आप यहाँ हैं » होम » पॉलिटिक्स

मियांदाद को वीजा देना दाऊद को वीजा देना है: शिवसेना

| Jan 03, 2013 at 04:58pm

नई दिल्ला। कांग्रेस नीत यूपीए सरकार में विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कुख्यात अंडरवर्ल्ड डाउन दाऊद इब्राहिम के समधी जावेद मियांदाद को भारतीय वीजा दिये जाने का बचाव किया है। जबकि कांग्रेस पार्टी के भीतर इसका विरोध शुरू हो गया है। दूसरी तरफ शिवसेना ने कहा है कि जावेद मियांदाद को वीजा देना यानी दाऊद इब्राहिम को वीजा दिया जाना है, इसका विरोध पूरे देश को करना चाहिए। जबकि बीजेपी ने जावेद को वीजा दिये जाने पर सुरक्षा एजेंसियों को कठघरे में खड़ा कर दिया है।

विदेश मंत्री खुर्शीद ने मियांदाद को वीजा देने के फैसले का बचाव करते हुए कहा है कि ये फैसला गृह मंत्रालय का है। सुरक्षा एजेंसियों से राय-मश्विरा के बाद ही वीजा देने का फैसला लिया गया। जबकि कांग्रेस के भीतर ही इस मसले पर विरोध के स्वर उठने लगे हैं। जावेद मियांदाद को भारत-पाकिस्तान वनडे मैच देखने के लिए वीजा दिए जाने पर कांग्रेस नेता जगदंबिका पाल ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। जगदंबिका पाल के मुताबिक जावेद मियांदाद मोस्ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्राहिम के समधी हैं और दाऊद के समधी जावेद मियांदाद को भारत का वीजा देना उचित नहीं है।

पहले से ही पाकिस्तानी टीम के दौरे का विरोध कर रही शिवसेना ने कहा है कि मियांदाद को वीजा देना दाऊद को वीजा देना जैसा है। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि इस मुद्दे पर देश के सभी लोगों को एकजुट होकर इसका विरोध करना चाहिए। उन्होंने जावेद मियांदाद को वीजा देने का कड़ा विरोध किया है। उनके मुताबिक मियांदाद को वीजा देना दाऊद को वीजा देने जैसा है।

उधर बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने वीजा के फैसले पर सीधी राय जाहिर करने की जगह सुरक्षा एजेंसियों को कठघरे में खड़ा किया है। नकवी का कहना है कि सुरक्षा एजेंसियों को मालूम होना चाहिए कि कौन भारत आ रहा है। जबकि बीजेपी नेता कीर्ति आजाद ने भी कहा है कि मियांदाद को वीजा देना ठीक नहीं है। मालूम हो कि जावेद मियांदाद 5 जनवरी को भारत आ रहे हैं और वो दिल्ली में भारत-पाकिस्तान के बीच होने वाले तीसरे वनडे को देखेंगे।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

ताजा चुनाव अपडेट पाने के लिए IBNkhabar की मोबाइल एप डाउनलोड करें।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें