IBN7IBN7

अब एटीएम से पैसे ही नहीं, दूध भी निकालें


Published on Jan 27, 2014 at 14:24
0 IBNLive

अहमदाबाद। अभी तक एटीएम मशीन से हम लोग सिर्फ पैसे की निकालते हैं, लेकिन अब एटीएम के जरिए आप दूध भी निकाल सकते हैं। अब 24 घंटे आपके लिए दूध मिलेगा। यह कमाल कर दिखाया है अमूल डेयरी ने। अमूल ने ऐसी एटीएम मशीनें तैयार की हैं, जिससे दूध, दही और चॉकलेट के साथ साथ कई किस्म के डेयरी उत्पाद बस एक बटन दबाते ही सामने होंगे।

गुजरात के आणंद शहर में अमूल डेयरी के बाहर पहली एटीएम मशीन लगाई गई है। इस एटीएम के अंदर 10 रुपये का एक नोट डालकर अमूल ताजा दूध का 300 मिली. का एक पैकेट मिलेगा। इस एटीएम में रेफ्रीजेशन सुविधा है और एक बार में 150 पाउच दूध रखा जा सकता है। इन मशीनों को आणंद और खेड़ा शहर में सार्वजनिक स्थलों पर लगाया जाएगा, जहां पर इन तक लोगों की पहुंच आसानी से हो सके।

देखें: नोकिया के नए स्मार्टफोन की खूबियां

  • ibnlive.com

Published on Jan 08, 2014 at 11:04 | Updated Jan 08, 2014 at 12:24
0 IBNLive

नई दिल्ली। नोकिया अपने दो नए स्मार्टफोन लुमिया 1320 और लुमिया 525 भारत में लॉन्च कर दिया हैं। लुमिया 1320 की कीमत 23999 रुपए और लुमिया 525 की कीमत 10399 रुपए रखी गई है। लुमिया 1320, 13 जनवरी से भारतीय बाजारों में बिकने लगेगा।

आईबेरी ने लॉन्च किया सबसे सस्ता टैबलेट


Published on Jan 07, 2014 at 10:57
0 IBNLive

चेन्नई। आईबेरी ने भारत में पहली बार ओक्टा-कोर प्रोसेसर आधारित टैबलेट 'ऑक्सस कोर-एक्स8 3जी' पेश किया है। कंपनी ने कहा कि यह सबसे सस्ता टैबलेट होगा। कंपनी ने अपने बयान में कहा कि इसमें स्विचेबल तीसरी पीढ़ी (3जी) मॉड्यूल प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया गया है, ताकि उपयोगकर्ता कभी भी सिम मोड्यूल चिप को लगा या निकाल सके। इससे ग्राहक जब चाहे इसे एक फोन और जब चाहे एक वाई-फाई टैबलेट का काम ले सकते हैं।

अब मिलेगा 10 से 12 गुना तेज इंटरनेट


Published on Jan 06, 2014 at 10:44 | Updated Jan 06, 2014 at 13:10
0 IBNLive

मुंबई। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो 3जी के मुकाबले 10-12 गुना तेज इंटरनेट देने जा रही है। कंपनी का दावा है कि उसका 4जी इंटरनेट 49 मेगाबिट प्रति सेकेंड की रफ्तार से डेटा को डाउनलिंक करेगा। इतनी स्पीड का मतलब है कि आप किसी भी फिल्म को महज 2 मिनट में डाउनलोड कर सकते है।

वैसे 3जी, 4एमबी प्रति सेकेंड की रफ्तार से डेटा ट्रांसफर करता है। आने वाला वक्त ही बताएगा कि 4जी सेवाओं का देश में क्या भविष्य है, लेकिन अभी तो बुनियादी ढांचे के अभाव के कारण 3जी सर्विस का लाभ ही बहुत सीमित दायरे में लोग ले पा रहे हैं। एक ग्लोबल संगठन जीएसएम के मुताबिक भारत में मोबाइल फोन कनेक्शनों की संख्या तकरीबन 90 करोड़ है और इनमें से सिर्फ एक करोड़ लोग 3जी के ग्राहक हैं।

मोबाइल यूजर्स के लिए 2 दिन ब्लैक आउट डे!


Published on Dec 27, 2013 at 11:14 | Updated Dec 27, 2013 at 11:28
0 IBNLive

लखनऊ। एसएमएस के जरिए नए साल के बधाई संदेश भेजने वाले मोबाइल ग्राहकों को दो दिन सावधानी बरतने की जरूरत है। सरकारी संचार कंपनी बीएसएनएल के साथ ही लगभग सभी निजी संचार कंपनियों ने उपभोक्ताओं को जानकारी दिए बिना ही दो दिन के लिए 'ब्लैक आउट डे' घोषित कर दिया है।

उपभोक्ताओं को यह जानकारी होना जरूरी है कि 31 दिसंबर और पहली जनवरी को एसएमएस व वॉयस काल के सभी प्रकार के टैरिफ निलंबित कर दिए गए हैं। टैरिफ सेवा निलंबित होने के कारण एसएमएस व वॉयस कॉल का पूरा शुल्क (लोकल एसएमएस एक रुपये, नेशनल एसएमएस 1.50 रुपये) कटेगा। नए साल के अवसर पर सभी संचार कंपनियों ने 31 दिसंबर व एक जनवरी को ब्लैक आउट डे घोषित करके एसएमएस व वॉयस कॉल के सभी टैरिफ निलंबित रखने का निर्णय लिया है।

दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने सभी संचार कंपनियों को छूट दे रखी है कि वे साल में पांच दिन ब्लैक आउट डे घोषित कर सस्ते एसएमएस पैक व वॉयस कॉल के टैरिफ निलंबित करके उपभोक्ताओं से पूरा शुल्क ले सकती हैं। ट्राई का हालांकि स्पष्ट निर्देश है कि ब्लैक आउट डे घोषित करने से पहले उपभोक्ताओं को एसएमएस या किसी अन्य माध्यम से इसकी जानकारी देना आवश्यक है।

देखें: HTC डिजायर रेंज के 3 फोन लॉन्च

  • ibnkhabar.com

Published on Dec 11, 2013 at 08:11 | Updated Dec 11, 2013 at 08:12
0 IBNLive

नई दिल्ली। एचटीसी ने डिजायर सीरीज के तीन नए फोन भारत में लॉन्च किए हैं। एचटीसी ने मंगलवार को डिजायर 501, डिजायर 601 और डिजायर 700 स्मार्टफोन को भारतीय बाजार में उतारा है।

गूगल की एंड्रॉयड डिक्शनरी में 'सेक्स', 'कंडोम' बैन

  • ibnlive.com

Published on Dec 10, 2013 at 11:24
0 IBNLive

नई दिल्ली। इंटरनेट पर अश्लीलता रोकने की दिशा में गूगल एक महत्वपूर्ण कदम उठाने जा रहा है। इसके तहत इसके एंड्रॉयड की डिक्शनरी से अश्लील शब्द हटा दिए गए हैं। एंड्रॉयड 4.4 किटकैट वर्जन की डिक्शनरी में ये अश्लील शब्द नहीं होंगे।

इस परिवर्तन के बाद जब गूगल पर इन शब्दों को टाइप किया जाएगा तो एक-दो अक्षर टाइप करने के बाद ही गूगल की ओर से सुझाए गए शब्दों में ये अश्लील शब्द नहीं होंगे। मसलन SE टाइप करने पर गूगल SEX नहीं सुझाएगा क्योंकि गूगल ने इस शब्द को बैन कर दिया है।

जिन शब्दों को बैन किया गया है उनमें बट, सेक्स, कंडोम, मास्टरबेशन, इंटरकोर्स, नेक्ड, न्यूडिटी जैसे शब्द शामिल हैं। इन शब्दों को इनकी पूरी स्पेलिंग लिखने पर तो सर्च किया जा सकेगा लेकिन अधूरी स्पेलिंग लिखने पर गूगल की ओर से इनकी पूरी स्पेलिंग नहीं सुझाई जाएगी।

तस्वीरों में देखें: कार्बन टाइटेनियम X लॉन्च

  • ibnkhabar.com

Published on Dec 07, 2013 at 08:16 | Updated Dec 07, 2013 at 08:17
0 IBNLive

नई दिल्ली। मोबाइल कंपनी कार्बन ने भारत में एक और फोन लॉन्च किया है। नए मोबाइल का नाम कार्बन टाइटेनियम एक्स है। मोबाइल कंपनी कार्बन अब लो बजट फोन के साथ मीडियम बजट के स्मार्टफोन को भी भारतीय बाजार में लाने की कोशिश कर रही है।

नई खूबियों के साथ फेसबुक लाया नया ऑप्शन


Published on Dec 04, 2013 at 11:04 | Updated Dec 04, 2013 at 15:16
0 IBNLive

नई दिल्ली। फेसबुक ने अपने ‘हाइड ऑल’ बटन को ‘अनफॉलो’ बटन से रिप्लेस कर दिया है। ‘अनफॉलो’ बटन से अब आप अपने सेलेक्टेड फ्रेंड की पोस्ट और मैसेज को ब्लॉक कर सकते है। इससे पहले ‘हाइड ऑल’ बटन में यूजर को यह ऑप्शन मिलता था कि वो अपनी फ्रेंड के कंटेंट को ब्लॉक कर सकता है।

इसका मतलब यह हुआ कि आप उसके दोस्त बने रह सकते है, लेकिन उसके फेसबुक अपडेट आपकी फेसबुक की न्यूजफीड में नहीं दिखेंगे। एक ईमेल में फेसबुक ने कहा कि इस बदलाव से लोगों को अपने फेसबुक के न्यूजफीड को देखने में मदद मिलेगी। फेसबुक ने सोमवार को ‘अनफॉलो’ बटन को फेसबुक से जोड़ा।

7 दिसंबर से भारत में मिलेगा रेटिनायुक्त आईपैड


Published on Dec 03, 2013 at 11:04 | Updated Dec 03, 2013 at 11:38
0 IBNLive

नई दिल्ली। इस हफ्ते एप्पल भारत में अपने दो नए टैबलेट मॉडल आईपैड एयर और आईपैड मिनी की बिक्री 7 दिसंबर से शुरू करेगी। 16 जीबी और वाईफाई के साथ आईपैड मिनी की कीमत 28,900 होगी, वहीं आईपैड एयर की कीमत 35,900 होगी।

हालांकि कंपनी ने आईपैड एयर के 32 जीबी, 64 जीबी और 128 जीबी के वर्जन की कीमत की घोषणा नहीं की है। आईपैड एयर में 9.7 इंच की सक्रीन के साथ रेटिना डिस्पले है। आईपैड एयर का वजन 453 ग्राम है। आईपैड एयर इससे पहले के आईपैड के मुकाबले 20% पतला और 28% हल्का है।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive
ibnliveibnlive

हैल्थ

पहले जहां केवल खून के रिश्ते वाला ही अपना अंग दे सकता था, वहीं अब अशोक जैसे रिश्तेदार भी अपना अंग दे सकते हैं।
अगर आपको अक्सर गुस्सा आता है और आप अपने साथी पर बेवजह चीखते-चिल्लाते हैं, तो आपको अपने खून में ग्लूकोज के स्तर की जांच करानी चाहिए।
बच्चों में चिकनपॉक्स की बीमारी तेजी से फैल रही है। इससे रोजाना सिम्स, जिला अस्पताल व निजी चिकित्सा संस्थानों में बीमार बच्चों की लंबी कतार लग रही हैं।
ibnliveibnlive