आप यहाँ हैं » होम » लाइफस्टाइल

कमर दर्द का कारण बनने वाले जीन का पता चला

| Sep 22, 2012 at 04:47pm | Updated Sep 22, 2012 at 04:48pm

लंदन। ब्रिटिश शोधकर्ताओं ने एक ऐसे जीन को खोज निकाला है जो कमर के निचले हिस्से में अक्सर रहने वाले दर्द का कारण बनता है।

ब्रिटेन के किंग्स कॉलेज के शोधकर्ताओं ने एनल्स ऑफ रियूमेटिक डिजीज नामक पत्रिका में प्रकाशित शोध में दावा किया है कि पार्क 02 कहलाने वाला यह जीन उम्र बढ़ने के साथ कमर के निचले हिस्से में रहने वाले दर्द का कारण बनता है।

उम्रदराज लोगों को रीढ की हड्डी के खांचों (वटीब्रा) को थामकर रखने वाली स्पाइनल डिस्क समय के साथ शुष्क पड़ती जाती है और इसकी ऊंचाई में भी कमी आ जाती है। इसकी वजह से वटीब्रा की हड्डी में बढ़ने के कारण से कमर के निचले हिस्से में दर्द रहना शुरु हो जाता है।

शोधकर्ताओं ने अपने इस शोध के लिये विभिन्न लोगों की हड्डियों के एमआरआई स्कैन लिए और उनके आनुवांशिक परिवर्तनों का खाका तैयार किया। शोधकर्ताओं ने पता लगाया कि पार्क 02 जीन रीढ की हड्डी के विकार को बढ़ाने और उसकी गति को प्रभावित करने का काम करता है।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें