आप यहाँ हैं » होम » खेल

हमें फिक्सिंग की आशंका हो गई थीः अश्विनी

| Aug 09, 2012 at 05:52pm | Updated Aug 09, 2012 at 05:59pm

नई दिल्ली। लंदन ओलंपिक में बैडमिंटन प्रतियोगिता के महिला युगल के नॉकआउट दौर की दहलीज तक पहुंचने के बावजूद बाहर हो गई भारतीय खिलाड़ी अश्विनी पोनप्पा ने आज कहा कि उन्हें और उनकी जोड़ीदार ज्वाला गुट्टा को अपने आखिरी मैच में उतरने से पहले ही आशंका हो गयी थी कि कुछ गलत होने जा रहा है।

अश्विनी ने चीयर फार चैंपियंस सर्वे रिपोर्ट जारी किए जाने के अवसर पर संवाददाताओं से कहा कि बेशक हम पहला मैच नहीं जीत पाए थे लेकिन उसके बाद हमने अच्छी वापसी करते हुए अगले दोनों मैच जीते थे। सिंगापुर के खिलाफ अंतिम मैच में उतरने से पहले हमें यह लगने लगा था कि कुछ गड़बड़ हो चुका है। हमारे ग्रुप में जापान जानबूझकर चीनी ताइपे से हार चुका था जिससे हम पर भी दबाव आ गया था।

उन्होंने ओलंपिक के ग्रुप कार्यक्रम की आलोचना करते हुए कहा कि हमें तो आखिर तक पता नहीं चल पा रहा था कि क्या हुआ। यदि जापान जीत जाता तो हम नाकआउट राउंड में पहुंच जाते। लेकिन जापान ने अगले राउंड में चीनी जोड़ी से बचने के लिए अपना मैच गंवाया ताकि वह नाकआउट राउंड में डेनमार्क से खेल सके।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें