आप यहाँ हैं » होम » देश

बोले संघ प्रमुख,'भारत' में कम 'इंडिया' में ज्यादा होते हैं रेप

| Jan 04, 2013 at 11:04am | Updated Jan 04, 2013 at 03:50pm

सिलचर(असम)। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध और बलात्कार जैसे मामलों पर विवादास्पद बयान दिया है। मोहन भागवत ने कहा है कि रेप जैसी घटनाएं गांवों की तुलना में शहरी इलाकों में ज्यादा होती है और इसकी वजह पश्चिमी सभ्यता का असर है। संघ प्रमुख ने कहा है कि रेप भारत में कम और इंडिया में ज्यादा होती है। भागवत के इस बयान पर कांग्रेस सहित कई पार्टियों ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की।

दरअसल असम के सिलचर में एक समारोह में मोहन भागवत ने कहा कि आरएसएस रेप जैसी घटनाओं के खिलाफ सख्त कानून का हिमायती है। भागवत ने कहा कि वो रेप जैसी घटनाओं के गुनहगारों को फांसी की सजा तक के हिमायती हैं। लेकिन उन्होंने कहा कि रेप की घटनाएं गांवों की तुलना में शहरों में ज्यादा हो रही है।

कांग्रेस प्रवक्ता राशिद अल्वी ने मोहन भागवत के इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की। जबकि सीपीएम नेता वृंदा करात ने भागवत के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया। उन्होंने कहा कि इनको सोच बदलने की जरूरत है।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें