आप यहाँ हैं » होम » एस्ट्रो

राशिफल:एक नारियल से दूर होगी सभी समस्याएं!

| Jul 05, 2011 at 08:52am

नई दिल्ली। शनिवार के दिन एक जालदार जटा वाला नारियल ले और बहते जल में काले वस्त्र में लपेटकर 100 ग्राम काले तिल,जो,उरद की दाल एक कील के साथ शनिवार को प्रवाहित कर दें। शनि, राहु,केतु जनित या कोई और ऊपरी बाधा होगी तो उतर जाएगी।

मंगलवार को एक नारियल सवा मीटर लाल वस्त्र में लपेटकर अपने ऊपर से साथ बार उतार कर हनुमान जी के चरणों में रख दें। किसी भी प्रकार की बाधा, नज़र दोष,ज्वर होगा उतर जाएगा।

यदि राहु की कोई समस्या है,तनाव बहुत है,क्रोध बहुत आ रहा,काम कुछ बन नहीं रहा तो बुधवार की रात्रि को एक नारियल सर के पास रख कर सोये और अगले दिन वह नारियल गणेश जी के मंदिर में कुछ दक्षिणा के साथ अर्पित कर दें तथा विघ्नहर्ता गणेश स्तोत्र का पाठ करें। सब अमंगल दूर होकर मंगल ही मंगल हो जाएगा।

यदि आर्थिक समस्या से घिर गए है तो लगातार आठ मंगलवार हनुमान जी के मंदिर एक नारियल ले कर जाये उसके सिंदूर से स्वस्तिक बनाये हनुमान जी को अर्पित कर वहां बैठ कर ऋणमोचक मंगल स्तोत्र का पाठ करे शीघ्र ही लाभ होगा।

यदि कुंडली में शनि,मंगल,राहु,केतु शुभ स्थिति में नहीं है या इनकी अशुभ दशा चल रही हो तो शनिवार को एक सुखा मेवे वाला नारियल लाये ऊपर एक छोटा सा मुख बना कर उसके थोडा सा मेवा और चीनी का बुरा (शक्कर)भरकर किसी पीपल के पेड़ के नीचे एक गड्ढा खोद कर उसे दबा दें और वापिस चले आएं।

यदि व्यापार में निरंतर हानि हो और रुकने का नाम न ले तो गुरूवार के दिन एक नारियल ले कर सवा मीटर पीले वस्त्र में लपेटे,एक जोड़ा जनेऊ,सवा पाव पीले मिष्ठान के साथ किसी विष्णु मंदिर में हानि रोकने के प्रार्थना व संकल्प के साथ रख आएं। तत्काल हानि समाप्त हो कर लाभ प्रारंभ हो जाएगा।

यदि धन का संचय नहीं है, परिवार की आर्थिक दशा को लेकर चिंता है तो शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी के मंदिर जाएं माता के चरण में एक जटा वाला नारियल,गुलाब या कमल के पुष्प अथवा माला,एक सवा-सवा मीटर गुलाबी और सफ़ेद वस्त्र, सवा पांव,चावल,दही,सफ़ेद मिष्ठान,एक जोड़ा जनेऊ एक साथ मां को भेट अर्पित कर माता की कपूर व देसी घी से आरती करें या करवाए तथा अपने मन की व्यथा माता के समक्ष कहें,शीघ्र ही आर्थिक पक्ष मजबूत होगा।

यदि आप किसी गंभीर आपत्ति विपत्ति में घिर गए हों और कोई मार्ग न दिखाई दे तो दो नारियल और एक चुनरी,कपूर,अड़हुल के पुष्प की माला लेकर देवी दुर्गा के मंदिर जाएं,एक नारियल चुनरी के साथ मां को अर्पित करें माला से मां का श्रृंगार कराकर मां को कुछ मिष्ठान का भोग अर्पित कर कर्पुर से आरती करें फिर एक बचे हुए नारियल को " हुं फट " के उच्चारण के साथ मां के समक्ष बलि दे अर्थात नारियल तोड़ से। सभी बाधा आपसे दूर होगी।

मेष-वाणी में क्रोध का भाव आपकी मानसिक अस्थिरता को प्रभावित कर सकता है।

क्या करें-शिव अराधना करें।

क्या न करें-तनाव से बचें।

वृषभ-आपके पिता को स्वास्थ्य समस्या आ सकती सकते है।

क्या करें-अपने व परिजनों के स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

क्या न करें-दिनचर्या अनियमित ना करें।

मिथुन-आंखों का विशेष ध्यान रखना आपके लिए लाभकारी रहेगा।

क्या करें-नेत्र परिक्षण करा लें।

क्या न करें-दिमाग पर जोर ना दें।

कर्क-स्वास्थ्य सुख में वृ्द्धि के योग हैं।आर्थिक लाभ होगा।

क्या करें-महा मृतुन्जय मंत्र का जाप करें।

क्या न करें-क्रोध से बचें।

सिंह-मानसिक चिन्ताओं में बढ़ोतरी रहेगी। चिन्तामुक्त रहने के लिए प्राणायाम का सहारा ले सकते हैं।

क्या करें-व्यापार पर ध्यान दें।

क्या न करें-लोभ ना करें।

कन्या-बढ़ते हुए पारिवारिक मतभेद सुख में कमी कर सकते हैं।

क्या करें-स्वयं को कार्य में व्यस्त करें।

क्या न करें-विवाद को बढ़ावा ना दें।

तुला-आपके स्वभाव में नम्रता की कमी रहेगी।

क्या करें-वाणी को सौम्य रखें।

क्या न करें-कटु ना बोलें।

वृश्चिक-दया व मृ्दुता का भाव भी कम होने की संभावनाएं बन रही है।

क्या करें-हनुमद अराधना करें।

क्या न करें-आर्थिक नुकसान को नज़रंदाज़ ना करें।

धनु-कुछ समस्या के बाद आपको इनमें कामयाबी प्राप्त होगी।

क्या करें-लक्ष्मी अराधना फलित होग़ी।

क्या न करें-भाग दौड़ कम करें।

मकर-आपके स्वभाव में क्रोध व तनाव की स्थिति के कारण कुछ मनमुटाव उत्पन्न हो सकते हैं।

क्या करें-खुश रहने का प्रयास करें।

क्या न करें-किसी को कटु ना बोलें।

कुम्भ-प्रेम संबन्धों के लिए विपरीत समय है। संबन्धों में बिखराव आ सकता है।

क्या करें-सोच समझ कर निर्णय लें।

क्या न करें-यात्रा से बचें।

मीन-पिता से अनबन संबन्धों में तनाव को बढा़ सकती है।

क्या करें-वाणी को नियंत्रित रखें।

क्या न करें-पिता का अनादर ना करें।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

Previous Comments

इसे न भूलें