आप यहाँ हैं » होम » देश

FDI: भारत में घुसने से कतरा रही हैं विदेशी कंपनियां!

| Sep 21, 2012 at 07:19pm | Updated Sep 21, 2012 at 09:44pm

संजय सूरी

नई दिल्ली। खुदरा व्यापार में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के चलते भारत में सरकार विरोध का सामना कर ही रही है लेकिन विदेशी कंपनियां भी अभी भारत में व्यापार बढ़ाने में उत्साहित नहीं दिख रही हैं।

रिलायंस रिटेल लिमिटेड अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी बिज्जू कूरियन के मुताबिक सभी विदेशी कंपनियां नीतियों पर सरकार से स्पष्टीकरण ढ़ूंढ रही हैं। दूसरी बात कोई भी पानी में पहले नहीं उतरना चाहता।

फिलहाल भारत में खुदरा व्यापार में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की अनुमति पर विवाद चल रहा है। लेकिन बाहर इस बात पर बहस हो रही है कि कोई इस वक्त भारत में व्यापार भी खोलना चाहता है।

टेक्नोपार्क के चेयरमेन अरविंद के सिंघल ने यह कहा कि ‘राजनैतिक पार्टियां यह मिथक पाल के बैठी हैं कि सीमा पर विदेशी कंपनियां भारत में व्यापार करने को आतुर बैठी है लेकिन सच्चाई इसके उल्ट है।’ कंपनियों की नजर भारत के राजनैतिक उथल-पुथल और नीतिगत प्रतिबंधों पर है।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें