आप यहाँ हैं » होम » देश

मेरा साथ देते तो नहीं होती दिल्ली गैंगरेप जैसी घटनाः भंवरी

| Dec 21, 2012 at 02:11pm | Updated Dec 21, 2012 at 03:13pm

नई दिल्ली। राजस्थान की भंवरी देवी ने 20 साल पहले बाल विवाह के खिलाफ आवाज उठाई और बदले में गांव के दबंगों ने उनके साथ गैंगरेप कर डाला। भंवरी पुलिस के पास गई और आरोपियों को सजा हुई। लेकिन ये सभी आरोपी एक साल में ही जमानत पर बाहर आ गए। भंवरी ने उसी वाकये को याद करते हुए कहा कि अगर उस समय बलात्कारियों को सख्त सजा मिलती तो आज दिल्ली गैंगरेप जैसा कांड नहीं होता।

भंवरी देवी का कहना है कि आज भी उन्हें धमकी भरे फोन आते हैं। भंवरी ने कहा कि मैं 20 साल से संघर्ष कर रही हूं। सीबीआई और पुलिस मुझे ही फंसाने की कोशिश करती रहती है। आरोपी तो एक साल की सजा के बाद छूट गए पर मेरे लिए ये उम्रभर की सजा हो गई। मैं अभी भी उन लोगों के खिलाफ संघर्ष कर रही हूं। अगर मुझे उस समय लोग सपोर्ट करते तो दिल्ली जैसी नौबत नहीं आती। अगर उसी वक्त बलात्कारियों के मन में डर बैठ जाता कि ये घिनौना काम है और इसकी सख्त सजा मिलेगी, तो कोई ऐसी करतूत करने की हिम्मत नहीं करता।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें