आप यहाँ हैं » होम » देश

7 हजार करोड़ खर्च कर ‘हर हाथ में फोन’ देगी सरकार

| Aug 08, 2012 at 09:47am | Updated Aug 08, 2012 at 10:17am

नई दिल्ली। कांग्रेस ने 2014 चुनावों की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी के तहत देश भर में 60 लाख परिवारों को सरकार मोबाइल देने जा रही है। एक अंग्रेजी अखबार की खबरों के मुताबिक सरकार जल्द गरीबी रेखा नीचे रह रहे परिवारों को मोबाइल फोन देने की योजना बना रही है। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह 15 अगस्त को इस योजना का ऐलान कर सकते हैं। इस योजना में करीब 7000 करोड़ रुपये के खर्च की संभावना है। मोबाइल के साथ साथ 200 मिनट का टॉक टाइम भी मुफ्त दिया जाएगा।

दरअसल यूपीए सरकार इसे अपने दूसरे कार्यकाल के कामयाबी के तौर पर पेश करना चाहती है। इस योजना का नाम है ‘हर हाथ में फोन’, सरकार का ये भी मानना है कि फोन के जरिए गरीबी से सीधा संवाद बनाया जा सकता है। इस योजना की फंडिंग टेलीकॉम मंत्रालय करेगी। सूत्रों के मुताबिक 50 फीसदी रकम सर्विस प्रोवाइडर के खाते से आएगी जो यह सर्विस देगा। सरकार ने पहले ही करीब ढाई लाख पंचायतों को इंटरनेट के जरिए जोड़ने की योजना पर काम कर रही है।

दरअसल, सरकार की परेशानी यह है कि बीते दो तीन सालों में कामयाबी के मोर्चे पर उसके हाथ ज्यादा कुछ नहीं लगा है। भ्रष्टाचार के मुद्दे पर उसे फजीहत का सामना ही करना पड़ा है। उम्मीद की जा रही है कि 15 अगस्त को प्रधानमंत्री इस योजना की घोषणा कर देंगे। लेकिन मानसून सत्र से ठीक पहले इस योजना के सामने आने के बाद तीखी प्रतिक्रिया का दौर भी शुरू हो गया है। कई सेलीब्रिटीज से ट्विटर पर भी गुस्से का इजहार किया है। कहा गया है कि सरकार गरीबों को जब ठीक से भोजन मुहैया नहीं करा पा रही है तो क्या मोबाइल से वह बीपीएल परिवारों को खुश कर पाएगी?

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

Previous Comments

इसे न भूलें