आप यहाँ हैं » होम » पॉलिटिक्स

अब पाक अखबार में छपा मोदी पर काटजू का विवादित लेख

| Feb 25, 2013 at 02:46pm | Updated Feb 25, 2013 at 02:55pm

नई दिल्ली। गुजरात के सीएम नरेंद्र मोदी पर प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष और पूर्व न्यायधीश जस्टिस मार्केंडेय काटजू का लेख पाकिस्तान के अखबार में छपने से एक बार फिर राजनीतिक घमासान छिड़ता नजर आ रहा है। काटजू का लेख पाकिस्तानी अखबार ए एक्सप्रेस ट्रिब्यून में छपा है। शीर्षक दिया गया है, मोदी और 2002 का नरसंहार। इस पर बीजेपी ने काटजू पर सवाल उठाते हुए कहा है कि वो पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं।

मोदी पर काटजू का लेख दो हफ्ते पहले ही द हिंदू में छपा था। इसमें काटजू ने गुजरात दंगों पर मोदी की भूमिका पर सवाल उठाए थे। साथ ही उन्होंने लोगों से सोच समझकर पीएम चुनने की अपील की थी। काटजू की टिप्पणी को लेकर खासा घमासान मचा और बीजेपी नेता अरुण जेटली ने काटजू से इस्तीफा देने की मांग की।

अरुण जेटली ने बीजेपी की बेवसाइट पर गैर-कांग्रेसी राज्यों पर काटजू के निशाना साधने के बारे में लिखा था कि ऐसा लगता है कि काटजू रिटायरमेंट के बाद नौकरी देने वालों का धन्यवाद दे रहे हैं। जेटली ने कहा कि चाहे पश्चिम बंगाल, बिहार या गुजरात की गैर-कांग्रेसी सरकार हो, काटजू हमेशा इनके बारे में अंगुली उठाते रहे हैं। जेटली ने कहा कि ये किसी कांग्रेसी नेता से भी ज्यादा कांग्रेसी है।

बीजेपी के इस तीखे हमले के बाद जस्टिस काटजू भी खुलकर मैदान में आ गए। उन्होंने कहा कि जेटली निजी हमले करने में लगे हैं। काटजू यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि तोड़-मरोड़कर तथ्यों को पेश करने वाले अरुण जेटली को राजनीति छोड़ देनी चाहिए। इसे लेकर कांग्रेस-बीजेपी में भी जुबानी जंग हुई। कांग्रेस ने काटजू की टिप्पणी को सही बताया, जबकि बीजेपी ने काटजू पर कांग्रेसी होने का आरोप लगा दिया।

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

ताजा चुनाव अपडेट पाने के लिए IBNkhabar की मोबाइल एप डाउनलोड करें।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें