आप यहाँ हैं » होम » क्रिकेट

विराट के पराक्रम ने भारत को संभाला, रैना की भी फिफ्टी

| Sep 01, 2012 at 10:22am | Updated Sep 01, 2012 at 06:45pm

बैंगलोर। युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाज विराट कोहली (नाबाद 93) की पराक्रमी पारी और उनकी कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 46) के साथ अविजित शतकीय साझेदारी के दम पर भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन पांच विकेट पर 283 रन बना लिए हैं।

भारत ने न्यूजीलैंड को सुबह 365 रन पर समेट दिया था लेकिन एक समय उसने अपने पांच विकेट 179 रन पर गंवा दिए थे। ऐसे नाजुक समय में विराट ने कप्तान धोनी के साथ छठे विकेट के लिए 27.3 ओवर में 104 रन की अविजित साझेदारी कर भारत को संकट से उबार लिया।

भारत अभी न्यूजीलैंड के स्कोर से 82 रन पीछे है जबकि उसके पांच विकेट शेष हैं। शतक की दहलीज पर पहुंच चुके विराट 174 गेंदों में 12 चौकों और एक छक्के की मदद से 93 रन बनाकर क्रीज पर हैं जबकि धोनी 70 गेंदों में पांच चौकों और दो छक्कों के सहारे 46 रन बनाकर उनका अच्छा साथ दे रहे हैं।

भारत 80 रन पर चार विकेट गंवाकर संकट में नजर आ रहा था लेकिन विराट ने पहले सुरेश रैना 55 के साथ पांचवें विकेट के लिए 99 रन और फिर कप्तान धोनी के साथ छठे विकेट के लिए अविजित शतकीय साझेदारी कर भारत को संभाल लिया। रैना ने 90 गेंदों की अपनी पारी में नौ चौके और एक छक्का लगाया। न्यूजीलैंड की तरफ से टिम साउदी ने 35 रन पर तीन विकेट और ब्रेसवेल ने 66 रन पर दो विकेट लिए।

इससे पहले वीरेंद्र सहवाग के साथ पारी की शुरुआत करने आए गौतम गम्भीर कुछ खास नहीं कर सके और वह दो रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्हें तेज गेंदबाज टिम साउदी ने बोल्ड किया। जबकि हैदराबाद टेस्ट की पहली पारी में 159 रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा नौ रन बनाकर आउट हुए। उन्हें साउदी ने ट्रेंट बोल्ट के हाथों कैच कराया।

भारत का तीसरा विकेट सहवाग के रूप में गिरा, जिन्हें 43 रन के निजी योग पर डग ब्रेसवेल ने डेनियल फ्लिन के हाथों कैच कराया। सहवाग ने 60 गेंदों पर आठ चौके लगाए। इसके बाद सचिन तेंदुलकर भी 17 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। तेंदुलकर को ब्रेसवेल ने बोल्ड किया। तेंदुलकर ने सहवाग के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 40 रन जोड़े। न्यूजीलैंड की ओर से साउदी और ब्रेसवेल के खाते में दो-दो विकेट गया है।

दूसरे दिन का खेल निर्धारित समय से आधे घंटे पहले यानी सुबह नौ बजे शुरू हुआ, क्योंकि पहले दिन का खेल खराब रोशनी के कारण तय समय से कुछ समय पूर्व ही खत्म करना पड़ा था। कीवी टीम ने पहले दिन के खेल की समाप्ति पर छह विकेट के नुकसान पर 328 रन बनाए थे। कल के नाबाद लौटे बल्लेबाज क्रूगर वान वैक (63) और ब्रेसवेल (30) ने दूसरे दिन के खेल की शुरुआत की।

वैक अपने कल की रन संख्या में आठ रन और जोड़कर 71 रन के निजी योग पर पवेलियन लौट गए। उन्हें तेज गेंदबाज जहीर खान ने सुरेश रैना के हाथों कैच कराया। ब्रेसवेल 79 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 43 रन बनाकर आउट हुए। ब्रेसवेल के टेस्ट करियर का यह उच्च स्कोर है। ब्रेसवेल ने वैक के साथ मिलकर सातवें विकेट के लिए 99 रन जोड़े।

इसके बाद जीतन पटेल कुछ खास नहीं कर सके और वह खाता खोले बगैर उमेश यादव की गेंद पर गम्भीर के हाथों लपके गए। साउदी के रूप में कीवी टीम का अंतिम विकेट गिरा। साउदी को 14 रन के निजी योग पर ओझा ने पगबाधा आउट किया। बोल्ट (2) नाबाद लौटे।

उल्लेखनीय है कि कीवी टीम की ओर से मैच के पहले दिन कप्तान रॉस टेलर 113, मार्टिन गुपटिल 53, डेनियल फ्लिन 33, केन विलियमसन 17 और जेम्स फ्रेंकलिन आठ रन बनाकर आउट हुए थे। ब्रेंडन मैक्लम खाता खोले बगैर पवेलियन लौटे थे।

भारत की ओर से स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने पांच जबकि जहीर खान ने दो विकेट झटके। यादव और रविंचद्रन अश्विन के खाते में एक-एक विकेट गया। भारत ने हैदराबाद में खेला गया श्रृंखला का पहला टेस्ट मैच पारी और 115 रनों से अपने नाम किया था।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें