आप यहाँ हैं » होम » देश

पढ़ें:सरकार के आर्थिक सर्वेक्षण से जुड़ी प्रमुख बातें!

| Feb 27, 2013 at 01:09pm | Updated Feb 27, 2013 at 01:29pm

नई दिल्ली। सरकार ने बुधवार को संसद में प्रस्तुत आर्थिक सर्वेक्षण में कहा कि आगामी कारोबारी साल में देश की विकास दर 6.1 फीसदी से 6.7 फीसदी के बीच रहने का अनुमान है। आगामी कारोबारी साल में आर्थिक सर्वेक्षण में महंगाई दर 6.2 फीसदी से 6.6 फीसदी के बीच रहने का अनुमान जताया गया है।

-वर्ष 2014 में व्यापार घाटा 4.6 फीसदी रह सकता है।

-वित्त वर्ष 2014 में वित्तीय घाटा 4.8 फीसदी रह सकता है।

-वित्त वर्ष 2013 में सर्विस सेक्टर की ग्रोथ 6.6 फीसदी रह सकती है।

-वित्त वर्ष 2014 में आईआईपी ग्रोथ में सुधार की उम्मीद है।

-सेंसेक्स में 105, निफ्टी में 25 अंक की तेजी

-खाद्य सुरक्षा बिल से सब्सिडी बढ़ने का खतरा-आर्थिक सर्वे

-उद्योग और इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में निवेश बढ़ाना बड़ी चुनौती-आर्थिक सर्वे

-व्यापार घाटा कम करने के लिए आयात घटाने की जरूरत है- आर्थिक सर्वे

-वित्त वर्ष 2014 में व्यापार घाटा 4.6 फीसदी रह सकता है।

-वित्त वर्ष 2014 में वित्तीय घाटा 4.8 फीसदी रह सकता है।

-वित्त वर्ष 2013 में सर्विस सेक्टर की ग्रोथ 6.6 फीसदी रह सकती है।

-वित्त वर्ष 2014 में आईआईपी ग्रोथ में सुधार की उम्मीद है।

-सेंसेक्स में 105, निफ्टी में 25 अंक की तेजी

-खाद्य सुरक्षा बिल से सब्सिडी बढ़ने का खतरा-आर्थिक सर्वे

-उद्योग और इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में निवेश बढ़ाना बड़ी चुनौती-आर्थिक सर्वे

-व्यापार घाटा कम करने के लिए आयात घटाने की जरूरत है- आर्थिक सर्वे

-महंगाई दर में गिरावट के चलते ब्याज दरों में कटौती की गुंजाइश रहेगी-आर्थिक सर्वे

-मार्च में महंगाई दर घटकर 6.2-6.6 फीसदी रहने का अनुमान है- आर्थिक सर्वे

-निर्यात में जल्द बढ़ोतरी नहीं-आर्थिक सर्वे

-टैक्स वसूली बजट के लक्ष्य से कम-आर्थिक सर्वे

-इस साल जीडीपी ग्रोथ पांच फीसदी रहने का अनुमान-आर्थिक सर्वे

-मंदी से उबरने की उम्मीद-आर्थिक सर्वे

-सोने का आयात कम करना होगा-आर्थिक सर्वे

-वित्तीय घाटे, चालू घाटे पर लगाम कसने की जरूरत-आर्थिक सर्वे

-महंगाई दर घटेगी, विकास दर बढ़ेगी-आर्थिक सर्वे

-आर्थिक सर्वे पेश होते ही सेंसेक्स में तेजी, निफ्टी भी चढ़ा

-महंगाई दर 7 से साढ़े 7 फीसदी रहने की उम्मीद

-सब्सिडी पर नियंत्रण की जरूरत-आर्थिक सर्वे

दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।

IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!

अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!

इसे न भूलें