IBN7IBN7

बुलडोजर निकलेगा तो मेरे सीने से गुजरना होगा: राहुल

Published on Nov 27, 2014 at 23:30 | Updated Nov 27, 2014 at 23:45
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। आज राहुल गांधी ने दिल्ली के वसंत कुंज के पास रंगपुरी इलाके में गए जहां कल अवैध निर्माण को लेकर कई घरों को तोड़ा गया था। राहुल यहां आक्रामक तेवर में नजर आए और लोगों का साथ देने का वादा किया।

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि गरीबों को सर्दी में घरों से बाहर फेंका जा रहा है। राहुल ने लोगों की लड़ाई में साथ देने का वादा करते हुए कहा कि अब अगर इलाके में कोई बुलडोजर निकलेगा तो उसे मेरे सीने से होकर गुजरना होगा।

बिना सबूतों के, सार्वजनिक नहीं होंगे काले कुबेरों के नामः जेटली

  • ibnkhabar.com
Published on Nov 27, 2014 at 19:59 | Updated Nov 27, 2014 at 22:14
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। काले धन पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज लोकसभा में बयान दिया, लेकिन तस्वीर कल जैसी ही थी। जेटली ने आज फिर सरकार की मजबूरी गिनाते हुए अंतर्राष्ट्रीय संधि का हवाला दिया। जेटली के जवाब से नाखुश कांग्रेस ने सदन से वॉकआउट किया।

जेटली ने कहा कि सरकार काले धन को वापस लाने के लिए गंभीर है और यही वजह है कि पहली कैबिनेट बैठक में काले धन पर एसआईटी बनाने का फैसला लिया गया। जेटली ने कहा कि हमारी सरकार पूरा प्रयास करेगी कि जितने भी दिन लगें, जब तक आखिरी खाते वाले को पकड़ कर नहीं लाएंगे तब तक हम चैन से नहीं बैठेंगे।

शिवसेना को सरकार के साथ लाएंगेः फड़णवीस

Published on Nov 27, 2014 at 18:50 | Updated Nov 27, 2014 at 23:18
0 IBNKhabar

मुंबई। महाराष्ट्र की राजनीति में बीजेपी और शिवसेना के फिर साथ आने के संकेत दिख रहे हैं। मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने शिवसेना की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाते हुए कहा है कि वो शिवसेना को सरकार में शामिल करना चाहते हैं। शुक्रवार से बीजेपी के नेता आधिकारिक रूप से शिवसेना के साथ बातचीत शुरू कर देंगे। बीजेपी के इस कदम के पीछे शरद पवार के मध्यावधि चुनाव की आशंका वाला बयान भी माना जा रहा है। बीजेपी के हाथों लगातार अपमान का घूंट पी रही शिवसेना पहली बार अपनी शर्तों पर सरकार में शामिल होने की स्थिति में आ गई है।

मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने ऐलान किया कि बीजेपी के दो बड़े नेता धर्मेंद्र प्रधान और चंद्रकांत पाटिल शुक्रवार से शिवसेना के साथ बातचीत शुरू करने वाले हैं। बीजेपी ने साफ कर दिया है कि राज्य में स्थिर सरकार देने के लिए शिवसेना को साथ लेकर चला जाएगा। शिवसेना को सरकार का हिस्सा बनाने को लेकर बीजेपी कितनी गंभीर है इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि खुद देवेंद्र फड़णवीस ने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से इस सिलसिले में बातचीत की।

कोलकाता में शाह की रैली को नहीं मिली इजाजत

Published on Nov 27, 2014 at 18:43 | Updated Nov 27, 2014 at 19:24
0 IBNKhabar

कोलकाता। 30 नवंबर को कोलकाता में होने वाली अमित शाह की रैली पर ममता सरकार और भाजपा के बीच रार बरकरार है। रैली के लिए कोलकाता नगर निगम ने अनुमति देने से मना कर दिया है। अब भाजपा एक बार फिर शुक्रवार को हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी।

भाजपा 30 नवंबर को राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रैली कोलकाता के विक्टोरिया हाउस के पास करना चाहती है लेकिन नगर निगम ने यह कहकर अनुमति नहीं दी है कि वहां बड़ी रैली के लिए पर्याप्त जगह नहीं है। साथ ही कई शर्तें भी रखी हैं जिसका पालन करना बीजेपी के लिए इतनी जल्दी मुश्किल होगा। ऐसे में बीजेपी शुक्रवार को हाईकोर्ट में एक बार फिर इस मामले को लेकर जाएगी।

चुनावी चौपाल: बाबूलाल मरांडी से खास बात

  • शलभ मणि त्रिपाठी
Published on Nov 27, 2014 at 18:16
0 IBNKhabar

रांची। झारखंड में चुनावी घसामान छिड़ा हुआ है। पहले दौर के मतदान के बाद तमाम पार्टियों ने मतदाताओं को लुभाने के लिए पूरा जोर लगा दिया है। बीजेपी, कांग्रेस और क्षेत्रीय पार्टियों के अलावा झारखंड विकास मोर्चा भी मैदान में है। झारखंड के पहले मुख्यमंत्री और पार्टी सुप्रीमो बाबू लाल मरांडी से संवाददाता शलभमणि त्रिपाठी ने बात की। देखें वीडियो।

झूठे वादों से BJP ने हासिल की सत्ता: नीतीश

Published on Nov 27, 2014 at 18:05 | Updated Nov 27, 2014 at 18:10
0 IBNKhabar

भभुआ। सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र की भारतीय जनता पार्टी पर करारा प्रहार करते हुए आज कहा कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान झूठे प्रचार के दम पर भाजपा ने सत्ता हासिल की है।

नीतीश कुमार ने अपने संपर्क यात्रा के क्रम में कैमूर जिले के भभुआ में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि समूचे चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा के नेताओं ने लोगों से झूठे वादे किए और मनमोहक सपने दिखाए जिसकी वजह से बिहार के साथ देश की जनता गुमराह हो गई। उन्होंने कहा है कि केंद्र में कांग्रेस नीत संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के दस साल के शासन से लोगों की नाराजगी को बड़ा हथियार बनाते हुए भाजपा ने जबर्दस्त प्रचार को माध्यम बनाया और केंद्र की सत्ता तक पहुंच गए।

चुनावी चौपाल: कुलगाम का क्या है मिजाज?

Published on Nov 27, 2014 at 17:54 | Updated Nov 27, 2014 at 18:31
0 IBNKhabar

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में पहले चरण का चुनाव शांति से संपन्न हो गया और इस दौरान भारी मतदान से जनता ने सभी अंदेशों को खत्म कर दिया। अब दूसरे चरण का मतदान 2 दिसंबर को होगा। दूसरे चरण में किसका पलड़ा भारी रहेगा, कश्मीर के कुलगाम जिले में मतदाताओं के मिजाज से इसे समझा जा सकता है।

कुलगाम जिले में चार विधानसभा सीटों पर क्या है जनता का मिजाज, ये जानने के लिए IBN7 की लगी चुनावी चौपाल। कुलगाम विधानसभा सीट से तीन बार चुने गए सीपीआईएम नेता मोहम्मद यूसुफ तारीगामी भी इस चुनावी चौपाल में मौजूद थे। देखें वीडियो।

उमर ने की मोदी की तारीफ, क्या है राज?

Published on Nov 27, 2014 at 17:49 | Updated Nov 27, 2014 at 18:22
0 IBNKhabar

श्रीनगर। राजनीति में ना तो कोई किसी का दोस्त होता हैं और ना ही दुश्मन। जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के सियासी बोल से कुछ ऐसा ही नजर आ रहा है। उमर अब्दुल्ला ने कल पीएम नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की। कोई नेता किसी भी विरोधी नेता की तारीफ बिना मक़सद राजनीति में नहीं करता। और वह भी तब जब विधानसभा चुनाव के चार चरण बाकी हों। उमर के मोदी वचन के बाद बयानबाजी शुरू हो गई है। लेकिन असल सवाल यही है कि क्या है उमर के मोदी वचन के मायने? देखें वीडियो।

आजम की नसीहत, अपनी हद तय करे मीडिया

Published on Nov 27, 2014 at 17:12
0 IBNKhabar

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के शहरी विकास मंत्री आजम खान ने मीडिया को नसीहत देते हुए कहा कि वो अपनी हद तय करे। आजम ने कहा कि बदायूं कांड को लेकर मीडिया ने जिस तरह गैर जिम्मेदाराना भूमिका निभाई, उससे लोकतंत्र में यकीन रखने वालों को बहुत ठेस पहुंचा है। वहीं आजम ने ये भी कहा कि बदायूं कांड की जांच कर रही सीबीआई की टीम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि दोनों युवतियों ने आत्महत्या की थी। इस खुलासे के बाद अब सच सामने आ गया है।

उनका कहना है कि बदायूं कांड में दो युवतियों के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या कर शवों को पेड़ से लटका दिए जाने की बात कही जा रही थी और मीडिया खासतौर से इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने जिस तरह समाजवादी पार्टी की सरकार को बदनाम किया, वो स्वयं एक इतिहास बना गया है।

सरपंच की मौत के बाद हिंसा, बांदीपुरा में कर्फ्यू

  • ibnkhabar.com
Published on Nov 27, 2014 at 16:19 | Updated Nov 27, 2014 at 16:47
0 IBNKhabar

महराज अहमद

श्रीनगर। उत्तरी कश्मीर के बांदीपुरा जिले के काठीपुरा इलाके में हालात उस समय तनावपूर्ण हो गए जब यहां नेशनल कॉन्फ्रेंस के सरपंच की एक अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। सरपंच अब्दुल रशीद 25 नवंबर को दो राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं के बीच हुए झगड़े में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। सरपंच अब्दुल रशीद की मौत की खबर जैसे ही इलाके में फैली, नेशनल कॉन्फ्रेंस के समर्थक सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करने लगे।





IBN7IBN7