी कलाई को मुंह के पास ले जाने भर की जरूरत हो। प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में यह अगला बड़ा धमाका कहा जा सकता है। सैमसंग कंपनी एक ऐसी कलाई घड़ी तैयार कर रही है, जो समय बताने के साथ स्मार्ट फोन का भी काम करेगी। यह वॉच-फोन जून या जुलाई महीने में बाजार में उतारी जाएगी।

वाल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार, दक्षिण कोरियाई निर्माता कई दूरसंचार कंपनियों के साथ अपनी स्मार्ट घड़ी को स्मार्ट फोन के रूप में ग्राहकों के बीच पेश करने को लेकर बातचीत कर रहे हैं। यह वाच-फोन सैमसंग के टिजेन स्मार्टवॉच संचालन प्रणाली के माध्यम से काम करेगी। सैमसंग ने इससे पहले गैलेक्सी गियर उपकरण बाजार में उतारा, जिसे आशा के अनुरूप प्रतिक्रिया नहीं मिली। एक रिपोर्ट में कहा गया कि सैमसंग का दूसरी पीढ़ी का गियर 2 उपकरण पहले की अपेक्षा हल्की, पतली और ज्यादा शक्तिशाली है।

देखें: पैनासॉनिक का नया स्मार्टफोन

  • ibnlive.com

Published on May 21, 2014 at 09:48 | Updated May 21, 2014 at 09:57
0 IBNLive

नई दिल्ली। जापानी कंपनी पैनासॉनिक ने अपना नया डुअल सिम हैंडसेट P81 भारत में लॉन्च कर दिया है। ये फोन इस महीने के आखिरी हफ्ते में भारतीय बाजार में आ जाएगा। तस्वीरों में देखें इस फोन की खूबियां।

तस्वीरों में देखें: पैनासॉनिक का नया स्मार्टफोन

मोटोरोला के किफायती ‘मोटो E’ की बाजार में एंट्री


Published on May 13, 2014 at 14:58
0 IBNLive

नई दिल्ली। स्मार्टफोन बाजार में अपनी प्रतिद्वंदी कंपनियों को कड़ी टक्कर देने के इरादे के साथ मोटोरोला ने किफायती नया स्मार्फोन ‘मोटो E’ आज बाजार में पेश किया। ‘मोटो E’ की कीमत 6999 रुपये है।

कंपनी के एशिया प्रशांत क्षेत्र के कॉर्पोरेट वाइस प्रेसिडेंट मैगनस अहलक्विस्ट ने फोन लॉन्च करने के मौके पर बताया कि फिलहाल यह फोन फ्लिपकार्ट डाट काम के जरिए ही बिक्री के लिए उपलब्ध होगा। उन्होंने कहा कि मोटोरोला ने यह फोन ऐसे ग्राहकों को ध्यान में रखकर पेश किया है जो कीमत के प्रति ज्यादा सजग रहते हैं।

स्कैन भी करेगा कंप्यूटर का ये माउस!


Published on Apr 30, 2014 at 22:19
0 IBNLive

तिरुवनंतपुर। कंप्यूटर का एक ऐसा माउस तैयार है जो स्कैन करने का भी काम करेगा। मोबस्कैन ने ऐसी प्रौद्योगिकी तैयार की है जिसकी मदद से स्कैन के साथ ही साथ स्कैन की गई सामग्री का संपादन भी किया जा सकेगा।

इस गैजेट का विकास करने वाले मिशेल बोर्न ने कहा कि मोबस्कैन इसे अधिकृत तौर पर लांच करने जा रहा है। देखने में यह किसी आम कंप्यूटर माउस के जैसा है, लेकिन इसकी तलहटी में कैमरा लगा हुआ है।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

सनस्क्रीन आपकी त्वचा को भले ही अल्ट्रवायलेट किरणों से बचाता हो, लेकिन क्या आप को पता है कि इससे पर्यावरण खतरे में पड़ सकता है।
स्वस्थ रहना है, तो दिन की शुरुआत ठंडे पानी, बादाम और कसरत से करें। दिन भर आप तरोताजा महसूस करेंगे।
अब आपको वजन कम करने के लिये जिम में पसीना बहाने की जरूरत नहीं है। बस ऑफिस जाते वक्त अपने वाहन का उपयोग न कर मेट्रो का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए।
ibnliveibnlive