IBN7IBN7

आज सांसदों की क्लास लेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

Published on Apr 18, 2015 at 21:36 | Updated Apr 19, 2015 at 08:18
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज बीजेपी सांसदों को सरकारी योजनाओं को लागू कराने के तरीके समझाएंगे। संघ से जुड़ी एक गैर सरकारी संस्था ने बीजेपी सांसदों के लिए एक दिन की कार्यशाला आयोजित की है। संसद भवन में होने वाली इस कार्यशाला में प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह अलग अलग मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

आज संसद भवन में एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पाठशाला लगेगी। बीजेपी के सभी सांसद इसमें शामिल होंगे। पीएम मोदी की इस पाठशाला में गरीबों के कल्याण की योजनाओं को लागू करने में सांसदों की भूमिका पर बात होगी। पीएम मोदी सांसदों की बताएंगे की सरकार की योजनाओं को कैसे आम जनता तक पहुंचाया जा सकता है।

'किसान रैली नहीं, ये राहुल गांधी की री-लॉन्चिंग है'

  • श्रवण शुक्ल
Published on Apr 18, 2015 at 19:07 | Updated Apr 19, 2015 at 07:25
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। दिल्ली के रामलीला मैदान में 19 अप्रैल को होने जा रही किसान-खेत मजदूर रैली पर बीजेपी ने जोरदार हमला बोला है। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कांग्रेस पर हमलावर होते हुए कहा कि कांग्रेस किसानों की आड़ में अपने युवराज की री-लॉन्चिंग कर रही है। ताकि राहुल फिर से राजनीति में इंट्री मार सकें।

सतीश उपाध्याय ने कहा कि दिल्ली के रामलीला मैदान में होने जा रही किसानों की इस रैली से किसानों को कुछ नहीं मिलने वाला, अलबत्ता राहुल गांधी चर्चा जरूर पा जाएंगे। उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि 50 सालों में कुछ नहीं कर पाए लोग अब लड़ने का दिखावा कर रहे हैं। सतीश उपाध्याय ने कहा कि भूमि अधिग्रहण बिल तो मुख्यतः कांग्रेस ही लेकर आई थी, जिसे एनडीए सरकार ने किसानों के अनुकूल बनाया है। कांग्रेस के पास अब राजनीति का कोई बहाना नहीं, तो वे किसानों को लेकर घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं। राहुल गांधी पर जुबानी हमला बोलते हुए सतीश उपाध्याय ने कहा कि छुट्टियां सभी नेता लेते हैं, लेकिन काम निपटाने के बाद। जो राहुल संसद सत्र से छुट्टी लेकर गायब हो गए, वो अब खुद को प्रासंगिक बनाना चाहते हैं, जो होने वाला नहीं है।

राहुल ब्रिगेड का मोदी पर हमला, झूठ बोल रहे PM

Published on Apr 18, 2015 at 16:51 | Updated Apr 18, 2015 at 19:19
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। राहुल गांधी की वापसी के साथ ही जमीन अधिग्रहण बिल को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर हमले तेज कर दिए हैं। इसे लेकर कांग्रेस ने आज एक वेबसाइट जमीनवापसी डॉट कॉम (www.zameenwapsi.com) लॉन्च की है। कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी के आरोपों का जवाब देने के लिए वेबसाइट बनाई गई है।

इसे लेकर बुलाई गई प्रेस कांफ्रेंस में जयराम रमेश ने कहा कि जमीन मुआवजे पर पीएम मोदी झूठ बोल रहे हैं। इस वेबसाइट में सारा सच सामने आ जाएगा। 2013 के कानून में सारे प्रावधान हैं। राज्यों के कानून भी बेवसाइट में हैं। दिग्विजय सिंह ने कहा कि इस वेबसाइट में नए और पुराने दोनों लैंड बिल कानून डाले गए हैं। अगर पीएम और गडकरी लैंड बिल पर बहस की बात करते हैं तो इस पर अध्यादेश क्यों लाया जा रहा है।

'मोदी गलत, 2010 में मनमोहन गए थे कनाडा'

Published on Apr 18, 2015 at 07:36 | Updated Apr 18, 2015 at 07:50
0 IBNKhabar

नई दिल्ली| 42 सालों में कनाडा की यात्रा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री होने के नरेंद्र मोदी के इस दावे पर 'कड़ी आपत्ति' जताते हुए कांग्रेस ने उन्हें 2010 में पूर्व प्रधानमंत्री की वहां की सरकारी यात्रा की याद दिलाई है। कांग्रेस के प्रवक्ता आनंद शर्मा ने उल्लेख किया पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कनाडा के प्रधानमंत्री स्टीफन हार्पर के बुलावे पर जून 2010 में तीन दिनों की सरकारी यात्रा की थी।

शर्मा ने यहां संयुक्त संदेश की प्रति जारी करते हुए संवाददाताओं से कहा कि हार्पर के आमंत्रण पर मनमोहन 2010 में कनाडा गए थे। यह सरकारी यात्रा थी और दोनों ने अपने द्विपक्षीय संपर्को पर एक संयुक्त संदेश जारी किया था। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की यात्रा पर 27 जून 2010 को जारी संयुक्त वक्तव्य में कहा गया है कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कनाडा के प्रधानमंत्री स्टीफन हार्पर के आमंत्रण पर कनाडा का दौरा किया। अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने जी20 टोरंटो शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया और प्रधानमंत्री स्टीफन हार्पर के साथ द्विपक्षीय चर्चा की।

किसान रैली में राहुल गांधी दिखाएंगे दमखम!

Published on Apr 17, 2015 at 21:36 | Updated Apr 17, 2015 at 22:18
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व को लेकर हो रही खींचतान के बीच कांग्रेस 19 अप्रैल को दिल्ली के रामलीला मैदान में होने वाली रैली की तैयारियों में भी जुटी है। माना जा रहा है कि अज्ञातवास के बाद लौटे राहुल भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ हो रही इसी रैली में पहली बार बोलेंगे। कांग्रेस जानती है कि अगर रैली सफल होती है तो उसके आगे की लड़ाई के लिए भी जमीन तैयार हो जाएगी।

दिल्ली के रामलीला मैदान में भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ कांग्रेस रैली की तैयारियां जोरों पर हैं। अज्ञातवास से वापस लौटे राहुल गांधी भी सभी पोस्टरों में छाए हुए हैं। दरअसल सत्ता से बाहर होने के बाद कांग्रेस को एक ऐसा मुद्दा हाथ लगा है, जिसमें न सिर्फ मोदी सरकार को घेरने का मौका है बल्कि विपक्षी दल भी कांग्रेस के साथ अब तक एकजुट नजर आ रहे हैं। इसलिए पार्टी का जोर मतभेदों से ध्यान हटाकर इस रैली को कामयाब बनाने में है।

हम राहुल के खिलाफ नहीं खड़े हैं: संदीप दीक्षित

  • सुमित अवस्थी
Published on Apr 17, 2015 at 15:58 | Updated Apr 17, 2015 at 16:18
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने एक बार फिर राहुल गांधी की जगह सोनिया गांधी के ही कांग्रेस की कमान संभाले जाने की जरूरत बताई है। आईबीनए7 के डिप्टी मैनेजिंग एडिटर सुमित अवस्थी से बातचीत में संदीप दीक्षित ने कहा कि विपक्ष को जोड़ने के लिए हमें सोनिया गांधी जैसे अनुभवी नेता की जरूरत है। सोनिया जी को अभी रहना चाहिए। वह 3-4 साल बाद ही नेतृत्व परिवर्तन की सोचें।

संदीप ने एक सवाल के जवाब में कहा कि हम राहुल के खिलाफ नहीं खड़े हैं। मेरा ये आकलन है कि पार्टी बुरे दौर से गुजर रही है। हमें ऐसे सिपहसालार की जरूरत है जो हमें इससे उबारे। सोनिया जी के पास अनुभव है। अगर वो गाइड करती रहेंगी तो बेहतर रहेगा।

कांग्रेस के तीखे बोल का बीजेपी ने ऐसे दिया जवाब

Published on Apr 17, 2015 at 15:53 | Updated Apr 17, 2015 at 15:58
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विदेश दौरे पर दिए गए भाषणों को लेकर उन्हें बीमार मानसिकता का बताया है तो लैंड बिल पर उनके अड़े रहने की तुलना दुर्योधन के हठ से की है। बीजेपी ने कांग्रेस के इन तीखे बोलों पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई है।

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि ये क्लासिकल केस है ‘अंगूर खट्टे हैं’ का। प्रधानमंत्री पूरे देश के होते हैं। जब प्रधानमंत्री विदेश में हैं तब ये कहना कि उनकी मानसिकता बीमार है, विदेश में प्रवक्ता जाकर प्रोपेगेंडा करेगा, ये किस तरह की मानसिकता है?

आजम की बाजपेयी को चिट्ठी, 'अटैची' पर विवाद

Published on Apr 17, 2015 at 15:49 | Updated Apr 17, 2015 at 17:01
0 IBNKhabar

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता एवं कैबिनेट मंत्री आजम खां का विवादों से पुराना रिश्ता है। वह अब पूर्व में दिए गए अपने उपहारों को लेकर सुर्खियों में हैं। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी को लिखी उनकी एक चिट्ठी इस वक्त कौतूहल का विषय बनी हुई है। बाजपेयी को आजम की ओर से लिखा गया यह पत्र शुक्रवार को सार्वजनिक हुआ। इसमें उन्होंने वाजपेयी से पूर्व में दिए गए सारे उपहारों की एक सूची मांगी है।

उल्लेखनीय है कि आजम ने बीते बजट सत्र में सभी विधायकों को तोहफे में एक ब्रीफकेस और एक पत्र भेजा था। इसे प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने पत्र लिखकर वापस कर दिया। इससे खफा आजम ने पत्र लिखकर पूर्व में दिए सारे उपहार भी वापस मांगे हैं।

'मोदी बताएं, तो क्या पहले भारत भीख मांगता था'

Published on Apr 17, 2015 at 14:53 | Updated Apr 17, 2015 at 18:44
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन दिन की विदेश यात्रा पूरी कर भारत रवाना हो चुके हैं लेकिन उनके इस दौरे को लेकर कांग्रेस हमलावर हो गई है। यहां तक कि पार्टी नेता आनंद शर्मा ने मोदी को बीमार मानसिकता का करार दिया है और आगामी दौरे को लेकर उन्हें सीधी चेतावनी तक दे दी है।

आनंद शर्मा ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने विदेश दौरे में ऐसी-ऐसी बातें कही हैं जिसने प्रधानमंत्री पद की गरिमा कम हुई है। उन्होंने कहा कि भारत अब भीख नहीं मांगेगा। तो क्या भारत पहले भीख मांगता था? मोदी जी याद रखें कि वो विदेश में बीजेपी या आरएसएस के नेता के तौर पर नहीं जाते बल्कि प्रधानमंत्री के रूप में जाते हैं। उन्होंने वहां जाकर पहले की सरकारों खासकर यूपीए को बदनाम करने की कोशिश की। उन्होंने देश में तो राजनैतिक संवाद गिराया ही है, देश के बाहर भी जाकर उसे गिराया है।

मसरत गिरफ्तार, टला बीजेपी-PDP का संकट!

Published on Apr 17, 2015 at 13:48 | Updated Apr 17, 2015 at 16:59
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। चौतरफा आलोचना झेल रही जम्मू कश्मीर सरकार ने अलगाववादी नेता मसरत आलम को गिरफ्तार कर ही लिया। मसरत पर नरम रुख बरतने वाले सीएम मुफ्ती मोहम्मद सईद को आखिरकार अपना रवैया बदलना ही पड़ा। लेकिन क्या ये बीजेपी के दबाव में हुआ? बहरहाल, मसरत की गिरफ्तारी से ऐसा लगता है जैसे पीडीपी-बीजेपी गठबंधन सरकार बड़े संकट से बच गई है। पर आगे ऐसा नहीं होगा इसकी क्या गारंटी है?

पिछले महीने मसरत की रिहाई से दोनों पार्टियों के बीच ख़ासा तनाव पैदा हो गया था। इसे लेकर लंबी मीटिंग का दौर चला था। बीजेपी निशाने पर थी और उसे जवाब देते नहीं बन रहा था। तब पीडीपी नेताओं ने यह कहकर संकट टाल दिया था कि मसरत को अदालत के आदेश पर छोड़ा गया है। तब किसी तरह ये विवाद शांत हुआ था।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

ऑटो

क्या आपको फोन गुमाने की आदत है, क्या आप इधर उधर फोन छोड़कर भूल जाते हैं, तो आपके लिए गूगल ने एक नई सर्विस लॉन्च की है जिसका नाम है फाइंड माय फोन।
आज हर कोई एटीएम कार्ड यानि का इस्तेमाल करता है लेकिन कई बार जानकारी के अभाव में वो धोखा खाकर उन्हें नुकसान उठाना पड़ता है।
किसी के लिए साइकिल ट्रांसपोर्ट का जरिया, किसी के लिए फिटनेस तो किसी के लिए खिलौना तो किसी के लिए स्पोर्ट्स। ट्रांसपोर्टेशन के दुनिया में साइकिल एक क्रांतिकारी अविष्कार है।
ibnliveibnlive