IBN7IBN7

पैर पकड़ लिए नीतीश तो क्या करता: लालू

Published on Aug 20, 2014 at 08:48 | Updated Aug 20, 2014 at 09:53
0 IBNKhabar

पटना। बिहार में करीब 20 वर्षों के बाद करीब आए पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संबंध में राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के ताजा बयान से जनता दल यूनाइटेड के नेता सकते में हैं।

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने भागलपुर में कहा था कि नीतीश कुमार गठबंधन के लिए जब उनका पैर पकड़कर बैठ गए थे तो वह क्या करते, क्या उन्हें उठाकर फेंक देते। इस बयान के बाद जेडीयू कार्यकर्ताओं में भारी नाराजगी है। लेकिन पार्टी के वरिष्ठ नेता इस पर कल खुलकर कुछ भी कहने से बचते रहे। हालांकि नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने लालू यादव को इशारों में ही गठबंधन के नेताओं के बारे में असम्मानजनक बातें नहीं बोलने की नसीहत दी।

कांग्रेस को नहीं मिलेगा विपक्ष के नेता का पद

Published on Aug 19, 2014 at 23:13
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने लोकसभा में विपक्ष के नेता का पद कांग्रेस को देने से इंकार कर दिया है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार सुमित्रा महाजन ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे पत्र में साफ कर दिया है कि लोकसभा में उनकी पार्टी को विपक्ष के नेता का पद देना संभव नहीं है।

लोकसभा में कांग्रेस के 44 सदस्य हैं जबकि सदन में मुख्य विपक्षी दल के रूप में मान्यता प्राप्त करने के लिए कम से कम 55 सदस्य होने जरूरी है। लेकिन लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के सिर्फ 44 सांसद ही चुनकर आ सके।

योजना आयोग के खात्मे की ओर पहला कदम

Published on Aug 19, 2014 at 22:15 | Updated Aug 19, 2014 at 22:22
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। योजना आयोग को खत्म करने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नया संस्थान बनाने के लिए लोगों की राय मांगी है। प्रधानमंत्री ने सुझावों के लिए एक सरकारी वेबसाइट पर खुला मंच बनाने की भी घोषणा की। उधर, कांग्रेस ने कहा है कि योजना आयोग खत्म करने का विचार यूपीए सरकार का है और आयोग के उपाध्यक्ष ने इस बाबत सरकार को बाकायदा प्रस्ताव भी भेजा था।

लाल किले की प्राचीर से की गई प्रधानमंत्री की घोषणा पर इतनी जल्दी कार्रवाई की उम्मीद किसी को ना थी। 15 अगस्त को मोदी ने कहा था कि मौजूदा आर्थिक दिक्कतों को खत्म करने के लिए योजना आयोग की जगह जल्द नया संस्थान बनेगा।

सुषमा स्वराज ने भी किया मीडिया से किनारा

Published on Aug 19, 2014 at 21:31
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। मंत्री बनते ही पांच प्रमुख पड़ोसी देशों का दौरा, दुनिया भर में मौजूद अपने समकक्षों से लगातार बातचीत और महत्वपूर्ण मुद्दों पर संसद के बैठकों में भाग लेने का अवसर शायद ही कभी चूकने वाली मंत्री सुषमा स्वराज मोदी सरकार के अन्य मंत्रियों की तरह ही प्रेस से बातचीत करने बचती हैं। विदेश मंत्रालय और प्रवासी भारतीय मामलों के मंत्रालय का कार्यभार संभाल रहीं सुषमा स्वराज को पहली महिला विदेश मंत्री बनने का गौरव प्राप्त हुआ है।

प्रवासी भारतीय मामलों के मंत्री के रूप में उन्होंने एक ऐसी ऑनलाइन प्रणाली की शुरुआत की, जिसके जरिए दूसरे देशों में निधन के बाद शवों को सुगमता से स्वदेश लाया जा सकता है और इस तरह यहां उनके शोक संतप्त परिजनों को काफी राहत मिल सकती है। पोर्टल की शुरुआत करते हुए उन्होंने कहा था कि प्रवासी भारतीयों की मदद के लिए यह महत्वपूर्ण कदम है। इससे खासकर इमिग्रेशन चेक रिक्वायर्ड देशों में रहने वाले 70 लाख प्रवासी भारतीयों को मदद मिलेगी। यह पोर्टल 17 ईसीआर देशों के लिए शुरू किया गया है।

उमर अब्दुल्ला नहीं लड़ेंगे गांदरबल से चुनाव?

Published on Aug 19, 2014 at 20:32 | Updated Aug 19, 2014 at 20:58
0 IBNKhabar

श्रीनगर। इस बात की केवल औपचारिक घोषणा शेष रह गई है कि मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने विधानसभा का आगामी चुनाव गांदरबल सीट से नहीं लड़ने का फैसला ले लिया है। यदि वे यह कदम उठाते हैं तो एक जमाने में कश्मीर में सबसे मजबूत आधार वाले इस इलाके पर 37 सालों से अब्दुल्ला परिवार के राजनीतिक वर्चस्व का अंत हो जाएगा।

उमर अब्दुल्ला के दादा और नेशनल कान्फ्रेंस के संरक्षक दिवंगत शेख मोहम्मद अब्दुल्ला मुख्यधारा की राजनीति में लौटने के बाद 1977 में अपना पहला चुनाव गांदरबल से ही लड़े थे। 1975 में इंदिरा-अब्दुल्ला समझौते के बाद वे मुख्यधारा की राजनीति में आए। इस समझौते से ही शेख का 24 सालों से नई दिल्ली और नेहरू परिवार से चला आ रहा दुराव खत्म हुआ था। राज्य के प्रधानमंत्री पद से शेख की असम्मानजनक विदाई और उसके बाद 1953 में उनकी गिरफ्तारी के बाद यह दूरी पैदा हुई थी।

योजना आयोग के खात्मे के विरोध में कांग्रेस

Published on Aug 19, 2014 at 19:40
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। कांग्रेस ने योजना आयोग को खत्म करने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले की आलोचना करते हुए इसे देश के संघीय ढांचे पर आघात बताया है। कांग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा ने आज यहां एक संवादददाता सम्मेलन में कहा कि लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योजना आयोग को खत्म करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि योजना आयोग के संविधान के अनुसार बनी एक संस्था है और देश के नियोजित विकास में इसका महत्वपूर्ण योगदान रहा है। प्रधानमंत्री को यह निर्णय हड़बड़ी में लेने की बजाय इस पर व्यापक विचार विर्मश करना चाहिए था।

संघीय ढांचे की मजबूती में योजना आयोग की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुए शर्मा ने कहा कि राज्यों के विकास और विकास कार्यक्रमों में आयोग की केंद्रीय भूमिका रहती है। पंचवर्षीय योजनाओं को तैयार करने में उसकी केंद्रीय भूमिका है। योजना आयोग राज्यों और केंद्र के बीच एक कड़ी के रूप में कार्य करता है और विकास योजनओं में राज्यों को साथ लेकर चलता है। उन्होंने कहा कि 12वीं पंचवर्षीय योजना जारी है और योजना आयोग को इस तरह से खत्म करने की घोषणा करना सोचा विचारा निर्णय नहीं है। सरकार के इस कदम से न तो लोकतंत्र को मजबूती मिलेंगी और न ही संघीय ढांचा सुदृढ होगा।

आज भी अलगाववादियों ने की बासित से मुलाकात

Published on Aug 19, 2014 at 19:37 | Updated Aug 19, 2014 at 19:46
0 IBNKhabar

नई दिल्ली। भारत सरकार के ऐतराज के बावजूद कश्मीर के अलगाववादी नेताओं से आज पाकिस्तान हाई कमिश्नर अब्दुल बासित ने मुलाकात की। भारत की तरफ से सचिव स्तर की बातचीत रद्द कर देने के बावजूद पाकिस्तानी रवैये में कोई बदलाव नहीं हुआ। आज अलगाववादी नेता दिल्ली आए और इस मुलाकात के विरोध में प्रदर्शनों का दौर चलता रहा।

हरियाणा में बीजेपी ने बिश्नोई से गठबंधन तोड़ा!

Published on Aug 19, 2014 at 18:22 | Updated Aug 19, 2014 at 18:34
0 IBNKhabar

कैथल। हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी और कुलदीप बिश्नोई की पार्टी हरियाणा जनहित कांग्रेस का गठबंधन टूटना तय हो गया है। कल कुलदीप बिश्नोई ने धमकी दी थी कि अगर मंगलवार को कैथल में पीएम नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में उन्हें नहीं बुलाया गया तो वो समझ लेंगे कि ये गठबंधन टूट चुका है। आज कैथल में पीएम नरेंद्र मोदी का कार्यक्रम तो हुआ लेकिन उसमें बिश्नोई को नहीं बुलाया गया।

कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि भाजपा नेता उनकी पार्टी के नेताओं को तोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। गठबंधन जारी रहने के सवाल पर उन्होंने साफ किया कि बुधवार को पार्टी कार्यसमिति की बैठक होगी जिसमें गठबंधन के विषय पर विचार होगा और कार्यसमिति जो फैसला लेगी, वह हमें मंजूर होगा।

अब मुलायम के घर पहुंचे अमर, अटकलें तेज

Published on Aug 19, 2014 at 18:06 | Updated Aug 19, 2014 at 21:25
0 IBNKhabar

लखनऊ। अमर सिंह के समाजवादी पार्टी में वापसी की चर्चा एक बार फिर तेज हो गई है। अमर सिंह आज लखनऊ में समाजवादी पार्टी मुखिया मुलायम सिंह से मिलने उनके घर पहुंच गए। ये मुलाकात करीब सवा घंटे चली। इस बीच मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से भी उनकी मुलाकात हुई। हालांकि अमर सिंह ने पार्टी में वापसी से जुड़े सवालों पर चुप्पी साधे रखी।

लखनऊ एयरपोर्ट से निकलकर अमर पहले मुलायम सिंह यादव के भाई और कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव के घर पहुंचे। वहां से दोनों साथ निकले और मुलायम सिंह यादव के घर पहुंचे। सवा घंटे तक चली इस मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी वहां पहुंच गए। ऐसे में कयासों का बाजार गर्म होना ही था, लेकिन अमर सिंह खुद मुंह खोलने को तैयार नहीं हुए।

बोले हुड्डा, अब PM के कार्यक्रम में नहीं जाऊंगा

Published on Aug 19, 2014 at 17:08 | Updated Aug 20, 2014 at 08:27
0 IBNKhabar

कैथल। हरियाणा के कैथल में बीजेपी की रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा की जमकर हूटिंग हुई। सभा में जब मुख्यमंत्री हुड्डा बोलने के लिए खड़े हुए तो लोग हाथ हिलाकर बैठने के लिए कहने लगे। लोगों ने हुड्डा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

प्रधानमंत्री मोदी ने जनता से शांत रहने की अपील की, इसके बावजूद लोग हुड्डा की हूटिंग करते रहे। असल में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज हरियाणा के कैथल में नेशनल हाइवे प्रोजेक्ट की आधारशिला रखने गए थे। इस दौरान उन्होंने हरियाणा की जनता को संबोधित किया।





IBN7IBN7
ibnliveibnlive

फिल्म समीक्षा

बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन की फिल्म ‘सिंघम रिटर्न्स’ स्वतत्रंता दिवस पर रिलीज हुई। रोहित सेट्टी की नई फिल्म में एक भी पल शांति का नही है।
मार्वल कॉमिक्स की कम मशहूर टाइटल पर आधारित ‘गार्डियंस ऑफ द गैलेक्सी’ आइरन मैन, थोर और कैप्टन अमेरिका जैसी फिल्मों से बेहद अलग है।
‘द हंड्रेड फुट जर्नी’ डाएरेक्टर लेज़ हेल्स्ट्रॉम द्वारा निर्देशित इस फिल्म में ओम पूरी, कदम फैमली के मुखिया है, जो अपने पांच बच्चों के साथ साऊथ-ऑफ फ्रांस के एक छोटे से गांव में आते हैं।
ibnliveibnlive